News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

भारत का खाकर मुस्‍लिम देशों (Muslims Countries) का डर दिखा रहे दिल्‍ली अल्‍पसंख्‍यक आयोग के अध्‍यक्ष, मचा बवाल

भारत में रहकर, भारत का खाकर मुस्‍लिम देशों की झंडाबरदारी करने वाले दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान की ओर से सोशल मीडिया पर डाले गए विवादित पोस्ट से बवाल खड़ा हो गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 29 Apr 2020, 10:34:44 AM
Zafarul Islam Khan

भारत का खाकर मुस्‍लिम देशों का डर दिखा रहे जफरुल इस्‍लाम खान (Photo Credit: Facebook)

नई दिल्ली:

भारत में रहकर, भारत का खाकर मुस्‍लिम देशों की झंडाबरदारी करने वाले दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान की ओर से सोशल मीडिया पर डाले गए विवादित पोस्ट से बवाल खड़ा हो गया है. तमाम हिंदू संगठनों सहित बीजेपी के कई नेताओं ने जफरुल इस्‍लाम खान के पोस्‍ट को लेकर कार्रवाई करने की बात कही है. पोस्‍ट में जफरुल इस्‍लाम की ओर से कहा गया है कि देश के अंदर मुसलमानों के साथ अत्याचार हो रहा है और अरब के कई देश मुसलमानों के साथ खड़े हैं. खासतौर से उन्होंने कुवैत का जिक्र करते हुए कहा कि वह कुवैत का शुक्रिया अदा करते हैं, जिन्होंने भारत के मुसलमानों के साथ एकजुटता दिखाई है.

यह भी पढ़ें : व्‍हाइट हाउस ने हाल ही में पीएम नरेंद्र मोदी को टि्वटर पर फॉलो किया था, अब कर दिया अनफॉलो

उन्‍होंने यह भी कहा कि भारत में मुसलमानों के साथ कुछ होता है तो अरब के देश चुप नहीं रहेंगे. जफरुल इस्लाम ने भगोड़े जाकिर नायक और ऐसे ही कई लोगों का नाम लेते हुए कहा कि वह भी अरब में एक मुकाम रखते हैं. अगर जरूरत पड़ी तो वह अरब से बातचीत करेंगे. इस सोशल मीडिया पोस्ट के बाद कहीं ना कहीं अब विवाद होना लाजमी है, क्योंकि जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रही है, वहीं ऐसे बयान आने से समाज में तनाव पैदा होगा.

जफरुल इस्‍लाम खान ने अपने पोस्‍ट में लिखा, 'भारतीय मुस्लिमों का साथ देने के लिए धन्यवाद कुवैत. हिंदु 'कट्टरवादियों' ने सोचा कि मुस्लिम और अरब देश बड़े आर्थिक फायदों के लिए भारत में मुसलमानों के 'उत्पीड़न' की परवाह नहीं करेंगे लेकिन कट्टरपंथी ये भूल गए कि भारतीय मुसलमानों ने सदियों से इस्लाम की भलाई के लिए सेवा की है और इसके लिए अरब और मुस्लिम जगत में उनका काफी सम्मान है. इस्लामिक और अरब विज्ञान में, विश्व विरासत में इनका मान विशाल सांस्कृतिक और सांस्कृतिक योगदान के कारण है. शाह वलीउल्ला दहलवी, इक़बाल, अबुल हसन नदवी, वहीदुदीन खान, ज़ाकिर नाइक जैसे नामों को अरब देशों और दुनिया भर के मुस्लिमों के बीच सम्मान से लिया जाता है.'

यह भी पढ़ें : लॉकडाउन के बीच आज खोल गए 11वें ज्योर्तिंलिंग श्री केदारनाथ भगवान के कपाट

जफरूल इस्लाम खान ने अपने पोस्‍ट के माध्‍यम से भारतीय मुसलमानों को गुमराह करने की कोशिश की है. साथ ही हिंदुओं को धमकाया भी. उन्होंने लिखा, "कट्टरपंथियों ! ध्यान रखो, भारतीय मुसलमानों ने अब तक अरब देशों और दुनिया के मुसलमानों से तुम्हारे नफरत फैलाने वाले अभियान, लिंचिंग और दंगों के बारे में शिकायत नहीं की है. जिस दिन उन्हें इसके लिए बाध्य होना पड़ा, उस दिन कट्टरपंथियों को बड़े तूफान (एवलांच) का सामना करना पड़ेगा."

बीजेपी प्रवक्‍ता शाहनवज़ हुसैन ने दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन ज़फरुल इस्लाम के बयान पर कहा, उनके खिलाफ सख़्त कार्रवाई होनी चाहिए.

First Published : 29 Apr 2020, 08:56:59 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.