News Nation Logo
Banner

CCD के मालिक वीजी सिद्धार्थ के लापता होने के बाद सामने आया ड्राइवर का बयान, जानें क्या कहा

शिकायतकर्ता ड्राइवर बसवराज पाटिल द्वारा पुलिस स्टेशन में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार, सिद्धार्थ नेथरवती नदी के पुल पर कार से उतर गए और यह कहकर कि वह थोड़ी देर सैर करना चाहते हैं, उसे पुल के दूसरे छोर पर इंतजार करने के लिए बोलकर चले गए, लेकिन एक घंटे बाद भी नहीं लौटे.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 31 Jul 2019, 07:41:51 AM
CCD founder VG Siddhartha

CCD founder VG Siddhartha

नई दिल्ली:

बेंगलुरू की रिटेल श्रंखला कैफे कॉफी डे (CCD) के संस्थापक वी.जी. सिद्धार्थ कर्नाटक के मंगलुरू के पास से सोमवार शाम से लापता हैं. पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी. बेंगलुरू से लगभग 350 किलोमीटर दूर स्थित तटीय शहर में एक पुलिस अधिकारी ने कहा, 'सिद्धार्थ की गुमशुदगी का मामला उनके ड्राइवर ने मंगलुरू में एक स्थानीय पुलिस स्टेशन में दर्ज कराया था. उनकी या उनके शव की तलाश जारी है.'

वहीं शिकायतकर्ता ड्राइवर बसवराज पाटिल द्वारा पुलिस स्टेशन में दर्ज रिपोर्ट के अनुसार, सिद्धार्थ नेथरवती नदी के पुल पर कार से उतर गए और यह कहकर कि वह थोड़ी देर सैर करना चाहते हैं, उसे पुल के दूसरे छोर पर इंतजार करने के लिए बोलकर चले गए, लेकिन एक घंटे बाद भी नहीं लौटे.

ये भी पढ़ें: Cafe Coffee Day के मालिक वीजी सिद्धार्थ लापता5 लाख से 4000 करोड़ की कंपनी बनाई

वीजी सिद्धार्थ के ड्राइवर ने पुलिस को दिए बयान में बताया, 'मैं पिछले 3 साल से सिद्धार्थ के साथ ड्राइव कर रहा हूं. मैं सुबह 8 बजे उनके बेंगलुरू स्‍थित निवास गया. उसके बाद विट्टल माल्या के दफ्तर और 11 बजे घर लौट गया. 12:30 बजे वीजी सिद्धार्थ ने गाड़ी सकलेशपुर की ओर ड्राइव करने को कहा. फिर उन्होंने मंगलौर की ओर चलने को कहा. जब मैं मुख्य मैंगलोर सर्कल में प्रवेश कर रहा था, तो उन्होंने कहा कि बाईं ओर चलो. हम केरल राजमार्ग पर पहुंचे और 3-4 किलोमीटर आगे मुझे एक पुल पर रुकने को कहा. वहां वे कार से नीचे उतर गए और मुझे पुल के दूसरी तरफ जाने को कहा. रात 8 बजे मैंने उन्‍हें फोन किया, लेकिन संपर्क नहीं हो पाया. फिर मैंने उनके बेटे को फोन कर सारी बात बताई.'

और पढ़ें: CCD Owner Missing Live Updates: वीजी सिद्धार्थ की तलाश में जुटी पुलिस, सामने आई एक चिट्ठी

दूसरी तरफ इस मामले में पुलिस को शक है कि सिद्धार्थ बहती नदी में कूद गए होंगे तभी ड्राइवर को वहां नहीं मिले. बता दें कि सिद्धार्थ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एस.एम. कृष्णा के दामाद हैं.

बताया जा रहा है कि उन्होंने 18 मार्च को 10 रुपये की फेस वैल्यू पर 980 रुपये प्रति शेयर की दर से शहर में सॉफ्टरवेयर कंपनी माइंडट्री लिमिटेड में अपने कुल 20 प्रतिशत शेयर मुंबई की कंपनी लार्सन एंड टॉब्रो (एल एंड टी) को 3,300 करोड़ रुपये में बेच दिए थे.

First Published : 30 Jul 2019, 11:44:25 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो