News Nation Logo
Breaking
पहले बड़े मंगल के मौके पर लखनऊ में बजरंगबली के मंदिरों पर दर्शनार्थियों की भीड़ मैरिटल रेप का मामला SC पहुंचा, याचिकाकर्ता खुशबू सैफी ने दिल्ली HC के फैसले को SC में चुनौती दी मुंबई : कार्तिक चिदंबरम और उनसे जुडे ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी दिल्ली : कुतुबमीनार के कुव्वुतुल इस्लाम मस्जिद मामले की याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई टली मथुरा जिला अदालत में एक और याचिका, शाही ईदगाह मस्जिद को सील करने की मांग दाऊद के करीबी और 1993 मुंबई धमाकों के वॉन्टेड आरोपियों को गुजरात ATS ने पकड़ा हरिद्वार हेट स्पीच मामला : जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ़ वसिम रिज़वी को 3 महीने की अंतरिम जमानत जम्मू : म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में गैर कानूनी लाउडस्पीकर बैन के प्रस्ताव के पारित होने पर हंगामा चिंतन शिविर के बाद हरियाणा कांग्रेस की कोर टीम आज शाम राहुल गांधी से करेगी मुलाकात वाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश नही होगी, तीन दिन का और समय मांगा जाएगा राजस्थान : पुलिस कांस्टेबल भर्ती में 14 मई की द्वितीय पारी की परीक्षा दोबारा ली जाएगी जम्मू कश्मीर : राजौरी इलाके के कई वन क्षेत्रों में भीषण आग, बुझाने में जुटे फायर टेंडर्स
Banner

ओमन चांडी के खिलाफ जांच के लिए सीबीआई की टीम पहुंची विजयन के आवास पर

ओमन चांडी के खिलाफ जांच के लिए सीबीआई की टीम पहुंची विजयन के आवास पर

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 May 2022, 01:50:01 PM
CBI leuth

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

तिरुवनंतपुरम:   सीबीआई के अधिकारी मंगलवार को केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के आधिकारिक आवास पहुंचे। सीबीआई कुख्यात सौर घोटाले में मुख्य आरोपी पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी के खिलाफ यौन उत्पीड़न की शिकायत की जांच करने और सबूत जुटाने के लिए यहां पहुंची है। दरअसल कांग्रेस नेता ओमान चांडी मुख्यमंत्री रहने के दौरान यहीं रहते थे।

चांडी 2011-16 तक अपने परिवार और कर्मचारियों के साथ क्लिफ हाउस में रहते थे।

सीबीआई ने सौर घोटाले में मुख्य आरोपी की शिकायत के आधार पर छह मामले दर्ज किए। पीड़िता ने आरोप लगाया था कि छह नेताओं द्वारा उसका यौन उत्पीड़न किया गया था, जिसमें पांच शीर्ष कांग्रेस नेता शामिल हैं। इनमें चांडी, लोकसभा सदस्य अदूर प्रकाश, एआईसीसी महासचिव (संगठन) हिबी ईडन, राज्यसभा सदस्य के.सी. वेणुगोपाल और पूर्व राज्य मंत्री और कांग्रेस विधायक ए.पी. अनिल कुमार के अलावा राष्ट्रीय भाजपा उपाध्यक्ष ए.पी. अब्दुल्ला कुट्टी का नाम शामिल है।

शिकायतकर्ता की मौजूदगी में टीम घर से सबूत जुटाएगी।

शिकायत में लिखा है कि चांडी के तत्कालीन सुरक्षा अधिकारी ने उन्हें 2012 में क्लिफ हाउस बुलाया था। वहीं चांडी ने उसका यौन शोषण किया।

5 अप्रैल को, जांच दल, पीड़िता के साथ, ईडन के खिलाफ मामले में साक्ष्य संग्रह के हिस्से के रूप में उच्च सुरक्षा वाले केरल विधानसभा क्वार्टर में पहुंचा।

संयोग से, पीड़िता ने विजयन के खिलाफ शिकायत की थी, जिन्होंने इसे सीबीआई को सौंप दिया था।

अप्रैल 2021 के विधानसभा चुनावों से ठीक पहले, विजयन ने याचिका को सीबीआई को भेज दिया, जो जांच करने के लिए सहमत हो गई।

इसके बाद, सीबीआई अब तक मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) अदालत में तीन मामले और सीजेएम कोच्चि अदालत में एक मामला दायर कर चुकी है।

हालांकि, केरल पुलिस की जांच में पाया गया था कि अपराध साबित करने के लिए कुछ भी नहीं है और चांडी ने हमेशा कहा है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया और किसी भी जांच से डरते नहीं हैं और जांच में पूरा सहयोग करेंगे।

2016 में चांडी सरकार को दूसरा कार्यकाल नहीं मिलने का एक मुख्य कारण चांडी के कार्यालय के पीड़िता और कुछ अन्य लोगों से जुड़े घोटाले थे, जिनका वामपंथियों ने अपने चुनाव अभियान में व्यापक रूप से उपयोग किया था।

महिला और उसके तत्कालीन लिव-इन पार्टनर ने कथित तौर पर सौर योजनाओं की बिक्री की और कई लोगों से धन एकत्र किया और उन्हें धोखा दिया। इस बीच, चांडी के कुछ कार्यालय कर्मचारियों के साथ उनके संबंध सामने आए, जो वामपंथियों का सबसे बड़ा अभियान मुद्दा बन गया।

यह एक कारण था कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूडीएफ सरकार, को 2016 में हार का सामना करना पड़ा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 May 2022, 01:50:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.