News Nation Logo
Banner

अनिल देशमुख केस में सीबीआई ने वाझे से फिर की पूछताछ

एजेंसी के अधिकारी वाझे का बयान दर्ज कर रहे हैं, जो कि अभी एनआईए (NIA) की कस्टडी में हैं.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 09 Apr 2021, 03:01:36 PM
Sachin Vaze

सचिन वाझे के जरिये कसेगा अनिल देशमुख पर शिकंजा. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • सीबीआई की सचिन वाझे से पूछताछ है जारी
  • अनिल देशमुख पर कस सकता है शिकंजा
  • वाझे उगल रहा है नित नए खुलासे

मुंबई:

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने शुक्रवार को भी मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाझे (Sachin Vaze) से पूछताछ जारी रखी है. वाझे से यह पूछताछ राज्य के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी के सिलसिले में की जा रही है. जांच से जुड़े सीबीआई के एक सूत्र ने बताया, 'एजेंसी के अधिकारी वाझे का बयान दर्ज कर रहे हैं, जो कि अभी एनआईए (NIA) की कस्टडी में हैं.' इससे पहले सीबीआई की टीम एनआईए कार्यालय पहुंची, जहां वाझे को रखा गया है. वाझे से सीबीआई ने गुरुवार को कई घंटों तक पूछताछ की थी. वाजे के अलावा, सीबीआई ने शहर के पूर्व पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह (Parambir Singh) का भी बयान दर्ज किया है, जिन्होंने 20 मार्च को एक लेटर बम लिखा था. इस पत्र में देशमुख पर संगीन आरोप लगाए गए थे. इसके अनुसार, देशमुख, वाझे और मुंबई पुलिस अधिकारियों को बार, होटल, रेस्तरां से 100 करोड़ रुपये मासिक उगाही करने के लिए कहते थे.

यह भी पढ़ेंः धरना प्रदर्शन के दौरान सड़क नहीं कर सकते जाम, सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

दोनों के अलावा एजेंसी ने एसीपी संजय पाटिल और याचिकाकर्ता जयश्री पाटिल और राजू भुजबल का बयान भी दर्ज किया है. सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे अपने पत्र में संजय पाटिल और भुजबल के नाम का जिक्र भी किया था. सीबीआई ने मंगलवार रात को प्राथमिकी दर्ज की थी. मामले की जांच के लिए मंगलवार और बुधवार को एसपी स्तर के अधिकारियों के नेतृत्व वाली सीबीआई की दो टीमें मुंबई पहुंची थी.

यह भी पढ़ेंः अब CRPF पर टिप्पणी कर फंसी ममता बनर्जी, चुनाव आयोग का एक और नोटिस

बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को सीबीआई को देशमुख के खिलाफ प्रारंभिक जांच करने का निर्देश दिया था. सत्तारूढ़ होने के तुरंत बाद, देशमुख अपने पद से हट गए. सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती देने वाली राज्य सरकार और देशमुख की याचिका को खारिज कर दिया था. रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी के आवास के बाहर विस्फोटक से लदी एसयूवी बरामद होने के मामले में एनआईए ने 13 मार्च को वाझे को गिरफ्तार किया था. बिजनेसमैन मनसुख हिरेन की रहस्यमयी मौत की भी जांच की जा रही है.

First Published : 09 Apr 2021, 02:58:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×