News Nation Logo

तब्‍लीगी मरकज (Tablighi Markaz) के अकाउंट में अचानक बढ़ गया था कैश फ्लो, बैंकों ने जारी किया था अलर्ट

पुलिस को पता चला है कि निजामुद्दीन स्थित तब्‍लीगी जमात के कार्यक्रम से पहले बैंकों ने अलर्ट जारी कर कहा था कि मरकज के अकाउंट में अचानक कैश फ्लो बढ़ गया है. यह पैसे विदेशों से आ रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 16 Apr 2020, 12:57:13 PM
tablighi jammat

तब्‍लीगी मरकज के अकाउंट में अचानक बढ़ गया था कैश फ्लो (Photo Credit: FILE PHOTO)

नई दिल्‍ली:

कोरोना वायरस (Corona Virus) फैलाने के मामले में तब्‍लीगी जमात की जांच कर रही दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच (Delhi Police) को अहम सुराग हाथ लगी हैं. जांच में पुलिस को पता चला है कि निजामुद्दीन स्थित तब्‍लीगी जमात (Tablighi Jammat) के कार्यक्रम से पहले बैंकों ने अलर्ट जारी कर कहा था कि मरकज के अकाउंट में अचानक कैश फ्लो बढ़ गया है. यह पैसे विदेशों से आ रहे हैं. बैंक अफसरों ने जमात के मुखिया मौलाना साद से मुलाकात करने की कोशिश भी की, लेकिन वह नहीं मिला. अब क्राइम ब्रांच ने ऐसे अलर्ट को नजरअंदाज किए जाने पर जमात के अकाउंटेंट्स से जवाब तलब किया है.

यह भी पढ़ें : पुलिस ने मरकज जाकर मौलाना साद का कमरा खंगाला, कब्‍जे में लिए दस्‍तावेज

यह भी खबर है कि क्राइम ब्रांच की एक टीम ने उनके 2 बेटों की मौजूदगी में मरकज़ में मौलाना साद के कमरे की तलाशी ली, जहां से पुलिस को कुछ दस्तावेज़ मिले हैं. पुलिस इस मामले में काफी सबूत जुटा चुकी है लेकिन मौलाना साद कहां है इस बारे में अबतक पता नहीं चल पाया है. तब्लीगी जमात मरकज़ (Tablighi Markaz) मामले में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) अब तक जमात प्रबंधन और दूसरे काम काज संभालने वाले खास 18 लोगो से पूछताछ कर चुकी है, जिनमें मौलाना साद (Maulana Saad) के बेटे और जमात प्रबंधन के खास लोग शामिल हैं. साथ ही इस मामले से जुड़े 28 लोगों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं.

इससे पहले जानकारी मिली थी कि मौलाना साद (Maulana Saad) की कोरोना टेस्‍ट रिपोर्ट (Corona Test Report) निगेटिव पाई गई है, जबकि उसके दो रिश्तेदार कोरोना पीड़ित पाए गए हैं. बताया जा रहा है कि मौलाना साद दिल्ली के ज़ाकिर नगर इलाके में ही है और निजी डॉक्टरों की टीम उनका चेकअप कर रही है. जो दो रिश्तेदार कोरोना पॉजीटिव पाए गए हैं, वे यूपी के सहारनपुर के रहने वाले हैं. दोनों रिश्तेदारों के बारे में कहा जा रहा है कि वे मरकज़ आए थे.

यह भी पढ़ें : कोरोना ने अपनों को किया दूर, सिर्फ 3 मेडिकल स्टाफ की मौजूदगी में मरीज को दफनाया गया

यह खबर आते ही सहारनपुर प्रशासन ने मुफ्ती इलाके को सील कर दिया है. किसी को भी उस इलाके में आने-जाने की इजाज़त नहीं है. वहां भारी संख्‍या में पुलिसबल की तैनाती की गई है.

First Published : 16 Apr 2020, 12:48:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो