News Nation Logo
Banner

दिल्ली में फैले हिंसा पर राहुल गांधी समेत इन नेताओं ने कही ये बात

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट करके कहा कि दिल्ली में आज की हिंसा परेशान करने वाली है. इसकी निंदा की जानी चाहिए.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Feb 2020, 10:43:54 PM
राहुल गांधी

राहुल गांधी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. ये विरोध प्रदर्शन कई जगह हिंसा का रूप अख्तियार कर चुका है. जाफराबाद और मौजपुर में हिंसा की घटना हुई. उपद्रवी बड़ी बेरहमी के साथ आम लोगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं.लोगों के घरों पर पत्थर फेंके गए, आग लगाई गई. यहां तक कि पेट्रोल पंप को भी आग के हवाले कर दिया गया. इस हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई. वहीं कई पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं. छह पुलिसकर्मियों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.

दिल्ली में हो रहे हिंसा पर राजनीतिक प्रतिक्रिया भी सामने आने लगी है. इसी के तहत कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट करके कहा, 'दिल्ली में आज की हिंसा परेशान करने वाली है. इसकी निंदा की जानी चाहिए. शांतिपूर्ण विरोध स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है, लेकिन हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता है. मैं दिल्ली के नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे उकसावे में नहीं आएं और संयम, करुणा और समझ दिखाएं.'

सीताराम येचुरी ने हिंसा के लिए केंद्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार

वहीं, माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) ने सोमवार को दिल्ली में संशोधित नागरिकता अधिनियम को लेकर भड़की हिंसा के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराया और सभी से शांति बनाए रखने की अपील की.

इसे भी पढ़ें:दिल्ली में हिंसा का अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा से संबंध!, जानें क्या है पूरा मामला

येचुरी ने ट्वीट कर कहा, ‘शांति बनाए रखने की अत्यधिक आवश्यकता है. हम सभी से अपील करते हैं कि वे अफवाहों या किसी प्रकार के उकसावे के शिकार न हों. शांति बनाए रखें. हालांकि, यह जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है जिसने बड़े भारतीय समुदाय की शिकायतों को दूर करने का कोई प्रयास नहीं किया.'

केजरीवाल ने हिंसा खत्म करने के लिए केंद्र और एलजी से लगाई गुहार

वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हिंसक प्रदर्शन के बाद केंद्र सरकार से गुहार लगाई. केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति और सद्भाव में गड़बड़ी के बारे में बहुत परेशान करने वाली खबर है. मैं एलजी और केंद्रीय गृहमंत्री से कानून और व्यवस्था को बहाल करने का आग्रह करता हूं.'

और पढ़ें:उत्तर-पूर्वी दिल्ली में CAA को लेकर हिंसा, हेड कांस्टेबल की मौत; ACP-DCP घायल

मनु सिंघवी ने कहा- कपिल मिश्रा को जाने की अनुमति कैसे मिली

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने मौजपुर हिंसा पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग में मध्यस्थता की शुरुआत की. फिर पुलिस भड़काऊ नारा लगाने वाले बीजेपी नेता कपिल मिश्रा को ऐसी जगहों पर जाने की अनुमति कैसे दे सकती है?'

वहीं पुलिस प्रशासन दिल्ली में शांति बनाए रखने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर संयुक्त पुलिस आयुक्त (पूर्वी रेंज) आलोक कुमार ने बताया कि कई क्षेत्रों में पुलिस की तैनाती की गई है. जाफराबाद, सीलमपुर, मौजपुर, गोतमपुरी, भजनपुरा, चांद बाग, मुस्तफाबाद, वजीराबाद, शिव विहार में अशांति फैलने की आशंका है.

First Published : 24 Feb 2020, 07:44:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.