News Nation Logo
Banner

#Budget2021 LIVE: मनीष सिसोदिया बोले- बजट में केंद्र सरकार ने दिल्ली के साथ धोखा किया Live

केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने भी तीसरी बार आम बजट (Union Budget 2021-22) पेश किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 01 Feb 2021, 04:11:05 PM
budget 2021

13 क्षेत्रों में आत्मनिर्भर भारत पर जोर- वित्तमंत्री (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का तीसरा बजट आज पेश कर दिया है. केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने भी तीसरी बार आम बजट (Union Budget 2021-22) पेश किया है. वित्तमंत्री ने हैल्थ सेक्टर, रेलवे, किसानों के लिए बजट में बड़े ऐलान किए है. 75 साल से ऊपर के करदाताओं को भी सरकार ने बड़ी राहत दी है. हालांकि वित्तमंत्री ने इनकम टैक्स (Income Tax) की दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. ऐे में सैलरी क्लास को कोई राहत नहीं मिली है.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अध्यक्ष कमलनाथ ने केंद्र के बजट को निराशाजनक बताया है.

कांग्रेस ने एनडीए सरकार की ओर से असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और केरल के राज्यों को बजट का एक बड़ा हिस्सा देने के लिए आलोचना की.

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने केंद्रीय बजट 2021 की सराहना की है.

केंद्र को बजट पर AAP नेता मनीष सिसोदिया ने कहा कि सरकार ने दिल्ली के साथ धोखा किया है. दिल्ली को सिर्फ 325 करोड़ रुपये दिए हैं.

बजट को लेकर तेजस्वी यादव ने सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा यह बजट देश निर्माण के लिए नहीं था, बल्कि देश बेचने के लिए था. 

केंद्र के बजट को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वागतयोग्य बताया है.

सभी देशवासियों को आत्मनिर्भर भारत के इस बजट के लिए बहुत बहुत शुभकामनाएं- मोदी

देश में कृषि क्षेत्र को मजबूती देने के लिए किसानों की आय बढ़ाने के लिए, बजट में बहुत जोर दिया गया है- मोदी

महिलाओं का जीवन आसान बनाने के लिए बजट में विशेष बल दिया गया है- मोदी

ये बजट भारत के कुछ राज्यों को बिजनेस हाउस बनाने में बड़ा कदम होगा- मोदी

ये बजट देश के हर क्षेत्र में विकास की बात करता है- मोदी

ये बजट नियम और प्रक्रिया को आसान बनाएगा- मोदी

यह बजट लोगों के जीवन में बदलाव लाने वाला है- मोदी

बजट में किसानों की आय को बढ़ाने के लिए जोर दिया गया है- मोदी

बजट में ईज ऑफ डूइंग पर जोर दिया गया है- मोदी

यह जान भी और जहान भी बरकरार रखने वाला बजट है- मोदी

भारत उज्जवल भविष्य के लिए बहुत ठोस कदम रखेगा- मोदी

वर्ष 2021 का बजट असाधारण परिस्थितियों के बीच पेश किया गया है. इसमें यथार्थ का एहसास भी और विकास का विश्वास भी है- मोदी

इस बजट में पूर्वोत्तर भारत, दक्षिण भारत और लेह लद्दाख जैसे राज्यों का ध्यान रखा गया- मोदी

वर्ष 2021 का बजट असाधारण परिस्थितियों के बीच पेश किया गया है, इसमें यथार्थ का अहसास और विकास का विश्वास भी है- मोदी


 

देश के बहुत से विशेषज्ञों ने बजट ट्रांसपेरेंट्स की प्रशंसा की है- मोदी

हमारी सरकार ने बजट ट्रांसपेरेंट्स की ओर निरंतर प्रयास किया- मोदी

ऐसे बजट बहुत कम देखने को मिलते हैं, जिनके एक-दो घंटे में ही सकात्मक प्रभाव सामने आए हैं- मोदी

आज के बजट में आत्मनिर्भरता का विजन, हर नागरिक और वर्ग का समावेश- प्रधानमंत्री

बजट-2021 में क्या महंगा हुआ- विदेशी मोबाइल और चार्जर, कपड़े, प्लास्टिक सामान, खाने के तेल, विदेशी रत्न, ऑटो पार्ट्स

बजट-2021 में क्या सस्ता हुआ- सोना और चांदी, लोहे और स्टील के सामान, तांबे के सामान, सोलर लालटेन.

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बजट पर कहा कि ये सभी सेक्टरों को ध्यान में रखकर बनाया गया है.

केंद्र के बजट पर बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि सरकार वादों को जमीनी हकीकत में लागू करे तो यह बेहतर होगा.

लद्दाख में सेंट्रल यूनिवर्सिटी के प्रस्ताव पर फारूक अब्दुल्ला बोले- केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाते-बनाते जिंदगी गुजर जाएगी.

बजट पर राजनाथ सिंह ने कहा- ये बहुत ही शानदार बजट है, जितनी प्रशंसा की जाए, उतनी कम.

समाजवादी पार्टी ने कहा कि बजट में आंकड़ों की बाजीगरी के अलावा किसानों को देने के लिए कुछ भी ठोस नहीं है. उन्होंने कहा कि बजट में वेतनभोगी वर्गो और बेरोजगार युवाओं को कोई कर राहत नहीं दी गई है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केंद्रीय बजट को समावेशी और 'आत्मनिर्भर भारत' की दिशा में एक बड़ा कदम करार दिया है.

लोजपा के नेता चिराग पासवान ने केंद्र के आम बजट को संतुलित बजट बताया है.

पेट्रोल और डीजल पर कृषि सेस लगाया गया है. पेट्रोल पर 2.50 रुपये और डीजल पर 4 रुपये प्रति लीटर कृषि सेस लगाया गया है.

बजट को लेकर आम आदमी पार्टी ने सरकार पर हमला बोला है. आप ने ट्वीट किया, 'रेल बेच देंगे, सड़क बेच देंगे, एयरपोर्ट बेच देंगे, बिजली बेच देंगे, किसानी बेच देंगे, वेयरहाउस बेच देंगे. लेकिन मित्रों, सौगंध मुझे इस मिट्टी की, मैं देश नहीं बिकने दूंगा!

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण का बजट भाषण खत्म हो गया है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बजट भाषण खत्म हो गया है. 

कॉटन अब महंगी हो जाएगी. सरकार ने कॉटन पर कस्टम ड्यूटी को बढ़ाकर 10 फीसदी की है.

सरकार ने चुनिंदा लेदर को कस्टम ड्यूटी से बाहर कर दिया है. यानी लेदर के सामान सस्ते होंगे.

चुनिंदा ऑटो पार्ट अब महंगे होंगे. सरकार ने इस पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाकर 15 फीसदी की है.

सोना और चांदी सस्ता होगा. सरकार ने सोने-चांदी पर कस्टम ड्यूटी घटा दी है. 

अब स्टील के सामान सस्ते होंगे. सरकार ने स्टील पर कस्टम ड्यूटी घटाकर 7.5 की है.

कॉपर पर भी कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई है. इसे बढ़ाकर 2.5 फीसदी किया गया है.

मोबाइल फोन अब महंगे होंगे. सरकार ने मोबाइल उपकरण पर कस्टम ड्यूटी को बढ़ा 2.5 फीसदी कर दिया है.

GST प्रक्रिया को और आसान बनाने पर काम किया जाएगा- निर्मला

स्टार्टअप निवेश पर कैपिटल गेन छूट 1 साल के लिए बढ़ी

पीएफ देर से जमा करने पर कोई डिडक्शन नहीं होगा. 

आईटीआर भरना और आसान होगा. इससे छोटे ट्रस्ट को बड़ा फायदा होगा. 

अफॉर्डेबल हाउस में टैक्स छूट 2022 तक बढ़ा. 

टैक्स में छूट के लिए जीरो कूपन बॉन्ड लॉन्च होगा.

NIR के लिए टैक्स नियमों में बदलाव होगा. उन्हें ऑडिट में छूट मिलेगी.

डिजिटल लेनदेन करने वालों को छूट मिलेगी- निर्मला

सीनियर सिटिजिन के लिए सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. 75 साल से ऊपर की उम्र के लोग अब आयकर नहीं भरेंगे.

टैक्स सिस्टम में कई सुधार लागू कर रहे हैं. 80 हजार करोड़ रुपये जुटाने के लिए बाजार से मदद- निर्मला

कोरोना के बाद भारत की दुनिया में अहम भूमिका- निर्मला

वित्त वर्ष 2022 में 17 राज्यों को 1.18 लाख करोड़ रुपये की ग्रांट- निर्मला

इस साल वित्तीय घाटा 6.8 फीसदी रहने का अनुमान- निर्मला

फूड कॉर्पोरेशन के लिए NSSF लोन बंद- निर्मला

वित्त वर्ष 2021 में फिस्कल डेफिसिट GDP का 9.5 फीसदी संभव- निर्मला

असम और बंगाल के टी वर्करों के लिए एक हजार करोड़ रुपए आवंटित

साल 2021 में डिजिटल जनगणना होगी. जनगणना के लिए 3,768 करोड़ रुपये आवंटित

दिसंबर 2021 में मानव रहित गगनयान मिशन. 5 देसी अंतरिक्ष वैज्ञानिकों की रूस में ट्रैनिंग- निर्मला

नेशनल रिसर्च फाउंडेशन पर 50 हजार करोड़ रुपये का खर्च- निर्मला

एमएसएमई सेक्टर के लिए 15,700 करोड़ रुपये आवंटित

मजदूरों को ESI के दायरे में लाया जाएगा- निर्मला

पिछले वर्ग के बच्चों के लिए 750 एकलव्य मॉडल स्कूल बनेंगे. 15 हजार सरकारी स्कूलों को बेहतर बनाया जाएगा- निर्मला

उच्च शिक्षा के लिए कमीशन बनेगा. लेह लद्दाख में सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनेगी. 100 से ज्यादा नए सैनिक स्कूल बनेंगे- निर्मला

सरकार ने मार्जिन मनी लोन स्कीम के तहत दरें घटाईं. मार्जिन मनी रिक्वायरमेंट 25 फीसदी से घटाकर 15 फीसदी की गई.

वन नेशन- वन राशन कार्ड की योजना, देशभर में लागू होगी- निर्मला

APMC को एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फंड के दायरे में लाएंगे. देश में 5 नए कृषि हब बनाए जाएंगे. एक हजार के अधिक मंडियों को ऑनलाइन जोड़ा जाएगा.

धान किसानों के लिए 1 लाख 72 हजार करोड़- निर्मला

रूरल इंफ्रास्ट्रक्चर फंड पर 40 हजार करोड़ लिए आवंटित- निर्मला

किसानों के कर्ज के लिए 16.5 लाख करोड़ रुपये- निर्मला

पैडी खरीद के लिए वित्त वर्ष 2021 में 1.7 लाख करोड़ रुपये- निर्मला

वित्त वर्ष 2021 में किसानों को एमएसपी पर 75,100 करोड़ रुपये आवंटित- निर्मला

एमएसपी सिस्टम में बड़ा बदलाव होगा. एमएसपी पहले से डेढ़ गुना ज्यादा- निर्मला

हमारी सरकार किसानों के कल्याण के लिए समर्पित- निर्मला

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2022 के लिए 1.75 लाख करोड़ विनिवेश का लक्ष्य रखा.

विनिवेश के लिए नई सूची बनेगी. डिफेंस और नॉन डिफेंस सेक्टर में विनिवेश होगा- निर्मला

सरकार की अतिरिक्त पड़ी जमीनों को बेचा जाएगा- निर्मला

इस साल LIC का IPO आएगा.

 सरकारी बैंकों को 20000 करोड रुपए की पूंजी उपलब्ध कराई जाएगी- निर्मला

BPCL का विनिवेश अगले वित्त वर्ष में होगा- निर्मला

बीमा कंपनियों पर भारतीयों का ही नियंत्रण होगा. डूबे हुए कर्जों पर मैनेजमेंट कंपनी बनेगी- निर्मला

बैंक खाता धारकों के लिए इंश्योरेंस की रकम को 1 लाख से बढ़ाकर 5 लाख कर दिया गया. बैंकों के बंद होने पर ग्राहकों के नुकसान का भुगतान किया जा सकेगा- निर्मला

बीमा क्षेत्र में FDI 49% से बढ़ाकर 74 फ़ीसदी किया गया- वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

ऊर्जा क्षेत्र में सरकार द्वारा बड़ा सुधार किया जाएगा. हाईड्रोजन एनर्जी मिशन लॉन्च करेंगे- निर्मला

उज्जवला योजना में 1 करोड़ नए कनेक्शन. 3 साल में 100 जिलों में गैस पाइपलाइन. अलग से नई गैस ट्रांसपोर्ट पॉलिसी बनेगी- निर्मला

फाइनेंशियल एयर 2022 में वित्तीय घाटा 6.8 फीसदी- निर्मला

प्रीपेड स्मार्ट मीटर ज्यादा लगेंगे. ग्राहक अब खुद बिजली कंपनी चुन सकता है- निर्मला

नई राष्ट्रीय रेल योजना बनाई जाएगी. मेट्रो लाइट और मेट्रोनियो सेवा शुरू होगी- निर्मला

ईस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर के लिए PPP मॉडल. देश में 2 तरह की मेट्रोल सेवा शुरू होगी- निर्मला

बजट के बीच शेयर बाजार में जोरदार तेजी

रेलवे के लिए 1.10 लाख करोड़ रुपये. 27 शहरों में मेट्रो रेल का निर्माण होगा- निर्मला

ब्राडगेज रेलवे का 2023 तक 100 फीसदी विद्युतीकरण- निर्मला

2030 के लिए रेलवे के लिए नया प्लान. फ्रेट कॉरिडोर पर सरकार का फोकस- निर्मला

रोड ट्रांसपोर्ट्स के लिए 1 लाख 18 हजार करोड़ रुपये. 2022 में 8500 किमी नए हाईवे बनाएंगे- निर्मला

देश में नए इकोनॉमिक कॉरिडोर बनेंगे. एयरपोर्ट के अलग चरण के लिए टेंडर जल्द- निर्मला

3500 किलोमीटर नए नेशनल हाईवे का निर्माण किया जाएगा- निर्मला

पुरानी कारों के लिए नई स्क्रैप पॉलिसी लाएंगे. पहली बार व्हीकल स्क्रैपिंग पॉलिसी बनाई जाएगी- वित्तमंत्री

वायु प्रदूषण से निपटने के लिए 2217 करोड़ रुपये- निर्मला

13 क्षेत्रों में आत्मनिर्भर भारत पर जोर होगा- वित्तमंत्री

शहरों के लिए जल जीवन मिशन लॉन्च होगा. जल जीवन मिशन के लिए 2 लाख 87 हजार करोड़ रुपये- निर्मला

सभी राज्यों का हेल्थ डाटा बेस बनाया जाएगा. पीएम आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना लॉन्च होगी- निर्मला

बजट का फोकस इंस्फ्रास्टर पर होगा. 3 सालों में 7 नए टैक्सटाइल पार्क बनेंगे. किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य- निर्मला

स्वास्थ्य योजनाओं पर 64,180 करोड़ खर्च होंगे, 17 नए हेल्थ इमरजेंसी सेंटर खुलेंगे- निर्मला

पहला पिलर स्वास्थ्य और कल्याण, आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना लॉन्च होगी- निर्मला

नेशनल सेंटर फॉर डिसिज कंट्रोल को और मजबूत करेंगे, नेशनल डिसिज कंट्रोल की 5 शाखाएं बनेंगी- वित्तमंत्री

पब्लिक हेल्थ की जानकारी के लिए वेबसाइट- वित्तमंत्री

बजट 6 पिलरों पर आधारित होगा- निर्मला

सरकार ने आत्मनिर्भर पैकेज जीडीपी का 13 फीसदी दिया- निर्मला

 आर्थिक मंदी के बारे में सोचा नहीं था. आत्मनिर्भर भारत पैकेज से सुधार होगा- निर्मला

80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज, 5 करोड़ लोगों को गैस सब्सिडी- निर्मला

 सरकार ने 5 मिनी बजट जैसे पैकेज दिए- निर्मला

कोरोना वायरस का ग्लोबल इकोनॉमी पर असर पड़ा है- निर्मला

वित्तमंत्री ने कहा कि बहुत मुश्किल हालात में बजट पेश हो रहा है. 

वित्तमंत्री ने बजट भाषण पढ़ना शुरू कर दिया है. 

संसद की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा शुरू किया.

संसद की कार्यवाही शुरू हो गई है. थोड़ी देर में वित्तमंत्री बजट पेश करेंगी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण थोड़ी देर में संसद में आम बजट पेश करेंगी.

संसद में कैबिनेट की बैठक खत्म हुई. बजट को मंजूरी मिली.

बजट से पहले राहुल गांधी ने एमएसएमई सेक्टर, हैल्थ, डिफेंस और किसान के लिए आर्थिक मदद की मांग की.

लोकसभा स्पीकर ओम बिडला संसद भवन पहुंच गए हैं. आज संसद में आम बजट पेश किया जाएगा.

संसद भवन के फर्स्ट फ्लोर पर रूम नंबर-63 में कैबिनेट की मीटिंग हो रही है. 

संसद भवन में कैबिनेट बैठक शुरू हो गई है. कैबिनेट आज पेश होने वाले बजट को मंजूरी देगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संसद भवन पहुंच गए हैं. थोड़ी देर में कैबिनेट की बैठक होगी.

थोड़ी देर में संसद भवन में केंद्रीय कैबिनेट की बैठक होगी.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह कैबिनेट बैठक के लिए संसद भवन पहुंचे हैं. 

राष्ट्रपति से मिलने के बाद वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण संसद भवन पहुंच गई हैं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बजट पेश करने के लिए मंजूरी दे दी है.

निर्मला सीतारमण की राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ बैठक. वित्त मंत्री ने राष्ट्रपति के आगे बजट प्रस्तुत किया.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस बार संसद में बजट पारंपरिक बहीखाते की जगह टैब से पेश करेंगी.

कोरोना वायरस की वजह से इस बार बजट पेपरलैस होगा. 

बजट से पहले शेयर बाजार में उछाल आई है. सेंसेक्स में 401.77 और निफ्टी में 100 से ज्यादा अंकों की तेजी.

वित्त मंत्रालय से बाहर निकलने के बाद निर्मला सीतारमण ने बही-खाता की झलक दिखाई.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 'बही-खाता' लेकर राष्ट्रपति भवन के लिए निकल गई हैं.

अब तक देश में कुल 26 वित्त मंत्रियों ने बजट पेश किया- ओम बिडला


 


स्वतंत्र भारत का पहला बजट देश के पहले वित्त मंत्री श्री आर.के. षण्मुखम चेट्टी ने 26 नवंबर 1947 को प्रस्तुत किया था. उन्होंने 1947 से 1949 तक भारत के वित्त मंत्री के तौर पर सेवाएं दीं- ओम बिडला

बजट से पहले लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला का ट्वीट.


बजट से पहले महिलाओं ने उम्मीद जताई है कि किचन का खर्चा कम होना चाहिए. 

बजट से पहले केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि आम बजट में हम जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे.

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर भी दफ्तर पहुंच गए हैं. आज देश का आम बजट पेश किया जाएगा. 

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण दफ्तर पहुंच गई हैं. आज 11 बजे वह संसद में आम बजट पेश करेंगी.

वित्त मंत्री नॉर्थ ब्लॉग के लिए रवाना


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपने घर से नॉर्थ ब्लॉग दफ्तर के लिए रवाना हो गई हैं.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का शेड्यूल



  • सुबह 8.45 बजे वित्त मंत्री दफ्तर के लिए रवाना होंगी.

  • वह सुबह 8.55 बजे दफ्तर पहुंचेंगी.

  • 9.10 बजे वित्त मंत्री राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगी.

  • 10 बजे सीतारमण राष्ट्रपति भवन से निकलने के बाद संसद भवन पहुंचेंगी.

  • 11 बजे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी.

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने आम बजट पेश होने से पहले अपने आवास पर पूजा अर्चना की है.

आम बजट से इस हफ्ते तय होगी शेयर बाजार की चाल


देश के शेयर बाजार की चाल इस सप्ताह आम बजट की घोषणाओं से तय होगी. अगले वित्त वर्ष 2021-22 का आम बजट आज संसद में पेश होगा. कोरोना काल में देश की आर्थिक सेहत खराब होने के बाद तीव्र सुधार के संकेत मिलने लगे हैं और आर्थिक सर्वेक्षण में अगले वित्त वर्ष के दौरान देश की आर्थिक विकास दर 11 फीसदी से ज्यादा रहने का अनुमान लगाया गया है. हालांकि आर्थिक सर्वेक्षण के इस अनुमान के बाद भी बीते सप्ताह बाजार में गिरावट रही.

हेल्थ केयर सेक्टर में बड़ी राहतों की घोषणा संभव


मोदी सरकार के 8वें बजट में हेल्थ केयर सेक्टर को लेकर भारी उम्मीदें हैं. 2020 के बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए स्वास्थ्य के क्षेत्र के लिए 69,000 करोड़ आवंटित किए थे. माना जा रहा है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकार बजट में तगड़े उपायों की घोषणा करेगी. एसोचैम और प्राइमस पार्टनर्स के सर्वे में शामिल करीब 40 फीसदी लोगों का मानना है कि बजट आवंटन में सबसे बड़ा हिस्‍सा हेल्‍थकेयर सेक्‍टर को मिलेगा.

अर्थव्यवस्था को बूस्टर डोज की उम्मीद


कोरोना के माहौल में पेश होने जा रहे बजट से लोगों को काफी उम्मीदें हैं. भारतीय जीडीपी में ऐतिहासिक गिरावट को ध्यान में रखते हुए वित्तमंत्री से बजट में अर्थव्यवस्था को बूस्टर डोज की उम्मीद की जा रही है. वित्त मंत्री आधारभूत ढांचे पर खर्च को बढ़ाने का ऐलान कर सकती है, जिससे अर्थव्यवस्था को रफ्तार दी जा सके. 

बजट से पहले ही लोगों को बड़ा झटका


देश के आम बजट से पहले ही लोगों को बड़ा झटका लगा है. आम बजट 2021-22 से पहले इंडियन ऑयल ने कमर्शियल एलपीजी सिलिंडर के दाम बढ़ा दिए हैं. कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर के दाम 190 रुपये प्रति सिलिंडर बढ़ाए गए हैं. हालांकि घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया है. ये नई दरें 1 आज से ही लागू हो जाएंगी.

निर्मला सीतारमण खोलेंगी खजाना


देश का आज आम बजट पेश किया जाएगा. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 11 बजे बजट पेश करेंगी.

First Published : 01 Feb 2021, 07:04:29 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.