News Nation Logo
Banner

मायावती ने प्रधानमंत्री मोदी पर कसा तंज, कहा- शाही स्नान से क्या धुल जाएंगे पाप, जनता नहीं करेगी माफ

मायावती ने कहा कि नोटबंदी और संप्रादियकता की मार झेल रही जनता मोदी सरकार को इतनी आसानी से माफ नहीं करने वाली है.

News Nation Bureau | Edited By : Saketanand Gyan | Updated on: 25 Feb 2019, 02:14:41 PM
बसपा प्रमुख मायावती (फाइल फोटो: IANS)

बसपा प्रमुख मायावती (फाइल फोटो: IANS)

नई दिल्ली:

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि कुंभ नहा लेने से उनके पाप नहीं धुल जाएंगे. मायावती ने कहा कि नोटबंदी और संप्रादियकता की मार झेल रही जनता मोदी सरकार को इतनी आसानी से माफ नहीं करने वाली है. उन्होंने ट्वीट किया, 'चुनाव के समय संगम में शाही स्नान करने से मोदी सरकार की चुनावी वादाखिलाफी, जनता से विश्वासघात व अन्य प्रकार की सरकारी जुल्म-ज्यादती व पाप क्या धुल जाएंगे? नोटबंदी, जीएसटी, जातिवाद, द्वेष व साम्प्रदायिकता आदि की जबर्दस्त मार से त्रस्त लोग क्या बीजेपी को इतनी आसानी से माफ कर देंगे?'

इसके अलावा मायावती ने कहा कि मोदी सरकार 5 सालों में किसानों के फसल का उचित मूल्य दिलाने में नाकाम रही और यह सरकार की विफलता है.

बसपा प्रमुख ने ट्वीट किया, 'मोदी सरकार को किसान व खेतिहर मज़दूरों में अंतर करना चाहिये. चुनाव से पहले 500 रु प्रति माह की सहायता भूमिहीन खेतिहर मजदूरों हेतु तो ठीक है, लेकिन किसानों के लिये नहीं. किसान पैदावार का वाजिब मूल्य चाहते हैं. बीजेपी सरकार 5 साल में यह सुनिश्चित नहीं कर पाई. यह विफलता है.'

प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को प्रयागराज में कुंभ स्नान किया. इस मौके पर उन्होंने 5 सफाई कर्मियों के अपने हाथों से पैर भी धोए. इसके बाद उन्हें अंगवस्त्र देकर उनका आभार जताया और धन्यवाद किया.

पीएम मोदी ने गंगा पंडाल में स्वच्छाग्रहियों और सुरक्षा कर्मियों को सम्मानित किया. उन्होंने दो नाविकों, राजू निषाद और लल्लन निषाद को भी पुरस्कार दिया. जवाहर लाल नेहरू के बाद कुंभ में स्नान करने वाले नरेंद्र मोदी दूसरे प्रधानमंत्री हैं.

और पढ़ें : लोकसभा चुनाव : बिहार में महागठबंधन से अलग बसपा का दंभ, सभी 40 सीटों पर अकेले लड़ेगी चुनाव

मोदी ने कहा, 'सफाई कर्मियों के योगदान से इस बार कुंभ की पहचान स्वच्छ कुंभ के रूप में हुई. दिव्य कुंभ को भव्य कुंभ बनाने में सबसे बड़ा योगदान सफाई कर्मियों का रहा है. कुंभ में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा गया, ये बड़ी जिम्मेदारी थी. सफाईकर्मियों के चरण धुलकर जो वंदना की उसका अहसास जिंदगी भर रहेगा. उनका और सभी का स्नेह हमेशा बना रहेगा. मैं आपकी इसी तरह सेवा करता रहूं यही मेरी कामना है.'

First Published : 25 Feb 2019, 01:38:12 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×