News Nation Logo
Banner

इमरान खान को दिया प्लेन, लेकिन कश्मीर पर भारत के साथ आया सऊदी अरब

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने बुधवार को सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की और कश्मीर पर नई दिल्ली के रुख को समझाया.

By : Nitu Pandey | Updated on: 02 Oct 2019, 05:25:28 PM
सऊदी प्रिंस, पीएम नरेंद्र मोदी और इमरान खान (फाइल फोटो)

सऊदी प्रिंस, पीएम नरेंद्र मोदी और इमरान खान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) की सऊदी अरब (Saudi Arabia) यात्रा के कुछ दिनों बाद, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने बुधवार को सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की और कश्मीर पर नई दिल्ली के रुख को समझाया.

सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान (Saudi Crown Prince Mohammed bin Salman) और डोभाल के बीच दो घंटे तक बातचीत चली. डोभाल से मुलाकात के दौरान सऊदी क्राउन प्रिंस सलमान ने जम्मू-कश्मीर को लेकर भारत के दृष्टिकोण और कार्यों को लेकर समर्थन जताया. सऊदी अरब द्वारा भारत को समर्थन देना पाकिस्तान के लिए एक बड़ा झटका है, क्योंकि इस्लामाबाद रियाद को अपने प्रमुख समर्थकों में से एक के रूप में देखता है.

इसे भी पढ़ें:जम्मू-कश्मीर में कुछ संदिग्ध व्यक्तियों को देखा गया, सुरक्षा बलों को किया गया अलर्ट

मुलाकात के दौरान सऊदी क्राउन प्रिंस ने कहा कि हम जम्मू-कश्मीर में भारत की ओर से उठाए गए कदमों को समझते हैं.

बता दें कि भारत ने बीते 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का फैसला लिया था और सूबे को दो अलग हिस्सों में बांटने का प्रस्ताव भी पारित हुआ. 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बने.

बैठक के दौरान भारत- सऊदी अरब के बीच कई अहम द्विपक्षीय मसलों पर बातचीत हुई.

अजित डोभाल और सऊदी अरब के प्रिंस की यह मुलाकात दोनों देशों के संबंधों को बेहतर करने वाली है. ऐसे दौर में जब सऊदी अरब 2030 तक अपनी इकॉनमी की तेल पर निर्भरता कम करने की योजना में है, तब भारत उसका अहम साझीदार हो सकता है.सऊदी अरब का समर्थन हासिल करना भारत के लिए बड़ी कूटनीतिक जीत है.

और पढ़ें:हरियाणा कांग्रेस की बगावत सोनिया गांधी के आवास तक पहुंची, जमकर हुआ हंगामा

बता दें कि पाकिस्तान के पीएम इमरान खान जब सात दिन की अमेरिका यात्रा पर गए थे उससे ठीक पहले सऊदी अरब गए थे. वहां सऊदी अरब सरकार ने उन्हें यूएन जाने के लिए विमान दी थी. जिसे लेकर इमरान खान ने सऊदी के साथ गहरी दोस्ती का हवाला दिया था. लेकिन कश्मीर मुद्दे पर सऊदी अरब ने भारत को समर्थन देकर पाकिस्तान की असली जगह दिखा दी है.

First Published : 02 Oct 2019, 05:25:28 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×