News Nation Logo

ममता पर व्यक्तिगत हमले करने की बजाय भाजपा करेगी सकारात्मक प्रचार

राष्ट्रीय राजधानी में भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की पिछली बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री और टॉलीगंज विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो ने कहा, भाजपा सकारात्मक प्रचार अभियान करेगी और केवल विकास के बारे में बात करेगी.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 21 Mar 2021, 05:00:21 PM
pm modi cm mamta

पीएम मोदी (Photo Credit: आईएएनएस)

highlights

  • बीजेपी ममता पर व्यक्तिगत हमलों से बचेगी
  • बीजेपी अपना ध्यान चुनाव पर फोकस करेगी
  • पश्चिम बंगाल में 10 सालों से ममता की सरकार

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है प्रचार अभियान तेज होता जा रहा है. चुनावी प्रचार को लेकर भाजपा ने अहम निर्णय लेते हुए तय किया है कि अब वे तृणमूल सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर व्यक्तिगत हमले करने की बजाय अपना फोकस सकारात्मक प्रचार पर करेगी. भगवा पार्टी का चुनाव प्रचार को लेकर लिया गया यह फैसला उसके नेताओं की सार्वजनिक सभाओं और रैलियों में दिखने भी लगा है, जिनमें वे अपने भाषणों में बनर्जी पर हमला करने की बजाय विकास की बातें ज्यादा कर रहे हैं.

राष्ट्रीय राजधानी में भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की पिछली बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री और टॉलीगंज विधानसभा क्षेत्र से पार्टी के उम्मीदवार बाबुल सुप्रियो ने कहा, भाजपा सकारात्मक प्रचार अभियान करेगी और केवल विकास के बारे में बात करेगी. भाजपा पश्चिम बंगाल में नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के बारे में लोगों को बताएगी. जाहिर है, मोदी सरकार ने राज्य में ढेर सारे विकास कार्य किए हैं, जबकि बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी सरकार ने केंद्र की कई कल्याणकारी योजनाओं के कार्यान्वयन को रोकने का काम किया.

इसी तरह भाजपा के एक नेता ने कहा, जब मोदी सरकार के पास मतदाताओं को बताने के लिए इतना कुछ है तो वह प्रतिद्वंद्वियों के बारे में बात करने में क्यों समय बर्बाद करे. हमें मोदी सरकार के गवर्नेस मॉडल पर फोकस करते हुए पश्चिम बंगाल सरकार की कमियों को उजागर करना चाहिए. भाजपा का मानना है कि कभी-कभी बहुत से व्यक्तिगत हमले प्रतिद्वंदी को सहानुभूति पाने में मदद करते हैं. फिर ममता बनर्जी तो वैसे ही चोट लगने के बाद व्हीलचेयर पर बैठकर चुनाव प्रचार कर रही हैं और सहानुभूति पाने का कोई मौका नहीं छोड़ रही हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने पश्चिम बंगाल की प्रदेश इकाई को नंदीग्राम में मुख्यमंत्री बनर्जी पर हुए कथित हमले को निशाना बनाने या उस पर बात करने से मना किया था. भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने राज्य के नेताओं से कहा था कि चूंकि ममता के इस हमले को लेकर विरोधाभासी बयानों ने उनकी हकीकत सामने ला दी है, ऐसे में इस मामले पर बात करने की जरूरत नहीं है. बता दें कि 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए 27 मार्च से 29 अप्रैल तक 8 चरणों में मतदान होने है. इसके बाद 2 मई को मतगणना होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Mar 2021, 05:00:21 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.