News Nation Logo
Banner

भरी सभा में MLA को जूतों से पीटना पड़ा महंगा BJP ने काटा शरद त्रिपाठी का टिकट

पिछले महीने में एक भरी सभा के दौरान अपनी ही पार्टी के विधायक को जूता मारने वाले लोकसभा सांसद शरद त्रिपाठी को BJP ने बड़ा झटका दिया है. BJP ने संतकबीरनगर लोकसभा सीट से शरद त्रिपाठी का टिकट काट दिया है, और उनकी जगह उस सीट से प्रवीण निषाद को मौका दिया है.

By : Ravindra Singh | Updated on: 15 Apr 2019, 04:31:24 PM

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के लिए भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को यूपी की 7 लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की है. सपा से बीजेपी में शामिल हुए गोरखपुर के मौजूदा सांसद प्रवीण निषाद को संतकबीर नगर से उम्मीदवार बनाया गया. पिछले महीने में एक भरी सभा के दौरान अपनी ही पार्टी के विधायक को जूता मारने वाले लोकसभा सांसद शरद त्रिपाठी को BJP ने बड़ा झटका दिया है. BJP ने संतकबीरनगर लोकसभा सीट से शरद त्रिपाठी का टिकट काट दिया है, और उनकी जगह उस सीट से प्रवीण निषाद को मौका दिया है.

आपको बता दें कि पिछले महीने संत कबीर नगर में आयोजित एक बैठक के दौरान BJP सांसद शरद त्रिपाठी इलाके के BJP विधायक राकेश बघेल से कहा सुनी हो गई देखते ही देखते दोनों नेताओं में हाथापाई की नौबत आ गई तभी सांसद शरद त्रिपाठी ने जूता निकालकर राकेश बघेल की जमकर पिटाई कर दी. इस बैठक में BJP सांसद, विधायक के अलावा संत कबीरनगर के जिलाधिकारी और योगी सरकार में मंत्री आशुतोष टंडन भी मौजूद थे. थोड़ी ही देर में इस मार-पीट का वीडियो सोशल मीडिया में वॉयरल हो गया. वीडियो में सांसद शरद त्रिपाठी अपने पैर से जूता निकालकर विधायक राकेश बघेल को बुरी तरह से पीटते हुए नजर आ रहे थे.

हालांकि जूते से मार खाते हुए विधायक राकेश बघेल ने भी सांसद शरद त्रिपाठी को तमाचे जड़े थे. पुलिस को दोनों नेताओं के बीच मामला सुलझाना पड़ा था. इसके बाद विधायक ने अपने समर्थकों के साथ सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया था. इस घटना के बाद इन दोनों BJP नेताओं की पूरे देश में किरकिरी हुई थी. पार्टी ने एक्शन लेने की बात भी कही थी. अब BJP ने सांसद शरद त्रिपाठी को टिकट नहीं देने का फैसला किया है. हालांकि, पार्टी ने उनके पिता व उत्तर प्रदेश BJP के पूर्व अध्यक्ष रमापति राम त्रिपाठी को देवरिया सीट से BJP का उम्मीदवार बनाया है. जबकि शरद त्रिपाठी की जगह प्रवीण निषाद को मौका दिया गया है.

आपको बता दें कि प्रवीण निषाद ने गोरखपुर सीट पर हुए उपचुनाव में सपा के टिकट पर बसपा के समर्थन से BJP प्रत्याशी को हराया था. उस समय उनकी यह जीत पूरे देश में चर्चा का विषय बनी थी. अभी हाल के दिनों में प्रवीण निषाद ने अपने पिता के साथ अपनी पार्टी को लेकर एनडीए के पाले में आ गए. जिसके बाद उन्हें शरद त्रिपाठी की जगह चुनाव लड़ने का मौका भी मिल गया.

First Published : 15 Apr 2019, 04:31:18 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो