News Nation Logo

BJP विधायक प्रणव सिंह चैंपियन पार्टी से 6 सालों के लिए निष्कासित, जानिए क्या है वजह

BJP विधायक प्रणव सिंह चैंपियन पार्टी से 6 सालों के लिए निष्कासित

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 18 Jul 2019, 06:43:19 AM
प्रणव सिंह चैंपियन (फाइल)

highlights

  • BJP विधायक 6 सालों के लिए पार्टी से निष्कासित
  • BJP MLA का वीडियो हुआ था वायरल
  • सुरक्षा कारणों से तीनों हथियार का लाइसेंस रद्द किया गया

नई दिल्ली:

उत्तराखंड के भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रणव सिंह चैंपियन (Uttrakhand BJP MLA Pranav Singh Champion) 6 सालों के लिए पार्टी से निष्कासित किए गए. आपको बता दें कि पिछले दिनों उत्तराखंड के भारतीय जनता पार्टी से विधायक बने प्रणव सिंह चैंपियन की एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी. इस वीडियो को लेकर मीडिया में उनकी जमकर आलोचना हुई थी. जिसके बाद पार्टी ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया था. 

वायरल वीडियो में दो पिस्टल और एक कारबाइन के साथ डांस करते नजर आ रहे उत्तराखंड के विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तीन शस्त्रों लाइसेंस निलंबित कर दिए गए हैं. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. वीडियो सामने आने के बाद अनिश्चितकाल के लिए निलंबित किए गए विधायक को भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तरफ से कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है, जिसमें उनसे पूछा गया है कि उन्हें पार्टी से क्यों न निकाल दिया जाए.

जिला मजिस्ट्रेट दीपेंद्र कुमार चौधरी ने कहा, "हरिद्वार पुलिस से रिपोर्ट मिलने के बाद मैंने (कुंवर प्रणव सिंह) चैंपियन के तीन आर्म लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं." उन्होंने आगे कहा, "चैंपियन से 15 दिनों के भीतर इस बात का भी जवाब मांगा गया है कि क्यों न तीनों बंदूकों के लाइसेंस रद्द कर दिए जाएं."

यह भी पढ़ें- गाजियाबाद में सहपाठियों से परेशान दलित छात्र ने आत्महत्या की

हरिद्वार के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी की एक रिपोर्ट के बाद यह कार्रवाई हुई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि रक्षा और सुरक्षा कारणों से तीन हथियारों- एक डबल बैरल राइफल, एक रिवाल्वर और एक संशोधित कार्बाइन के लाइसेंस को रद्द कर दिया जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें- पानी की कमी से निजात दिला सकती है सैकड़ों साल पुरानी यह तकनीक 

खंडूरी ने कहा, "चैंपियन के खिलाफ कुछ मामले भी दर्ज हैं. इसलिए हमने हथियारों के लाइसेंस को रद्द करने की सिफारिश की है." चैंपियन ने इस कदम की आलोचना करते हुए कहा कि उनका बेटा, जो एक शूटर है, इन हथियारों के साथ अभ्यास करता है.

विधायक ने अपने समर्थकों से कहा, "इस निर्णय से मेरे बेटे का खेल भविष्य अंधकारमय लग रहा है." राज्य के BJP अध्यक्ष अजय भट्ट ने बुधवार को चैंपियन को नोटिस देकर पूछा था कि उन्हें पार्टी से बाहर क्यों न निकाला जाना चाहिए, क्योंकि विपक्ष ने इस मुद्दे को लेकर सत्तापक्ष पर तीखा हमला किया है.

यह भी पढ़ें- जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 1 आतंकवादी ढेर 

राज्य कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं के एक समूह ने वीडियो के आधार पर पूर्व कांग्रेस विधायक रह चुके और वर्तमान में भाजपा विधायक चैंपियन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है.

First Published : 17 Jul 2019, 03:47:33 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.