News Nation Logo
Banner

कर्नाटक पर देखो और इंतजार करो की नीति पर बीजेपी, आज अमित शाह और जेपी नड्डा से मुलाकात में होगा फैसला

पार्टी का एक तबका कर्नाटक में नए सिरे से विधानसभा चुनाव करा स्पष्ट बहुमत के बल पर सरकार बनाने का पक्षधर है. दूसरा तबका चाहता है कि पार्टी को आगे बढ़ सरकार बनाने का दावा पेश कर देना चाहिए.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 25 Jul 2019, 07:38:10 AM
कर्नाटक बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता बुधवार रात दिल्ली पहुंचे.

highlights

  • बीजेपी का एक तबका कर्नाटक में नए सिरे से विधानसभा चुनाव का पक्षधर.
  • बागी विधायकों पर स्पीकर या सुप्रीम कोर्ट का फैसला देखना चाहती है बीजेपी.
  • गुरुवार को राज्य नेताओं की अमित शाह और जेपी नड्डा से बैठक होगी.

नई दिल्ली.:

ऐसा लग रहा है कि कर्नाटक की वैकल्पिक सरकार को लेकर कयासों के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठाना चाहती. खासकर तब और भी नहीं, जब कांग्रेस-जेडी(एस) के 17 बागी विधायकों के सिर पर तलवार लटक रही हो. इन पर स्पीकर को फैसला लेना है. साथ ही इनसे संबंधित मामला सुप्रीम कोर्ट में भी लंबित है. यही वजह है कि कर्नाटक बीजेपी के कई वरिष्ठ नेता दिल्ली पहुंच चुके हैं, जो गुरुवार को गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे. बीजेपी आलाकमान से हरी झंडी मिलने के बाद ही बीएस येदियुरप्पा राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे.

यह भी पढ़ेंः लोकसभा में आज तीन तलाक विधेयक पर चर्चा और पारित होने की संभावना, विपक्ष डाल सकता है अड़ंगा

कुछ कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के पक्षधर
बीजेपी से जुड़े सूत्रों की मानें तो पार्टी अगला कदम उठाने से पहले अपने सारे विकल्पों पर मंथन कर लेना चाहती है. पार्टी का एक तबका कर्नाटक में नए सिरे से विधानसभा चुनाव करा स्पष्ट बहुमत के बल पर सरकार बनाने का पक्षधर है. दूसरा तबका चाहता है कि पार्टी को आगे बढ़ सरकार बनाने का दावा पेश कर देना चाहिए. हालांकि बागी विधायकों पर स्पीकर रमेश कुमार या सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने तक अगला कदम उठाने से बच रही है. यही वजह है कि बुधवार को होने वाली बीजेपी विधायक दल की बैठक अचानक बगैर कोई कारण बताए टाल दी गई. बीजेपी आलाकमान फिलहाल देखो और इंतजार करो की नीति पर चल रहा है.

यह भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसक प्रीति बनीं ब्रिटेन की गृह मंत्री

कर्नाटक के बीजेपी नेता दिल्ली पहुंचे
इस बीच बुधवार रात जगदीश शेट्टार, बसवराज बोम्मई और अरविंद लिंबावली समेत कर्नाटक बीजेपी के कई नेता दिल्ली पहुंचे. ये सभी नेता गुरुवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि इस दौरान सरकार गठन को लेकर सियासी हालात और समीकरणों पर चर्चा होगी. इससे पहले कर्नाटक बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा स्पष्ट कह चुके हैं कि वह कर्नाटक में वैकल्पिक सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए पार्टी केंद्रीय नेतृत्व के निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः Sawan 2019: सावन मास में बदल सकते हैं ग्रहों के दुष्प्रभाव को शुभ प्रभाव में, बस करने होंगे ये उपाय

बागी विधायकों को लेकर फजीहत नहीं चाहता केंद्रीय नेतृत्व
गौरतलब है कि कांग्रेस और जेडीएस के 15 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार नहीं हुए हैं. इन विधायकों ने राज्य विधानसभा से उनकी अयोग्यता की मांग वाली याचिका के संबंध में स्पीकर के सामने पेश होने के लिए चार सप्ताह का समय मांगा है. उधर कांग्रेस और जेडीएस ने बागी विधायकों के खिलाफ दलविरोधी कानून के तहत अयोग्य ठहराने का अनुरोध स्पीकर से किया है. यानी बागी विधायकों के मसले पर किसी किस्म की फजीहत से बचने के लिए ही बीजेपी आलाकमान जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठाना चाहता है.

First Published : 25 Jul 2019, 07:38:10 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो