News Nation Logo
Banner

दंतेवाड़ा में नक्सली हमले में बीजेपी MLA भीमा मंडावी समेत पांच की मौत, पीएम मोदी ने कहा व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने घात लगाकर बीजेपी विधायकों के काफिले पर हमला कर दिया है. इस हमले में दंतेवाड़ा के विधायक भीमा मांडवी की मौत हो गई जबकि सुरक्षा में लगे पांच जवान भी शहीद हुए हैं

News Nation Bureau | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 10 Apr 2019, 06:39:23 AM
छत्तीसगढ़ में बीजेपी विधायकों के काफिले पर नक्सली हमला (फोटो - ANI)

छत्तीसगढ़ में बीजेपी विधायकों के काफिले पर नक्सली हमला (फोटो - ANI)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण के लिए मतदान से ठीक 48 घंटे पहले छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने बीजेपी नेताओं के खिलाफ बड़े हमले को अंजाम दिया. नक्सलियों ने घात लगाकर बीजेपी विधायक के काफिले पर हमला कर दिया है. इस हमले में दंतेवाड़ा के विधायक भीमा मंडावी की मौत हो गई जबकि सुरक्षा में लगे पांच जवान भी शहीद हुए हैं. बताया जा रहा है कि मंडावी चुनाव प्रचार के लिए दंतेवाड़ा के ग्रामीण इलाके में गए थे. वहां 11 अप्रैल को लोकसभा के पहले चरण में वोटिंग होनी है. नक्सलियों ने बीजेपी नेताओं पर यह हमला आईईडी के जरिए धमाका कर किया. नक्सलियों के इस हमले के दौरान दंतेवाड़ा के बीजेपी विधायक भीमा मंडावी भी उस काफिले में शामिल थे.

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी बीजेपी विधायक पर हुए नक्सली हमले पर दुख जाहिर किया. उन्होंने मारे गए बीजेपी एमएलए की तारीफ करते हुए कहा, भीमा मंडावी बीजेपी के समर्पित कार्यकर्ता थे. वो बेहद मेहनती और हिम्मती थे और उन्होंने हमेशा छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए काम किया. उनका जाना बेहद दुखदायी है. उनके पूरिवार के साथ पूरी हमदर्दी से खड़ा हूं.

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने दूसरे ट्वीट में लिखा, भीमा मंडावी उनके ड्राइवर और 3 सुरक्षा अधिकारी को दंतोवाड़ा में नक्सलियों ने हमले में मारा डाला. इसकी कड़ी निंदा करता हूं. मारे गए सुरक्षाकर्मियों को मेरी श्रद्धांजलि और उनके बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा.

सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा एजेंसी और पुलिस ने भीमा मंडावी को पहले ही खतरे का अलर्ट दिया था और जिस इलाके का वह दौरा करने निकले थे उन्हें वहां नहीं जाने की सलाह दी थी. नक्सलियों का किया हुआ धमाका इतना जबरदस्त था कि काफिले में चल रही गाड़ी के परखच्चे उड़ गए.

छत्तीसगढ़ के आईजी (नक्सल ऑपरेशन) ने विधायक भीमा मंडावी के मारे जाने की पुष्टि की है और इसके साथ ही कहा है कि उन्हें पहले ही सावधान किया गया था कि वो उस इलाके में न जाएं.

बता दें कि साल 2013 में नक्सलियों ने ऐसी ही घात लगाकर कांग्रेस नेताओं के काफिल पर सुकमा जिले में हमला किया था. इस हमले में कांग्रेस पार्टी के कई वरिष्ठ नेता समेत करीब 25 लोग मारे गए थे जबकि 32 लोग जख्मी हो गए थे. नक्सलियों के इस धमाके में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महेंद्र कर्मा और पार्टी प्रमुख नंद कुमार पटेल की मौत हो गई थी जबकि विद्या चरण शुक्ला गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

रिपोर्ट के मुताबिक करीब 250 से ज्यादा नक्सली हमलावरों ने पहले तो कांग्रेस नेताओं के काफिले को लैंडमाइन लगाकर उड़ा दिया और उसके बाद बचे हुए लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी थी.

First Published : 09 Apr 2019, 05:39:17 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो