News Nation Logo
Banner

Ayodhya Verdict: मौलाना कल्बे जव्‍वाद बोले-वर्षों से लंबित बड़े मुद्दे आसानी से हल हो गए

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) के आवास 5 जनपद पर धर्म गुरुओं (Religious Leaders) की बैठक में शामिल शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्‍वाद ने कही बड़ी बात

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 10 Nov 2019, 09:28:34 PM
शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्‍वाद

शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्‍वाद (Photo Credit: ANI)

नई दिल्‍ली:

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) के आवास 5 जनपद पर धर्म गुरुओं (Religious Leaders) की बैठक में शामिल शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्‍वाद ने अयोध्‍या पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कहा कि मुझे वास्तव में अपने देश पर गर्व है कि इतने बड़े मुद्दे जो वर्षों से लंबित थे, इतनी आसानी से हल हो गए.हिंदू और मुस्लिम दोनों ने बहुत धैर्य से काम लिया है, यह बेहद सराहनीय है. जाहिर है उनका इशारा कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 के हटने, तीन तलाक और रामजन्‍म भूमि-बाबरी मस्‍जिद विवाद की तरफ था..

वहीं इसी बैठक में शामिल स्वामी चिदानंद सरस्वती ने कहा कि हर किसी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को प्यार से स्वीकार किया है.हम साथ आए हैं और इसे सफल बनाया है.मैं अपने मुस्लिम भाइयों को धन्यवाद देना चाहता हूं.कोई भी जीता या हारा नहीं है, पूरी दुनिया हमारे देश की प्रशंसा कर रही है.

बता दें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) के आवास 5 जनपथ पर धर्म गुरुओं (Religious Leaders) की बैठक सुबह 11:00 बजे से लेकर शाम 4:00 बजे तक चली. करीब 50 धर्मगुरुओं (50 Religious Leaders) ने हिस्सा लिया. बैठक के बाद धर्म गुरुओं संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि बातचीत ने सभी समुदायों के बीच भाईचारे की भावना को बनाए रखने के लिए शीर्ष धार्मिक नेताओं के बीच संचार को मजबूत करने में मदद की.

यह भी पढ़ेंःAyodhya Verdict : जबलपुर की इस महिला ने राम मंदिर फैसले के इंतजार में 27 सालों से नहीं खाया अन्न

योग गुरु राम देव ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि, 'कुछ मुस्लिम भाइयों ने फैसले को लेकर अपनी आपत्तियां बताई है, पर सभी सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को मानने के लिए तैयार हैं. आज की बैठक बहुत सकारात्मक माहौल में हुई.'

यह भी पढ़ेंःअयोध्‍या का फैसलाः सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्‍ट डालने वाले 77 गिरफ्तार, CJI पर भी अभद्र टिप्‍पणी

इसके पहले अयोध्या पर सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) के निर्णय आने के ठीक 24 घंटे बाद यानी रविवार सुबह 11:00 बजे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA Chief) अजीत डोभाल के निवास 5 जनपथ रोड पर अयोध्या फैसले के बाद की स्थिति पर मंथन करने के लिए बैठक शुरू हो गई थी. इसमें मुस्लिम पक्ष (Muslim Clerics) से शिया और सुन्नी धर्मगुरु के अलावा जमीयत उलेमा ए हिंद, दारुल उलूम, देवबंद और बरेलवी पंथ के बड़े धर्मगुरु मौजूद थे. हिंदू पक्ष (Hindu Priests) से अयोध्या से जुड़े धर्मगुरु, पतंजलि से बाबा रामदेव और विभिन्न राज्यों से आए हुए हिंदू धर्म के बड़े धर्मगुरु भी बैठक में भाग ले रहे थे. इस बैठक का मकसद विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों की ओर से अयोध्या मसले के बाद पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से देश के बड़े शहरों में आतंकवादी हमलों के इनपुट पर भी चर्चा करना था.

First Published : 10 Nov 2019, 09:28:34 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.