News Nation Logo
Banner

दिशा सालियान के साथ हैवानियत हुई थी, न्यूज नेशन पर चश्मदीद का बड़ा खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर रहीं दिशा सालियान की मौत भी मिस्ट्री बनी हुई है. बताया जाता कि दिशा सालियान ने सुसाइड किया था. वहीं, दिशा और सुशांत सिंह राजपूत के मौत को साथ जोड़कर भी देखा जा रहा है कि कहीं ना कही दोनों के मामले में कनेक्शन है

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 20 Sep 2020, 08:37:19 AM
Disha

दिशा सालियान (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन को लेकर घमासान मचा है. देश में करण जौहर की पार्टी की जांच की मांग की जा रही है. अंडरवर्ल्ड ड्रग्स रैकेट का बॉलीवुड कनेक्शन सामने आ रहा है. DEA की रिपोर्ट से बड़े ड्रग रैकेट का भंडाफोड़ हुआ था. वहीं, सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर रहीं दिशा सालियान की मौत भी मिस्ट्री बनी हुई है. बताया जाता कि दिशा सालियान ने सुसाइड किया था. वहीं, दिशा और सुशांत सिंह राजपूत के मौत को साथ जोड़कर भी देखा जा रहा है कि कहीं ना कही दोनों के मामले में कनेक्शन जरुर है. तो आज न्यूज नेशन पर दिशा सालियन के साथ उस रात क्या हुआ. दिशा की मौत कैसे हुई इन सबका खुलासा चश्मदीद ने किया.

दिशा सालियान का मंगेतर रोहन रॉय मिले तो जूते से मारूंगा. दिशा का मंगेतर जुर्म के वक्त मेरे साथ था. 
दिशा सालियान को मैं पहले से नहीं पहचानता था. रोहन रॉय चुपचाप बगल के कमरे में बैठा था : चश्मदीद 

सामूहिक बलात्कार का केस है दिशा सालियान का केस, निर्भया केस जैसा है : रेखा अग्रवाल, एडवोकेट
दिशा सालियान के मां-बाप से गुजारिश है कि आप आगे आएं और बेटी के न्याय के लिए लड़ें : रेखा अग्रवाल, एडवोकेट
आपलोग चुप्पी तोड़िए, आपको आगे आना बहुत जरूरी है : रेखा अग्रवाल, एडवोकेट
आपको डरना नहीं है पूरा देश आपके साथ है : रेखा अग्रवाल, एडवोकेट

बॉलीवुड में आने वाले नए कालाकारों को नशेड़ी बनाया जाता है : मनजिंदर सिंह सिरसा, दिल्ली विधानसभा सदस्य

बॉलीवुड नशे से ग्रस्त है, लेकिन बड़ा सवाल है कि इनको ड्रग्स कौन सप्लाई करता है : मनजिंदर सिंह सिरसा, दिल्ली विधानसभा सदस्य

अगर सुशांत मामले को आत्महत्या मानकर बंद कर दिया जाता तो ये नए खुलासे सामने नहीं आते : मनजिंदर सिंह सिरसा, दिल्ली विधानसभा सदस्य

उनका लगता है कि मुंबई पुलिस उनके जेब में है, उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी : मनजिंदर सिंह सिरसा, दिल्ली विधानसभा सदस्य

यह मामला ड्रग्स से जुड़ा हुआ है, हमने कभी भी हवा में बात नहीं की है, कोर्ट ने भी मेरी बात मानी है : मनजिंदर सिंह सिरसा, दिल्ली विधानसभा सदस्य

पार्टी में म्यूजिक तेज से बज रहा था, इसकी वजह से दिशा की आवाज बाहर नहीं आई : चश्मदीद
रेप के आरोपियों में सारे रसूख वाले थे : चश्मदीद
4 में से एक मंत्री के सिक्योरिटी गार्ड था : चश्मदीद
जुर्म में दिशा का एक नजदीकी फ्रेंड भी था : चश्मदीद
मंत्री के गार्ड को देखूंगा तो पहचान लूंगा : चश्मदीद
मंत्री के बारे में नहीं बोल सकता हूं : चश्मदीद

दिशा केस में न्यूज नेशन ने दिशा दिया है, चश्मदीद आने वाले समय में इस केस को नई दिशा देगा : मृत्युंजय कुमार सिंह, बिहार पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष

दिशा केस को देख कर ऐसा लग रहा है कि किसी ने उसे ऊपर से फेंका है : अंबर जैदी, फिल्म निर्माता और निर्देशक
दिशा मामले में मुंबई पुलिस लीपापोती कर रही है : अंबर जैदी, फिल्म निर्माता और निर्देशक

जिस तरह से मुंबई पुलिस इस चीज को दबाने की कोशिश की अगर मीडिया न होता तो इसका खुलासा नहीं होता : प्रियंका राणा, सामाजिक कार्यकर्ता

दिशा के साथ ऐसा हुआ है, उसकी जांच होना चाहिए : अंबर जैदी, फिल्म निर्माता और निर्देशक
दिशा मामले में मुंबई पुलिस किसी को बचाने की कोशिश कर रही है : अंबर जैदी, फिल्म निर्माता और निर्देशक
दिशा केस में यह देखने को मिल रहा है कि पुलिस से ज्यादा खुलासे लोगों ने कर दिया है : अंबर जैदी, फिल्म निर्माता और निर्देशक

आज भी मेरी आंखों में आंसू आज रहा है : चश्मदीद
दिशा मैम के साथ बहुत गलत हुआ : चश्मदीद

अगर हमलोग ऊपर से कोई चीज गिराते हैं तो गुरुत्वाकर्षण बल के आधार पर वह सीधे जमीन पर गिरेगा, हो सकता है कि किसी चीज से टकरा गई होगी दिशा : अमरनाथ मिश्रा

इस केस की जांच सीबीआई, मुंबई पुलिस और बिहार पुलिस कर रही है : वेद भूषण, रिटायर्ड एसीपी दिल्ली
सीबीआई सिर्फ करप्शन की डायरेक्ट जांच करती है : वेद भूषण, रिटायर्ड एसीपी दिल्ली

पार्टी के बाद एक लड़की छत से कूद जाती है ऐसा उसने क्यों किया इसके बारे में पूरा देश जानना चाहता है : प्रियंका राणा, सामाजिक कार्यकर्ता

सीबीआई को जब महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस सपोर्ट नहीं कर रही है : प्रियंका राणा, सामाजिक कार्यकर्ता

मैं न्यूज नेशन को बधाई देता हूं जो काम मुंबई पुलिस को करना चाहिए था वह आज मीडिया कर रहा है : प्रियंका राणा, सामाजिक कार्यकर्ता

अगर सीबीआई जांच कर रही है तो हमें उसपर विश्वास करना चाहिए : विकास गुप्ता, वकील सुप्रीम कोर्ट

दीप अजमेरा के घर नहीं जाती पुलिस, आखिर पुलिस इतनी बड़ी लापरवाही कैसे कर दी.

कुछ लोग सामने आना चाहते थे, लेकिन डर की वजह से बाहर नहीं आ रहे थे- गणेश

दीप अजमेरा के जाने के लिए सभी को माना किया गया है. चाहे वह मीडिया क्यों ना हो- सिक्योरिटी गार्ड

बातचीत कुछ नहीं हुआ है. 9वीं मंजिल पर रहते है दीप अजमेरा. उनका काम वाली बोली थी मत आओ कोई नहीं है. किसी को मत भजना- सिक्योरिटी गार्ड

'सुसाइड का एंगल नहीं दिख रहा. कोई पार्टी कर रहा है वह कैसे सुसाइड कर सकता है. पुलिस ने बहुत बड़ी लापरवाही है'

बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने उद्धव सरकार पर निशाना साधा है. केस को दबाने की कोशिश की गई है. दिशा सालियान साथ ही सीबीआई जांच की मांग की. 


बांद्रा स्टेशन का सीसीटीवी फूटेज देखिए मैं रो रहा था. मैं सोच रहा था. एक बेटी के साथ इतनी हैवानियत कैसे कर सकते है- चश्मदीद

जिया खान केस का खुलासा हो गया होता. तो सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान के साथ ये हादसा ना होता- राबिया

लोकल पुलिस इस तरह के मामले में जल्दी रिपोर्ट बना देती है. क्योंकि उनको डर होता है कि जांच करेंगे. घरों के बच्चे सामने आएंगे तो दिक्कत होती इसलिए जांच को जल्दी बंद कर देते है- संजीव 

दिशा का फोन पुलिस ने आपने पास रखा. ये जानने के लिए पुलिस को ये पता करना चाहिए. आखिर यूके जो फोन किया था. क्या वह दोस्त NRI है- संजीव

दाल में काल नहीं दाल पूरी काली है, सुशांत को जब मारा गया. वह चश्मदीद थी. वह कहां है. रोहन रॉय और आनंदी धवन दोनों गायब है- सुनील शुक्ला


पुलिस ने जिया केस में लापरवाही बरती. उसने कोई जांच नहीं की- राबिया

पुलिस का काम है पहले मौत के मामले को शक के निगाह से देखें. मुंबई पुलिस ने पाप किया है- विक्रम सिंह


पैसा सबसे बुरी चीज है. पैसा पुलिस को दबा सकती है, बॉलीवुड उनका साथ दे रहा है. पुलिस माफियाओं को बचा रही है- मनोज तिवारी


सभी जानते है कि जिया की सूरज पंचोली से लड़ाई थी- मनोज तिवारी

जिया के केस में आने से पहले आने से पुलिस ठान लिया था. सुसाइड है. पुलिस अगर जिया मामले की जांच सही से करती तो दिशा, सुशांत की मौत नहीं होती- जिया की मां

इस तरह खतरा लेकर न्यूज नेशन केस में तथ्य निकाल रही है उसका मैं धन्यवाद करता हूं, इससे जांच एजेंसियों को आसानी होगी- मनोज तिवारी

मैंने शुरू से ये बात कही दिशा सालियान और सुशांत सिंह केस से जुड़ा हुआ है. सीबीआई की जांच के बयान का इंतजार है- मनोज तिवारी

रात के साढ़े बारह बजे के बाद एक बंदा बोलता है उठो. हमें ले जाकर एक कमरे में डाल दिया. बोला कुछ प्रॉब्लम हुआ है- चश्मदीद

मीडिया ने आंखों पर पट्टी बांध रखी है. किसी की भी बात पर भरोसा कर सवाल करने लगती है. नितेश राणे सुरक्षा क्यों नहीं दिलवाते- विक्रम

चश्मदीद को खतरा है. वह बताए किस बात का खतरा है. वह बताए किस चीज से खतरा है- विक्रम

दिशा सालियान के परिवार को मालूम ही नहीं था कि ये हत्या है- मानवी

महाराष्ट्र पुलिस सारे मामले को दबाना चाहती है. क्या दबाया जा रहा है ये तो वहीं जानते है. इस राज से सरकार हिल सकती है.क्या इसीलिए दबाया जा रहा है- सिरसा

जो मुझे पार्टी में लेकर गया था. वह मिसिंग है. मुझे न्यूज से पता चला पार्टी में छोटी लड़की थी. मैं बता दूं पार्टी में कोई लड़की नहीं था- चश्मदीद

मैं 09.30 बजे पार्टी में पहुंचा था. पार्टी में 10 से 12 लोग पार्टी में शामिल थे. मैं नाम नहीं बताऊंगा. पार्टी में मैं अपने दोस्त के साथ गया था. मेरा दोस्त अभी लापता है- चश्मदीद


हर एक सुसाइड हत्या नहीं होती, देश में सैकड़ों लोग सुसाइड करते है. एडीआर की रिपोर्ट देख ले- बृजभषण सिंह

सुशांत केस में सीबीआई ने कोई बयान जारी नहीं किया. दिशा केस में ये चश्मदीद अब सामने आया है

दिशा सालियान मामले में कोई रिकॉर्ड नहीं है, फाइल को डिलीट कर दी गई- मानवी

दिशा ने सुशांत को कोई राज बता दिया था. जिसकी वजह से परेशान था. सुशांत ने रिया को सब कुछ बता दिया था- मानवी

वो हुआ है 11 बजे के पहले, मैं सीबीआई के सामने आने को तैयार हूं- चश्मदीद


शिखरे ने पुलिस को झूठ बोलकर बुलाया. बोला मेरी जान को खतरा है.


अपने घर के खिड़की पर मौजूद हैं हिमांशु शिखरे. उसके घर से पुलिस ने न्यूज नेशन की टीम को हटाया.


रिया के साथ क्यों खड़ी है मुंबई पुलिस और सरकार, कंगना जो सच्चाई के लिए लड़ रही हैं उसके खिलाफ कार्रवाई होती है- प्रियंका


दिशा सालियान के फ्लैट से गिरने का क्या कारण है- प्रियंका

कंगना ने जब ये चीजे हाईलाइट कि है तभी से महाराष्ट्र सरकार बौखलाई हुई है- प्रियंका

न्यूज नेशन के रिपोर्टर को हटाना गलत है. दिशा सालियान केस की जांच होनी चाहिए-  आरसी सिंह

मुझे भी मेरी जान को खतरा है. मैं पूरी सच्चाई सामने लाऊंगा. लोगों के हैवानियत के सामने डर था. शर्म आ रही थी- चश्मदीद

मेरे दोस्त को पार्टी में दिशा सालियान ने गले लगाया था- चश्मदीद

पुलिस जब हिमांशु शिखरे के घर पहुंची. तो वह खिड़की से झांक रहा था.

हिमांशु के घर पुलिस दौड़ती हुई पहुंची. दोनों सिपाही हांफ रहे थे. 

हिमांशु शिखरे कौन सा वीआईपी है जिसके लिए पुलिस भागते हुए उसके घर आए. कंट्रोल रुम से उन पुलिस वालों को हिमांशु के घर पहुंचे के लिए. 

12 लोगों का नाम नहीं बताउंगा- चश्मदीद

मैं वेज हूं मैं तो बाहर खाउंगा-पार्टी में जाने से पहले हमने ड्रिंक नहीं किया था. 

हिमांशु शिखरे के घर से न्यूज नेशन के रिपोर्टर को पुलिस हाटा रही है.

दिशा मैडम की कोई लेडिज मैडम दोस्त थी. हॉल में सोफा सेट था- चश्मदीद

सुशांत सिंह राजपूत केस का खुलासे का पूरा बिहार इंतजार है - रवि किशन

न्यूज नेशन के पास अगर सबूत है तो जांच जरूर होनी चाहिए, अबतक एजेंसियां मामले में संज्ञान ले चुकी होंगी- रवि किशन

मैं सत्य के साथ खड़ा हूं चाहे मेरी जान चली जाए- रवि किशन

देश में जिसने भी किया उसका बचना मुश्किल है. ये मोदी जी की सरकार है सब पर कार्रवाई होगी-रवि किशन

मुंबई पुलिस दिशा केस में जांच करेगी. 100 नंबर का केस रिकॉर्ड होते है. सारी एजेंसियों को एक्शन लेना चाहिए- रवि किशन

दिशा सालियन की मौत के बाद हिमांशु शिखरे डर हुआ है. उसने घर पर लाल कपड़ा टांगा है. घोड़े की नाल टांगी है.

दिशा सालियान के मंगेतर को सामने आकर बयान देना चाहिए, कहां गायब है उसका पता चलना चाहिए- संजना

पार्टी में शामिल लोगों से पूछताछ होनी चाहिए- राव

पुलिस ने दिशा केस की सही जांच नहीं की- रामदास आठवले

मुंबई पुलिस ने दिशा केस में सही जांच नहीं की है. सुशांत सिंह  राजपूत केस से जुड़ा है- रामदास आठवले

पार्टी में मौजूद लोगों से पूछताछ करना चाहिए था, पुलिस ने ऐसा क्यों नहीं किया- मानवी

दिशा सालियान केस में केवल बयान लिया गया है. जांच नहीं की गई है. रोहन रॉय सब कुछ जानते है.

क्या दिशा सालियान को पुस किया गया जान देने के लिए?

रोहन रॉय दिया सालियान का मंगेतर हैं. उसका कोई अता पता नहीं है. वह कहां है किसी को पता नहीं.

चश्मदीद ने बताया की उसकी जान को खतरा है.


किसी के दोस्त की मौत हो जाए और उसका दोस्त बाहर ना आए, इस मामले में शक पैदा करता है- संजीव 

ऊपर से कोई अगर बॉडी गिरती है, तो जो हवा चल रही थी. अगर बॉडी को दूर फेंका जाए तो दूर जाएगी- संजीव 

मेरा दोस्त अभी मिसिंग है, उसका कुछ पता नहीं है- चश्मदीद

पार्टी को जाना है दिशा सालियान को कुछ हुआ. उस बिल्डिंग में राइट साइड में लिफ्ट है- चश्मदीद

8 तारीख हो हम यहां पहुंचे. अपने दोस्त के साथ. मेरा दिशा सालियान से कोई कनेक्शन नहीं था- चश्मदीद

दिशा सालियान के दोस्त और पार्टी में मौजूद हिमांशु शिकरे अपने घर में मौजूद है, लेकिन सवालों का जवाब नहीं दे रहा. साथ घर से बाहर भी नहीं आ रहा है.

हिमांशु शिकरे ने दिशा सालियान केस में अबतक क्यों नहीं बोला-?

हिमांशु शिखरे उस पार्टी में मौजूद था.

सुशांत सिंह राजपूत की मर्डर मिस्ट्री क्या है. दिशा सालियान की मौत के बाद बेहद परेशान थे. वह अपनी बहन के सामने रोये भी थे. सुशांत सिंह राजपूत ने कहा था, वो लोग मुझे फंसा देंगे. 

सीबीआई ने जब पुलिस से दिशा सालियान केस की फाइल मांगी, तो पुलिस ने बताया फाइल डिलीट हो गई.

रेजेंट गैलेक्सी के कंपाउंड के बाहर दिशा सालियान का शव मिलता है

पुलिस की आदत है बॉलीवुड के सितारों की मौत को सुसाइड घोषित करना, आसान लगता है आपको- अंबर जैदी

दिशा के शरीर पर कपड़े नहीं थे. बड़े लोगों को बचाया जा रहा है- अंबर जैदी

मुंबई पुलिस दिशा केस में लगी हुई है- 

क्या दिव्या भारती की तरह इस केस को भी सुसाइड मान लिया जाए?

सारे फैक्ट दिशा की हत्या की तरफ इशारा कर रहे है- संजीव 

दिशा पार्टी शुरू होने से पहले अपने दो दोस्तों से बात करती है. तो नहीं लगता वह सुसाइड करने जा रही हैं- संजीव

सुशांत सिंह राजपूत और दिशा सालियान की मौत का गहरा फैक्टर है-संजीव 

सीबीआई को इस पूरी रिपोर्ट को देखनी चाहिए.

दिशा सालियान की मौत को मुंबई पुलिस बंद कर चुकी है. 

मुंबई पुलिस ने दिशा की मौत केस को महज 2 दिन में बंद कर दिया गया.

पुलिस की थ्योरी दिशा सालियान के सुसाइड के बारे में क्या कहती है.


 

रेजेंट गैलेक्सी में दिशा सालियान रहती थी. 14 वीं मंजिल पर रहती थीं.

सेलिब्रेटी मैनेजर थीं दिशा सालियान. भारती, सुशांत सिंह राजपूत की मैनेजर थी.

दिशा सालियान की मौत का चश्मदीद न्यूज नेशन पर उस रात का सारा सच बताएगा.

दिशा सालियान खुद को असुरक्षित महसूस कर रही थीं- मृत्युंजय

दिशा सालियान और सुशांत सिंह केस में मुंबई पुलिस संदिग्ध के घेरे में है- मृत्युंजय

सुसाइड चंद्रशेखर आजाद ने भी किया था. उन्होंने सोचा अंग्रेजों की गोली मरने से अच्छा है, खुद की गोली से मरना- मृत्युंजय

केस को दूसरी तरफ डायवर्ड कर दे, तो ये केस सुसाइड नहीं बनाता- रमेश

दिशा सालियान की मौत सुसाइड ही लगता है-रमेश कुमार

वो रात बहुत गंदी थी. उस रात को मैं भूल नहीं सकता. दिशा के साथ बहुत गलत हुआ था- चश्मदीद

सुशांत सिंह राजपूत दिशा सालियान की मौत से परेशान थे.

दिशा सालियान की मौत किन हालात में हुई.

दिशा सालियान की मौत का राज पूरा देश जानना चाहता है. क्या पार्टी के अंदर कोई नेता मौजूद था. इस पर न्यूज नेशन एक-एक खुलासा करेगा.

क्या दिशा सालियान का केस भी सीबीआई के पास जाएगा?

दिशा सालियान की मौत के बाद उनका मंगेतर राहुल क्यों सामने नहीं आया है.

सीबीआई ने अभी तक साफ नहीं किया है कि सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड किया है या उनकी हत्या हुई है.

8 जून को दिशा सालियान की मौत और सुशांत केस आपस में जुड़े थे.

First Published : 18 Sep 2020, 09:49:19 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो