News Nation Logo

कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा पर बीजेपी की लगाम, राज्य के दौरे पर उनके साथ होंगे पूर्व सीएम

कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा पर बीजेपी की लगाम, राज्य के दौरे पर उनके साथ होंगे पूर्व सीएम

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 18 Sep 2021, 10:15:01 PM
Bengaluru BJP

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

बेंगलुरु: कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा राज्य के दौरे पर जाने के लिए तैयार हैं, लेकिन भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्रियों जगदीश शेट्टार, डी.वी. पार्टी सूत्रों ने बताया कि सदानंद गौड़ा और कर्नाटक पार्टी के अध्यक्ष नलिन कुमार कतील उनके साथ हैं।

येदियुरप्पा ने घोषणा की थी कि विनायक चतुर्थी के बाद वह पार्टी को मजबूत करने के लिए राज्यव्यापी दौरे पर जाएंगे। येदियुरप्पा का एकतरफा फैसला पार्टी को रास नहीं आया क्योंकि उन्हें डर था कि यह पार्टी को मजबूत करने के बजाय वन-मैन शो बन जाएंगे। हालांकि, भाजपा के राज्य प्रभारी औन सिंह ने कहा कि येदियुरप्पा एक वरिष्ठ नेता हैं और उन्हें दौरे पर जाने की अनुमति की आवश्यकता नहीं है, सूत्रों ने कहा कि येदियुरप्पा के लिए पार्टी की अलग योजनाएं हैं।

पार्टी को यह भी आशंका थी कि येदियुरप्पा इस दौरे का इस्तेमाल अपने बेटे बी.वाई. विजयेंद्र के लिए करेंगे। केंद्रीय नेतृत्व ने कहा कि इससे मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के सुचारू कामकाज पर असर पड़ेगा।

भारतीय जनता पार्टी के सूत्रों ने पुष्टि की कि 18 और 19 सितंबर को दावणगेरे में होने वाली पार्टी की कोर कमेटी और कार्यकारी समिति की बैठकों में इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा अगले विधानसभा चुनावों में बोम्मई के नेतृत्व में पार्टी को बहुमत दिलाने की घोषणा के बाद येदियुरप्पा नरम पड़ गए, जिससे येदियुरप्पा को स्पष्ट संकेत मिला कि भविष्य में मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के चयन में उनकी कोई भूमिका नहीं होगी।

येदियुरप्पा ने कहा कि वह राज्य के दौरे के संबंध में पार्टी के निर्देशों का पालन करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी उनके बेटे बी.वाई. विजयेंद्र के चुनाव लड़ने या कैबिनेट में शामिल होने की संभावनाएं देखेगी।

पार्टी अब जगदीश शेट्टार की सेवाओं का उपयोग करेगी, जिन्होंने कहा था कि वह बोम्मई कैबिनेट में मंत्री नहीं बनेंगे क्योंकि सीएम उनसे जूनियर थे और इससे उनके स्वाभिमान को ठेस पहुंचेगी, और सदानंद गौड़ा को पार्टी को मजबूत करने के लिए केंद्रीय कैबिनेट से हटा दिया गया था।

सूत्रों ने बताया कि नेताओं का दौरा वन-मैन शो बनने के बजाय पार्टी को मजबूत करेगा क्योंकि पार्टी को येदियुरप्पा को मजबूत करने में कोई दिलचस्पी नहीं थी।

भाजपा सांसद जी.एम. सिद्धेश्वर ने पुष्टि की कि येदियुरप्पा के नेतृत्व में चार टीमें राज्यव्यापी दौरा करेंगी। उन्होंने कहा, येदियुरप्पा पार्टी में निर्विवाद नेता हैं। कोई भी उनकी नेतृत्व क्षमता पर सवाल नहीं उठा सकता है, वह राज्य के अन्य नेताओं के साथ दौरा करके पार्टी को मजबूत करेंगे।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 18 Sep 2021, 10:15:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो