News Nation Logo
Banner

सावधान! फ्राड कॉल करके लूटने वालों का ये है नया तरीका, जान लीजिए नहीं तो जेब हो जाएगी खाली

लोगों को लूटने के लिए पहले बदमाश बंदूक और चाकू का सहारा लेते थे. आज भी लेते हैं लेकिन समय के साथ बहुत सी चीजें बदल गईं. जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ी लुटेरे भी नए जमाने के होते गए और नए-नए तरीके अपनाते गए. फोन से बैंकिग फ्रॉड करना बेहद चलन में है.

By : Yogendra Mishra | Updated on: 26 Apr 2019, 02:15:09 AM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

लोगों को लूटने के लिए पहले बदमाश बंदूक और चाकू का सहारा लेते थे. आज भी लेते हैं लेकिन समय के साथ बहुत सी चीजें बदल गईं. जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ी लुटेरे भी नए जमाने के होते गए और नए-नए तरीके अपनाते गए. फोन से बैंकिग फ्रॉड करना बेहद चलन में है. लेकिन इसके नए-नए तरीके आते रहते हैं. पहले लुटेरे लॉट्री निकलने की बात कहते थे, जिसके बाद वह कई खातों में पैसा मंगाते थे. उसके बाद एक नया चलन आया जिसमें बैंक खाता बंद होने की बात कहकर जानकारी हासिल की जाती थी. लेकिन अब बदमाशों ने लोगों को लूटने का नया तरीका निकाल लिया है. मेरे एक मित्र भी इस तरीके में फंस गए. आइए जानते कि लुटेरों ने कौन सा नया तरीका निकाला है और इससे कैसे बचें.

हनी ट्रैप

लुटेरों का यह नया तरीका बिल्कुल हनी ट्रैप जैसा है. लुटेरे पहले अपने टारगेट को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं. टारगेट ज्यादातर पुरुष होते हैं और फ्रेंड रिक्वेस्ट किसी महिला की फेक आईडी से किया जाता है. उसके बारे में सारी डिटेल्स निकालते हैं. मैसेज में बात करके पता करते हैं कि उनका टारगेट क्या करता है. कहां रहता है और उसका फोन नंबर क्या है.

यह सब जानने के बाद ये बदमाश कुछ दिन शांत बैठते हैं. फिर एक दिन अचानक से आपको फोन करते हैं और कहते हैं कि 'फलां शख्स' ने हमारे बैंक से 15 लाख का लोन लिया था और आप उसमें जमानतदार (Guarantor) हैं. वह यह लोन नहीं चुका पा रहे हैं इस लिए अब आपको यह लोन देना पड़ेगा.

आप यह सुनते ही परेशान हो जाएंगे. जब आप कहेंगे कि गलत नंबर लगा होगा तो ये आपका नाम, पता और अन्य डिटेल्स बता देंगे. क्योंकि मैसेज में वह यह सारी बातें जान चुके होते हैं. आपके बारे में जब कोई अनजान शख्स बहुत सी बातें बताने लगे तो आपको लगेगा कि हो सकता है कि किसी ने मेरे डॉक्यूमेंट्स का इस्तेमाल फर्जीवाड़े में किया होगा.

यह बदमाश आपको यकीन दिलाने लगते हैं कि अगर आपने 15 लाख रुपये नहीं दिए तो आपको जेल हो जाएगी. बदमाशों का मकसद बस इतना होता है कि आप किसी तरह मामले को सेटल करने को कह दें. इतना सुनकर वह 20-30 हजार रुपये में डील करने की बात कहेंगे. वह कहेंगे कि 30 हजार रुपये दो और आपका नाम जमानतदार (Guarantor) में से काट दिया जाएगा. कई बार लोग इसमें फंस कर 4-5 हजार रुपये में डील कर लेते हैं.

क्या करें

  • अगर आप स्मार्टफोन चलाते हैं तो उसमें ऐसे एप को रखें जिससे कि कॉल करने वाले का नाम पता चल जाए. अगर फर्जी लगे तो उसे न उठाएं.
  • जब बदमाश आपको आपकी ही डिटेल्स बताए तो आप उससे उस लोन के बारे में डिटेल्स पूछ लें जिसके बारे में कहा जा रहा है.
  • आप उससे पूछिए कि यह लोन किस बारे में था. उसका कोई नंबर हो तो बताओ.
  • फ्रॉड कॉलर से आप कहिए कि लोन का नंबर दो, ताकि बैंक में जाकर उसके बारे में पता किया जाए. इस स्थिति तक आते-आते बदमाश खुद ही फोन करना बंद कर देगा. लेकिन अगर फिर भी वह न माने तो जिस बैंक का नाम ले रहा है वहां के मैनेजर को इस बारे में सूचना कर दें. और फिर FIR कर दें.

First Published : 25 Apr 2019, 11:35:09 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो