News Nation Logo

ऑस्ट्रेलिया की पहली गैस-टू-ग्रिड परियोजना सिडनी में शुरू हुई

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Jul 2022, 02:40:01 PM
Autralia flag

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

सिडनी:   ऑस्ट्रेलिया ने गंदे पानी से बायो मिथेन के गीगाजूल पैदा करने का अपना पहला परीक्षण शुरू कर दिया है, जिससे अक्षय बायोमीथेन 13,000 घरों की ऊर्जा मांगों का समर्थन करेगा।

न्यू साउथ वेल्स (एनएसडब्ल्यू) राज्य की सरकार ने मंगलवार को जांच की घोषणा की, जो सिडनी वाटर के मालाबार वेस्टवाटर रिसोर्स रिकवरी प्लांट में शुरू हो गया है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यह सिडनीसाइडर्स को विश्वसनीय और स्वच्छ गैस मुहैया कराएगी और घरों में कार्बन फुटप्रिंट को कम करने में मदद करेगी।

एनएसडब्ल्यू भूमि और जल मंत्री केविन एंडरसन ने कहा, अपशिष्ट जल संसाधन पुनप्र्राप्ति सुविधा वर्ष के अंत तक लगभग 6,300 घरों में गैस की आपूर्ति करने के लिए अपशिष्ट जल में कार्बनिक पदार्थों से लगभग 95,000 गीगाजूल बायोमीथेन बनाएगी, जिसमें 2030 तक उत्पादन दोगुना करने की क्षमता होगी।

यह पांच साल का पायलट प्रोजेक्ट सीधे आपूर्ति नेटवर्क में गैस डालेगा और एनएसडब्ल्यू में उद्योगों को अपने शुद्ध-शून्य उत्सर्जन लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करेगा, जिसमें अपशिष्ट पदार्थ को एक नए स्वच्छ ऊर्जा स्रोत में बदलने में सक्षम सुविधा होगी।

सिडनी वाटर के एसेट लाइफसाइकल के महाप्रबंधक पॉल प्लॉमैन ने कहा कि इस परियोजना से हर साल 5,000 टन कार्बन उत्सर्जन को दूर करने की उम्मीद है, जो सड़क से लगभग 2,000 कारों से निकलने वाले उत्सर्जन के बराबर है।

पहले अक्षय गैस उत्पादों को इस साल के अंत तक पूरा किया जाना है। जल्द ही सिडनी के नेटवर्क को इनकी आपूर्ति कर दी जाएगी।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 19 Jul 2022, 02:40:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.