News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

Assembly Election 2022 : चुनाव आयोग ने कहा- चुनाव ड्यूटी करने वाले कर्मचारी फ्रंटलाइन वर्कर्स  

चुनाव के लिए अधिकृत सभी कर्मचारी फ्रंटलाइन वर्कर्स (frontline workers) की श्रेणी में रखे जाएंगे. इन्हें बूस्टर डोज (Booster dose) दिया जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 08 Jan 2022, 10:12:28 PM
election commission of india

चुनाव आयोग (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

देश भर में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है. विशेषज्ञों का अनुमान है कि मध्य जनवरी से फरवरी में कोरोना का संक्रमण पीक पर होगा. चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए कोविड गाइडलाइंस के तहत चुनावी ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों के लिए विशेष सुविधाओं का ऐलान किया है. चुनाव के लिए अधिकृत सभी कर्मचारी फ्रंटलाइन वर्कर्स (frontline workers) की श्रेणी में रखे जाएंगे. इन्हें बूस्टर डोज (Booster dose) दिया जाएगा. इसके साथ ही ​प्रिकॉशनरी डोज (Prescription dose) भी दिया जाएगा. इसके साथ ही सभी पोलिंग अधिकारी वैक्सीनेटेड होंगे. बूथ पर सैनिटाइजर, हैंड ग्लब्स, मॉस्क उपलब्ध होंगे.

देश में पांच राज्यों में चुनावी तारीखों का ऐलान करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि कोरोना की सावधानियों के साथ चुनाव कराए जाएंगे. पूरी तरह से कोविड सेफ इलेक्शन होगा. दिसंबर में विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ लोगों की सुरक्षा को लेकर मीटिंग की और विभिन्न मुद्दों पर बात की. उनसे सुझाव लिए गए. स्वास्थ्य विभाग से तमाम विमर्श के बाद इसका निर्णय लिया गया है.

चुनाव आयोग ने तय कीं कोविड गाइडलाइंस

उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव का औपचारिक ऐलान हो चुका है. कोरोना महामारी के बीच होने जा रहे इन चुनावों को लेकर चुनाव आयोग ने कोविड गाइडलाइंस तय की हैं. मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि सभी बूथों पर कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुए आवश्यक चीजें मौजूद होंगी. कोरोना को देखते हुए पदयात्रा या फिजिकल रूप से जनसभा नहीं की जा सकेगी. आवश्यक होने पर फिजिकल रैली की अनुमति चुनाव आयोग से लेनी होगी, जिसमें स्थल पर आने वाले लोगों की सुरक्षा का इंतजाम संबंधित पार्टी को करना होगा.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि दिव्यांगों व कोविड पीड़ितों के लिए पोस्टल बैलेट की सुविधा रहेगी. कोरोना के बीच चुनाव को लेकर चुनाव आयुक्त ने एक शेर पढ़ते हुए कहा कि यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी लेकर चराग जलता है. उन्होंने कहा कि पोलिंग आफिसर पूरी तरह सुरक्षित होंगे, सभी चुनावकर्मियों को वैक्सीन की दोनों डोज लगी होंगी.

उन्होंने कहा कि हमारे सभी पोलिंग बूथ पूरी तरह से सैनिटाइज्ड होंगे. स्वास्थ्य विशेषज्ञों से चुनाव आयोग कर चुका परामर्श मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि चुनावी राज्यों में 15 करोड़ लोगों को पहली डोज लग चुकी है, जबकि 9 करोड़ लोग वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं. चुनाव आयुक्त ने चुनावी राज्यों की कोरोना पॉजिटिविटी रेट को देखते हुए कहा कि हमने मेडिकल एक्सपर्ट्स, हेल्थ सेक्रेटरी से भी चर्चा की है. हमने राज्य सहित जिलों में हेल्थ नोडल आफिसर तैनात किया है.

First Published : 08 Jan 2022, 10:12:28 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.