News Nation Logo

By Election :रघुवर सरकार में हुए छात्रवृत्ति घोटाले की होगी जांच : सीएम

कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष और प्रदेश प्रवक्ता सैयद जाफर का कहना है कि अफसरों की मदद से चुनाव जीतने की बात कहने वाले, जो घर व गांव में नहीं है उनके भी वोट डालने की अपील करने वाले, अब कांग्रेस पर शक करके, खुद गड़बड़ी की तैयारी कर रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 02 Nov 2020, 06:32:55 AM
By Election in 11 States

उपचुनाव अपडेट (Photo Credit: न्यूज नेशन )

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में मंगलवार को मतदान होने वाला है. मतदान को लेकर कांग्रेस ने पूरी तैयारी कर ली है. इसके तहत पार्टी हर मतदान केंद्र पर 30 कार्यकतार्ओं की तैनाती करने जा रही है. राज्य में 28 विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव हो रहे हैं, कांग्रेस को मतदान के दौरान गड़बड़ी होने की आशंका है और उसी के मद्देनजर उसने हर बूथ पर 30 कार्यकर्ताओं को तैनात करने का फैसला किया है.

कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष और प्रदेश प्रवक्ता सैयद जाफर का कहना है कि अफसरों की मदद से चुनाव जीतने की बात कहने वाले, जो घर व गांव में नहीं है उनके भी वोट डालने की अपील करने वाले, अब कांग्रेस पर शक करके, खुद गड़बड़ी की तैयारी कर रहे हैं. जाफर ने आगे कहा कांग्रेस चुनाव आयोग को भाजपा के गैरकानूनी हथकंडे बताएगी. हर बूथ पर 30 कांग्रेसियों की फौज तैनात की जाएगी. वोटरों से अपील है कि वे मतदान बेखौफ होकर करें.

 

विवादित बयान पर कमलनाथ को SC से मिली राहत, EC के आदेश पर कोर्ट ने लगाई रोक


सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश विधान सभा की 28 सीटों के लिये हो रहे उपचुनाव के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ का स्टार प्रचारक का दर्ज वापस लेने के निर्वाचन आयोग के आदेश पर सोमवार को रोक लगा दी. प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना और न्यायमूर्ति वी रामासुब्रमणियन पीठ से निर्वाचन आयोग के वकील ने कहा कि कमलनाथ की याचिका अब निरर्थक हो गयी है क्योंकि इन सीटों के लिये चुनाव प्रचार बंद हो गया है और वहां कल मतदान है.

हरियाणा के सोनीपत जिले में बरोदा विधानसभा सीट पर तीन नवंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए प्रचार अभियान रविवार को समाप्त हो गया. भाजपा ने मतदाताओं को विकास के मुद्दे पर लुभाने की कोशिश की, जबकि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने सत्ताधारी दल पर ग्रामीण क्षेत्र की ‘उपेक्षा’ करने के लिए निशाना साधा.


कांग्रेस विधायक कृष्ण हुड्डा के निधन के बाद अप्रैल में बरोदा सीट खाली हो गई थी. हुड्डा ने 2009, 2014 और 2019 विधानसभा चुनावों में इस सीट से जीत हासिल की थी. बरोदा से 14 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें पहलवान से नेता बने भाजपा उम्मीदवार योगेश्वर दत्त शामिल हैं. उन्हें भाजपा की सहयोगी पार्टी जजपा का समर्थन प्राप्त है.


कांग्रेस की ओर से जिला परिषद के पूर्व सदस्य इंदु राज नरवाल हैं, जबकि भारतीय राष्ट्रीय लोकदल ने जोगिंदर सिंह मलिक को मैदान में उतारा है. सात निर्दलीय उम्मीदवार और अन्य दलों के चार उम्मीदवार भी चुनाव मैदान में हैं. इनमें लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के प्रमुख व कुरुक्षेत्र के पूर्व सांसद राज कुमार सैनी भी शामिल हैं. मतों की गिनती 10 नवंबर को होगी. 

रघुवर सरकार में हुए छात्रवृत्ति घोटाले की होगी जांच : सीएम 


दुमका विधानसभा उपचुनाव में चुनाव प्रचार का शोर थमने से पूर्व रविवार को मुख्यमंत्री सह झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने बीजेपी की पूर्व की सरकार को एक बार फिर घेरा. खिजुरिया स्थित आवास पर पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि झारखंड में रघुवर सरकार के कार्यकाल में छात्रवृत्ति घोटाला हुआ था.

ग्वालियर के महल से शुरू हुई कहानी खत्म कर देश को संदेश देने का मौका : कमल नाथ


मध्यप्रदेश में होने जा रहे विधानसभा उप-चुनाव के प्रचार के अंतिम दिन पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम लिए बगैर उन पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि उप-चुनाव में ग्वालियर के महल से शुरू हुई कहानी को खत्म कर देश को संदेश देने का मौका है.


ग्वालियर में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए कमल नाथ ने कहा, "आज उप-चुनाव के प्रचार का समापन मैं वही पर करने जा रहा हूं, जहां से यह कहानी शुरू हुई थी. मैंने पहले ही तय किया था कि हम प्रचार के अंतिम दिन का समापन ग्वालियर में ही करेंगे. आप सभी को पता है कि यह कहानी कौन से महल से, कौन से मकान से शुरू हुई थी? आप सभी को इस कहानी को यही पर खत्म कर देशभर में संदेश देना है."

झारखंड की दुमका सुरक्षित एवं बेरमो विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को दोनों सीटों के लिए मतदान होगा. राजग की तरफ से भाजपा प्रत्याशी लुईस मरांडी के पक्ष में पूर्व मुख्यमंत्रियों बाबुलाल मराण्डी, रघुवर दास और अर्जुन मुंडा के अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश, सांसद निशिकांत दूबे सहित अनेक नेताओं ने अपनी ताकत झोंकी.


वहीं दूसरी ओर झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन की जीत के लिये स्वयं उनके बड़े भाई तथा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के अलावा प्रमुख रूप से मंत्री बादल पत्रलेख, विधायक इरफान अंसारी, मंत्री आलमगीर आलम, सत्यानंद भोक्ता के अलावा रामेश्वर ऊराँव, बन्ना गुप्ता, राजद राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य संजय यादव आदि ने प्रचार किया.

कमलनाथ ने सवा रूपए का भी विकास कार्य नहीं कराया- शिवराज सिंह


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाटपिपल्या, सुवासरा के शामगढ़, आगर और ब्यावरा में भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में रोड शो एवं सभाओं में कहा, "पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और विकास कार्यों का कोई तालमेल नहीं था. यही कारण रहा कि कमलनाथ प्रदेश में सवा साल तक मुख्यमंत्री रहे, लेकिन उन्होंने सवा रूपए के विकास कार्य नहीं कराए. बल्कि जो काम भाजपा सरकार ने शुरू किए थे, उन्हें भी बंद करवा दिया.


कमलनाथ ने विकास कार्य तो कोई करवाए नहीं हमारी कई योजनाओं को भी बंद कर दिया. ये योजनाएं प्रदेश के गरीबों, किसानों, माताओं-बहनों, बेटियों, बुजुर्गों और युवाओं के लिए संचालित थीं, लेकिन कमलनाथ ने उनसे यह हक भी छीन लिया."

First Published : 02 Nov 2020, 06:29:48 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.