News Nation Logo

By Election : कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का ऑडियो वायरल

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. जिसमें वह ग्वालियर से सपा के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे रोशन मिर्जा से बातचीत का है. इसमें मिर्जा के चुनाव लड़ने का लाभ भाजपा को होने की बात कह रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 29 Oct 2020, 06:34:41 AM
Digvijay Singh

दिग्विजय सिंह का एक ऑडियो वारयल (Photo Credit: IANS)

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश में हो रहे विधानसभा के उपचुनाव में नेताओं के वीडियो और ऑडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं. नया ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसे कथित तौर पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का बताया जा रहा है. इस ऑडियो की न्यूज नेशन पुष्टि नहीं करता. वायरल हो रहे ऑडियो में कथित तौर पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और ग्वालियर से सपा के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे रोशन मिर्जा से बातचीत का है. इसमें मिर्जा के चुनाव लड़ने का लाभ भाजपा को होने की बात पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा कही जा रही है.

साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री सिंह की ओर से मिर्जा को यह भरोसा दिलाया जा रहा है कि उम्मीदवारी वापस ले लें तो कांग्रेस पार्टी उनका सहयोग करेगी. यह ऑडियो समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेताओं तक भेजा गया है, इसके अलावा पार्टी इस बात पर मंथन कर रही है कि आगे किस तरह के कदम बढ़ाए जाएं. हो सकता है कि सपा इस ऑडियो को लेकर चुनाव आयोग भी जाए.

 

LIVE TV NN

NS

NS

कोरोना काल के बीच मध्यप्रदेश में उपचुनाव को लेकर सूबे की सियासत गरमाई हुई है. मध्य प्रदेश में उपचुनाव का बिगुल बज चुका है. और इस दौर में सबसे ज्यादा प्रतिष्ठा पूर्ण मानी जा रही इंदौर की सांवेर विधानसभा सीट, जहां कांग्रेस और भाजपा की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है.

पैसे बांटने पर उम्मीदवार को मिला नोटिस


ग्रामीण को पैसे देते हुए कैमरे में कैद होने के बाद घाटमपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. कृपा शंकर संखवार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू हो गई है. संखवार को नोटिस जारी किया गया है. इस सीट पर 3 नवंबर को उपचुनाव होने हैं. बुधवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया जिसमें गांव में चुनाव प्रचार के दौरान उम्मीदवार संखवार एक व्यक्ति को नोट देते हुए नजर आ रहे हैं.

इस वीडियो के सामने आने के बाद प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवारों ने आरोप लगाया गया है कि कांग्रेस उम्मीदवार निर्वाचन क्षेत्र में पैसे बांटकर मतदाताओं को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं. घाटमपुर के उप-मंडल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) अरुण कुमार ने कहा, "कथित वीडियो पर संज्ञान लेते हुए हमने कांग्रेस उम्मीदवार को नोटिस जारी किया है."

वहीं भाजपा अध्यक्ष (ग्रामीण) कृष्ण मुरारी शुक्ला ने कहा, "वीडियो में उम्मीदवार को एक व्यक्ति को पैसे देते हुए स्पष्ट रूप से देखा गया है. वह मतदाताओं को पैसे देकर उन्हें प्रभावित करने की कोशिश कर रहे थे. यह साफ तौर पर चुनाव आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है. हमने चुनाव आयोग को शिकायत भेजी है. "

हालांकि संखवार ने आरोप से इनकार किया और कहा, "मैं चुनाव प्रचार के दौरान एक ग्रामीण को अपना विजिटिंग कार्ड दे रहा हूं. यह एक साजिश है और किसी ने मुझे ब्लैकमेल करने के लिए वीडियो बनाया है."

उपचुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, अन्नू टंडन ने छोड़ी पार्टी


उत्तर प्रदेश में उपचुनाव के पहले कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है. पार्टी की कद्दावर नेता अन्नू टंडन ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है. बता दें कि अन्नू टंडन उन्नाव से 2009 में सांसद का चुनाव जीती थीं. अन्नू टंडन ने अपना इस्तीफा पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेज दिया है. साथ ही अन्नू टंडन ने एक प्रेस रिलीज भी जारी किया है. उन्होंने कांग्रेस में रहते हुए पंद्रह सालों मे मिले सहयोग के लिए सोनिया गांधी का आभार जताया. साथ ही अन्नु टंडन ने अपने इस्तीफे में प्रदेश नेतृत्व से सहयोग नहीं मिलने का आरोप लगाया है. 


हेमंत सोरेन ने बीजेपी पर साधा निशाना


झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि महंगाई के लिए भाजपा की नीतियां जिम्मेदार हैं. आज प्याज की कीमतें 70 रूपये और आलू 40-50 रूपये के भाव बिक रहे हैं. झारखंड में रघुवर दास को सत्ता से बेदखल करने के बाद आज शोषण थमा है, लेकिन खतरे कम नहीं हुए हैं. आज ऐसी नीतियां दिल्ली में बनायी जा रही हैं, जिससे गरीबों के लिए खतरा पैदा हो हो रहा है.

शिवराज सरकार आई और घोटाले लाई : कांग्रेस


कांग्रेस की मध्यप्रदेश इकाई ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर बड़ा हमला बोला है और आरोपपत्र जारी कर कहा है कि शिवराज सरकार के आते ही घोटालों की शुरुआत हो गई है. विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने बुधवार केा आरोप पत्र जारी करते हुए कहा है कि शिवराज सिंह चौहान द्वारा अपने पिछले कार्यकाल में किए गए घोटालों और भ्रष्टाचार के प्रमाण अब भी जमीन पर खड़े हैं.


विदिशा में वेयरहाउस, विशालकाय डेयरी, ससुराल गोंदिया में रिश्तेदारों की संपत्ति, पुत्रों की अमेरिका में पढ़ाई के खर्चे, भोपाल में भाइयों की संपत्ति, यह सब बातें शिवराज सिंह चैहान के तथाकथित गरीब जीवन और उनके द्वारा किए गए घोटालों से जुड़ी जनश्रुतियों के हिस्से हैं और इतिहास में दर्ज भी हो चुके हैं.

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया है कि शिवराज सिंह चैहान के नेतृत्व वाली सरकार ने सात माह में 17 घोटाले किए हैं. शिवराज सरकार के काल में ग्वालियर में आटा घोटाला हुआ है. गरीब-मजदूरों को 10 किलो आटे के पैकेट में महज छह किलो से लेकर आठ किलो तक आटा दिया गया. इसी तरह कोरोना काल में जनता की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए बांटे गए त्रिकूट चूर्ण में भी घोटाला हुआ है.

First Published : 29 Oct 2020, 06:34:41 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.