News Nation Logo
Banner

संसद में गोडसेगीरी नहीं चलेगी, साध्वी प्रज्ञा के बयान पर बोले ओवैसी

इससे पहले उन्होंने कहा था, ये पहली बार नहीं है जब उन्होंने इस तरह का बयान दिया है. यह दिखाता है कि वो गांधी और उनके समर्थकों की दुश्मन है

By : Aditi Sharma | Updated on: 28 Nov 2019, 02:20:27 PM
असदुद्दीन ओवैसी

असदुद्दीन ओवैसी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

नाथुराम गोडसे को देशभक्त बता कर विवादों में बीजेपी सासंद प्रज्ञा ठाकुर की मुश्किले बढ़ती जा रही है. गुरुवार को लोकसभा में इस मामले को लेकर जमकर हंगामा हुआ. AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश किया. इसी के साथ उन्होंने कहा, संसद में गोडसे गिरी नहीं चलेगी. उन्होंने कहा, 'संसद में प्रज्ञा ठाकुर नें आतंकवादी का महिमामंडन किया. उन्होंने नियमों का उल्लंघन किया है.

इससे पहले उन्होंने कहा था, ये पहली बार नहीं है जब उन्होंने इस तरह का बयान दिया है. यह दिखाता है कि वो गांधी और उनके समर्थकों की दुश्मन है. इसके साथ ही ओवैसी ने ये भी कहा कि जो एकश्न हुआ वो केवल आंखो का धोखा है.

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी साध्वी प्रज्ञा पर निशाना साधते हुए ट्वीट भी किया है. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, 'आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को देशभक्त बताया भारतीय संसद के इतिहास में सबसे दुखद दिन'.

यह भी पढ़ें: शपथ ग्रहण से पहले अजित पवार के लापता होने की खबर, मोबाइल फोन भी बंद

बता दें, प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने ये बयान बुधवर को उस समय दिया जब एसपीजी संशोधन बिल पर बहस चल रही थी. द्रमुक सांसद ए. राजा ने बहस के दौरान महात्मा गांधी की हत्या से जुड़े नाथूराम गोडसे के बयान का हवाला दिया. यह सुनते ही बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर खड़ीं होकर चीख पड़ीं. उन्होंने गोडसे को देशभक्त बताते हुए ए. राजा के बयान का विरोध किया. इस पर हंगामा हुआ और लोकसभा की कार्यवाही से उनके बयान को हटा दिया गया.

यह भी पढ़ें: ट्विटर पर टॉप ट्रेंड में आईं प्रज्ञा ठाकुर और नाथूराम गोडसे, साध्वी के समर्थन में आए हजारों लोग

इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान साध्वी प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताकर विवाद पैदा किया था. उस दौरान पार्टी ने उनसे स्पष्टीकरण भी मांगा था. सूत्र बता रहे हैं कि बीजेपी सदन में भी नाथूराम गोडसे को देशभक्त करार देने वाले बयान के बाद साध्वी प्रज्ञा पर कार्रवाई की गई है. बताया जा रहा है कि सरकार ने उन्हें रक्षा मंत्रालय की संसदीय सलाहकार समिति से हटा दिया है. जानकारी के मुताबिक उन्हें पार्टी से भी सस्पेंड किया जा सकता है.

First Published : 28 Nov 2019, 02:18:03 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×