News Nation Logo
Banner

दिल्ली: निजी वाहन छोड़ने वालों के लिए प्रीमियम बस सर्विस

दिल्ली: निजी वाहन छोड़ने वालों के लिए प्रीमियम बस सर्विस

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 Aug 2022, 10:25:01 PM
Arvind KejriwalphotoTwitter

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   दिल्ली की सड़कों पर प्रीमियम बसें शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इन बसों में सभी यात्रियों के लिए बैठने की सुविधा होंगी। इसमें एप सपोर्ट, सीसीटीवी और पैनिक बटन आदि की सुविधा होगी। सवारी की बुकिंग और डिजिटल पेमेंट करने के लिए यह सर्विस वन दिल्ली एप के साथ एकीकृत होंगी।

इस दिल्ली मोटर व्हीकल लाइसेंसिंग ऑफ एग्रीगेटर्स (प्रीमियम बसें) योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में बुधवार को उच्च स्तरीय बैठक की गई। यह योजना कार का उपयोग करने वालों को प्रीमियम सार्वजनिक परिवहन की ओर अग्रसर होने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

प्रीमियम बस सेवाओं को बढ़ावा देने से प्रदूषण और इंट्रा-सिटी ट्रिप को कम करने में भी मदद मिलेगी। बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारा उद्देश्य ऐसे सभी लोगों को प्रोत्साहित करना है जो कि हर रोज इंट्रासिटी यात्रा करते हैं। एप-आधारित एग्रीगेटर योजना के तहत सभी आधुनिक सुविधा से लैस बसें चलाएंगे। सभी बसें बीएस-6 मानकों का पालन करने वाली वातानुकूलित सीएनजी या इलेक्ट्रिक होंगी। इस योजना के तहत 1 जनवरी, 2024 के बाद शामिल होने वाली सभी बसें केवल इलेक्ट्रिक होंगी।

इस योजना का उद्देश्य सार्वजनिक परिवहन में एक सामान्य बदलाव को प्रोत्साहित करना और प्रीमियम बस सेवाओं को बढ़ावा देकर शहर के अंदर यात्राओं को कम करना है, जिससे दिल्ली में वायु प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी। ऐसे यात्री जो सार्वजनिक परिवहन में यात्रा करने की इच्छा रखते हैं और बेहतर सुविधा वाली आरामदायक परिवहन सेवा चाहते है उनके लिए यह काफी फायदेमंद साबित होगी।

इस योजना के उद्देश्यों को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्लीवासियों को उच्च गुणवत्ता वाली एप आधारित प्रीमियम बसें उपलब्ध कराने के लिए एक बड़ी परियोजना शुरू की है। हम ऐसी प्रीमियम बस सेवा प्रदान करना चाहते हैं ताकि लोग अपने निजी वाहनों को छोड़कर सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल करें। दिल्ली सरकार राष्ट्रीय राजधानी में प्रीमियम बसों के संचालन के लिए एग्रीगेटर्स के साथ सहयोग करेगी। ये एप-आधारित एग्रीगेटर निजी कारों को चलाने वालों से अपील करने के लिए आधुनिक सुविधा से लैस अगली पीढ़ी की बसें चलाएंगे।

योजना के तहत लाइसेंस प्राप्त प्रत्येक एग्रीगेटर 90 दिनों के अंदर चालू होने वाली न्यूनतम 50 प्रीमियम बसों के बेड़े का संचालन और रखरखाव करेगा।

एग्रीगेटर उन मार्गों को निर्धारित करने में सक्षम होगा जिन पर वाहन चलेंगे। ऐसे मार्गों को मोबाइल या वेब-आधारित एप्लिकेशन पर अधिसूचित किया जाएगा। एग्रीगेटर कोई नया मार्ग शुरू करते समय या किसी मार्ग को संशोधित समाप्त करते समय परिवहन विभाग को सूचित करेगा। मौजूदा मार्गों में कोई भी बदलाव करने से पहले परिवहन विभाग और आम जनता को 7 दिनों की पूर्व सूचना दी जाएगी।

एग्रीगेटर मार्ग गंतव्यों के लिए किराया निर्धारित करने में सक्षम होंगे। किराया मोबाइल और वेब-आधारित एप्लिकेशन पर प्रदर्शित किया जाएगा। यात्री केवल मोबाइल और वेब-आधारित एप्लिकेशन सुविधाओं के माध्यम से टिकट प्राप्त कर सकेंगे और कोई भी फिजिकल टिकट जारी नहीं किया जाएगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 Aug 2022, 10:25:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.