News Nation Logo
Banner

आपातकाल के समय जब 19 महीने जेल में बंद रहे थे अरुण जेटली

अरुण जेटली छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय थे. साल 1975 में आपातकाल के दौरान अरुण जेटली उन मुखर नेताओं में शामिल रहे.

By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 24 Aug 2019, 03:11:26 PM
28 दिसंबर 1952 को दिल्ली में हुआ था अरुण जेटली का जन्म

28 दिसंबर 1952 को दिल्ली में हुआ था अरुण जेटली का जन्म

नई दिल्ली:

बीजेपी के कद्दावर नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार दोपहर दिल्ली के एम्स अस्पताल में 66 वर्ष की उम्र में निधन हो गया. अरुण जेटली छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय थे. साल 1975 में आपातकाल के दौरान अरुण जेटली उन मुखर नेताओं में शामिल रहे. जेटली ने देश में आपातकाल के खिलाफ सड़क पर उतर कर विरोध किया था. इस वजह से अरुण जेटली को उस वक्त जेल भी जाना पड़ा था.

अरुण जेटली का जन्म 28 दिसंबर 1952 को दिल्ली में हुआ था. अरुण जेटली ने अपनी पढ़ाई दिल्ली के सेंट जेवियर्स स्कूल से 1957-69 में पूर्ण की थी. 1975 में इमरजेंसी का विरोध करने के बाद उन्‍हें 19 महीनों तक नजरबंद रखा गया था. उनके साथ कई छात्र नेता जेल में थे. इस दौरान कई बड़े नेताओं से उनकी मुलाकात हुई थी. उन्होंने जेटली की बोलने की कला को काफी पसंद किया था.

यह भी पढ़ें- वित्त मंत्री के तौर पर कैसा था अरुण जेटली का 5 साल का कार्यकाल, पढ़ें पूरी खबर

अरुण जेटली 1973 में ही जयप्रकाश नारायण और राजनारायण द्वारा चलाए जा रहे भ्रष्‍टाचार विरोधी आंदोलन में कूद गए थे. इसके बाद 1974 में वे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़ गए. इमरजेंसी के बाद 1977 में वे सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट में वकालत की तैयारी करने लगे थे.

1991 में उन्होंने विधिवत बीजेपी ज्वाइन की और 1999 में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वे सूचना और प्रसारण मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बने. बाद में उन्होंने कानून, न्याय और कंपनी मामलों के मंत्रालय का कार्यभार भी संभाला था.

First Published : 24 Aug 2019, 03:11:26 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×