News Nation Logo
Banner

LAC पर तनाव के बीच PLA डे के दिन भारत चीन के बीच शुरू हुई एक और हॉटलाइन

LAC पर जारी तनाव के बीच भारत और चीन ने शान्ति प्रयासों की राह में चंद कदम आगे बढ़ाये हैं. भारतीय सेना और पीपल लिब्रेशन ऑफ आर्मी ने एक और हॉटलाइन शुरू करने की साझी घोषणा की है.

Written By : मधुरेंद्र | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 01 Aug 2021, 10:31:43 PM
indo china

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली :

LAC पर जारी तनाव के बीच भारत और चीन ने शान्ति प्रयासों की राह में चंद कदम आगे बढ़ाये हैं. भारतीय सेना और पीपल लिब्रेशन ऑफ आर्मी ने एक और हॉटलाइन शुरू करने की साझी घोषणा की है. दोनों देशों के बीच यह नई हॉटलाइन भारत की तरफ नार्थ सिक्किम के कोंग्राला में स्थित होगी तो वहीं चीन की तरफ इसका केंद्र तिब्बत के खाम्बा डजोंग इलाके में होगा. इसका मकसद दोनों देश की सेनाओं के बीच इस क्षेत्र में भरोसा, विश्वास और आपसी संबंधों को बढ़ाना है. इस साल की शुरुआत में 20 जनवरी को, भारतीय और चीनी सैनिक शारीरिक रूप से उत्तरी सिक्किम के नकुला के ऊंचाई वाले इलाके में भिड़ गए थे, जिसमें भारतीय सैनिकों द्वारा भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने के प्रयास को भारतीय सैनिकों द्वारा विफल करने के बाद दोनों पक्षों के कई सैनिक घायल हो गए थे.

पीएलए वास्तविक नियंत्रण रेखा पर मुखरता दिखा रहा है, यहां तक कि भारतीय सेना आक्रामक कार्रवाई का जवाब देने के लिए उच्च सतर्कता की स्थिति में है. मामूली आमना-सामना स्थानीय कमांडरों द्वारा स्थापित प्रोटोकॉल के अनुसार हल किया गया था.पिछले साल 9 मई को नाकू ला में भी दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी, जिसमें दोनों पक्षों के कई सैनिक घायल हो गए थे. यह 5-6 मई को पूर्वी लद्दाख के उत्तरी तट पर हिंसक झड़पों के बाद हुआ, जब पीएलए भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ के कई प्रयास कर रहा था.

इसकी घोषणा एक अगस्त को हुई जिसे PLA डे के तौर पे जाना जाता है.
इसी दिन 1927 में चीन के पीपल लिब्रेशन ऑफ आर्मी यानी पीएलए की स्थापना हुई थी. इसी के साथ अब भारत और चीन के बीच सीमा पे 6 हॉटलाइन स्थापित हो गयी है. इनमे से 2 ईस्टर्न लद्दाख, 2 सिक्किम और 2अरुणाचल प्रदेश में है.

दोनों देशो के बीच 6 हॉटलाइन
आर्मी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक दोनों देशों के बीच कम्युनिकेशन के लिये ग्राउंड पर कमांडर स्तर  की व्यवस्था है. सीमा पर शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये सबसे ज्यादा जरूरत इन हॉटलाइन की होती है जिसके जरिये दोनो तरफ के कमांडर एक दूसरे से बातचीत करते है और किसी भी समस्या का त्वरित निपटारा बातचीत के जरिये करते हैं. 

दोनों सेनाओं के बीच सद्भाव की कोशिश
इस हॉटलाइन के उद्घाटन मौके पर दोनों देश के कमांडर अपने अपने स्पॉट पर मौजूद थे और दोनों के बीच हॉटलाइन पर इस दौरान  बातचीत भी हुई जिमसें सद्भाव और मित्रता का उल्लेख किया गया.

कॉर्प्स कमांडर स्तर की बातचीत
दोनो देशो के बीच बातचीत का यह नया आयाम मोल्डो गैरिसन में कॉर्प्स कमांडर स्तर बातचीत के ठीक अगले दिन शुरू हुआ. इस बातचीत में LAC पर जारी तनाव को कम करने औऱ खासकर गोग्रा और होटस्प्रिंग में डीसेंगजमेंट की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने पर बातचीत सकरात्मक दिशा में हुई थी.

First Published : 01 Aug 2021, 10:15:49 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.