News Nation Logo

एएमयू लैंड लीज मामला: यूपी सरकार ने दिए जांच के आदेश

एएमयू लैंड लीज मामला: यूपी सरकार ने दिए जांच के आदेश

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 07 Oct 2021, 04:55:01 PM
AMU land

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने दिवंगत राजा महेंद्र प्रताप सिंह द्वारा 1929 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को पट्टे पर दी गई जमीन की जांच के आदेश दिए हैं।

अलीगढ़ के आयुक्त को जांच करने के लिए कहा गया है और उन्होंने अलीगढ़ के जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी है।

अलीगढ़ के आयुक्त गौरव दयाल ने कहा, इस संबंध में एक पत्र अतिरिक्त मुख्य सचिव एसपी गोयल से प्राप्त हुआ था। जांच की जाने वाली बात स्वर्गीय राजा महेंद्र प्रताप सिंह द्वारा अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को 90 साल के लिए पट्टे पर दी गई जमीन से संबंधित है। लीज की अवधि समाप्त हो चुकी है और इसलिए अलीगढ़ के जिलाधिकारी से रिपोर्ट मांगी गई है।

स्वर्गीय राजा महेंद्र प्रताप सिंह एक प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी, समाज सुधारक और शिक्षाविद थे।

उन्होंने 1929 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को अपनी जमीन 90 साल के लिए लीज पर दी थी। लीज की अवधि समाप्त हो गई है, लेकिन मुख्यमंत्री कार्यालय में दर्ज शिकायत के अनुसार, दिवंगत राजा महेंद्र प्रताप सिंह के कानूनी वारिसों को जमीन वापस नहीं की गई है।

शिकायत अलीगढ़ के एक सामाजिक संगठन आहुति के अशोक चौधरी ने दर्ज कराई है।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने अलीगढ़ के आयुक्त को मामले की जांच कर रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है।

एएमयू को पट्टे पर दी गई उक्त भूमि पर तिकोनिया पार्क और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय द्वारा संचालित सिटी स्कूल है।

राजा महेंद्र प्रताप सिंह के कानूनी वारिसों ने एएमयू को उस जमीन को सौंपने का सुझाव दिया था जिस पर तिकोनिया पार्क बना है और एएमयू द्वारा संचालित शहर के स्कूल का नाम राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर रखा जाए।

इस संबंध में प्रस्ताव पर विचार करने के लिए एएमयू कार्यकारी परिषद द्वारा कुलपति की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया था।

संपर्क करने पर एएमयू के प्रवक्ता प्रोफेसर शफी किदवई ने स्वीकार किया कि राजा महेंद्र प्रताप सिंह के कानूनी वारिसों के प्रस्ताव पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की कार्यकारी समिति ने विचार किया था। हालांकि, अभी तक कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

प्रो शैफी किदवई ने कहा, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय की कार्यकारिणी परिषद उस जमीन को वापस देने के लिए तैयार थी, जिस पर तिकोनिया पार्क स्थित है। इसके अलावा, कार्यकारी समिति ने कहा कि यह स्वीकार्य है कि बाकी भूमि पर एएमयू द्वारा संचालित सिटी स्कूल का नाम राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर रखा जाएगा। एएमयू के पूर्व छात्र, और इस जमीन के पट्टे को बढ़ाया जाए।

पिछले महीने, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ के पास राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर बनने वाले एक विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी थी। अलीगढ़ के 396 डिग्री कॉलेजों को इस आगामी विश्वविद्यालय से संबद्ध किया जाना है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 07 Oct 2021, 04:55:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो