News Nation Logo

यास तूफान को लेकर अमित शाह ने कोविड अस्पतालों को दिए ये निर्देश

देश के गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने चक्रवाती तूफान यास से निपटने के लिए सोमवार को ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ तैयारियों का जायजा लिया.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 24 May 2021, 10:43:39 PM
amit shah1

अमित शाह ने कोविड अस्पतालों को दिए ये निर्देश (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश के गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने चक्रवाती तूफान यास से निपटने के लिए सोमवार को ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ तैयारियों का जायजा लिया. गृह मंत्री ने उन्हें कोविड के लिए समर्पित अस्पतालों में पावर बैकअप की व्यवस्था करने, ऑक्सीजन उत्पादन केंद्रों और अन्य चिकित्सकीय सुविधाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है. शाह ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से यह बैठक की और इस दौरान उन्होंने चक्रवाती तूफान यास से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के उपराज्यपाल के साथ-साथ केंद्रीय मंत्रालयों और एजेंसियों की तैयारियों का आकलन करने के लिए उनसे बातचीत की.

यह बैठक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार की समीक्षा बैठक के बाद हुई है. अमित शाह ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वाहनों की आवाजाही में संभावित व्यवधान आने की बात को ध्यान में रखते हुए अस्पतालों में सभी आवश्यक दवाओं और आपूर्ति का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करने की सलाह दी.

गृह मंत्री ने चक्रवात से प्रभावित होने की संभावना वाले अस्थायी अस्पतालों सहित अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं को नुकसान से बचने के लिए पर्याप्त व्यवस्था करने और यदि आवश्यक हो तो रोगियों को पहले से ही वहां से निकालकर कहीं और शिफ्ट करने की सलाह दी. शाह ने कहा कि इस संबंध में पश्चिमी तट पर की गई अग्रिम कार्रवाई ने सुनिश्चित किया है कि चिकित्सकीय सुविधा पर किसी भी तरह का कोई प्रतिकूल प्रभाव न पड़े.

उन्होंने पश्चिम बंगाल, ओडिशा और आंध्र प्रदेश में स्थित ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों पर चक्रवात के प्रभाव की भी समीक्षा की और उन्हें दो दिनों के लिए ऑक्सीजन का बफर स्टॉक रखने और आवंटित राज्यों में ऑक्सीजन टैंकरों की आवाजाही के लिए योजना बनाने की सलाह दी, ताकि यदि कोई व्यवधान आए भी तो उससे, आवंटित राज्यों की आपूर्ति प्रभावित न होने पाए.

चक्रवाती तूफान यास : पोर्ट ब्लेयर एयरपोर्ट पर उड़ानों के संचालन पर लगी रोक

चक्रवाती तूफान यास के कारण हुए खराब मौसम के चलते पोर्ट ब्लेयर हवाई अड्डे पर हवाई संचालन पर रोक लगा दी गई है. भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अनुसार, भारी बारिश और 20-25 समुद्री मील की हवाओं का 35 समुद्री मील तक घनीभूत होने के चलते यह कदम उठाना आवश्यक समझा गया. प्राधिकरण ने अपने एक बयान में कहा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में स्थित पोर्ट ब्लेयर हवाई अड्डे पर अनुसूचित नागरिक उड़ान संचालन को आज 24 मई, 2021 के लिए निलंबित कर दिया गया है.

मौसम विभाग के साथ मिलकर प्राधिकरण में सीनियर मैनेजमेंट द्वारा दक्षिणी और पूर्वी भारत के अन्य सभी हवाई अड्डों पर स्थिति की लगातार निगरानी की जा रही है. नागरिक उड्डयन के सचिव ने निर्देश दिया है कि नुकसान को कम करने के लिए चक्रवात से प्रभावित होने वाले सभी हवाई अड्डों पर निवारक उपाय किए जाएं.

बयान के अनुसार, भुवनेश्वर, कोलकाता, झारसुगुड़ा और दुगार्पुर हवाई अड्डे पर उड़ानों का संचालन चक्रवात से प्रभावित हो सकता है. इसके अलावा, रांची, पटना, रायपुर, जमशेदपुर, बागडोगरा, कूचबिहार, विशाखापट्टनम और राजमुंदरी हवाई अड्डों को चक्रवाती हवाओं के मार्ग बदलने की स्थिति में अलर्ट रहने का निर्देश दिया गया है.

अखिल भारतीय मौसम पूवार्नुमान बुलेटिन के मुताबिक, पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर गहरा दबाव पिछले 6 घंटों के दौरान व्यावहारिक रूप से स्थिर रहने के बाद चक्रवाती तूफान यास के धीरे-धीरे उत्तर-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है. कहा जा रहा है कि यह अगले 24 घंटे में गंभीर और इसके बाद के 24 घंटे में अधिक गंभीर तूफान में बदल सकता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 24 May 2021, 10:43:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो