News Nation Logo

Goa Congress में फूट की अफवाह: अपने 5 विधायकों को भेजा चेन्नई 

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 16 Jul 2022, 08:49:10 PM
Goa Congress

Goa Congress (Photo Credit: File)

पणजी:  

Goa Congress : विधानसभा की कार्यवाही समाप्त होने के बाद कांग्रेस (Congress) ने गोवा (Goa) के पांच विधायकों को कल शाम चेन्नई के लिए रवाना कर दिया. विधायक शहर के एक फाइव स्टार होटल में ठहरे हुए हैं. विधायकों को दूसरे राज्य में भेजने का यह मामला 18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव (President Election) से ठीक पहले सामने आया है. कांग्रेस को डर है कि कुछ विधायक क्रॉस वोट (Cross vote) कर सकते हैं, जिससे पार्टी को और शर्मिंदगी उठानी पड़ सकती है. सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस विधायक संकल्प अमोनकर, एल्टन डकोस्टा, कार्लोस अल्वारेस, रुडोल्फ फर्नांडीस और यूरी अलेमो चेन्नई में हैं. संकल्प अमोनकर कांग्रेस विधायक दल के उपनेता भी हैं.

पांच में से एक विधायक ने बताया कि वे शुक्रवार रात चेन्नई के लिए निकले थे. गोवा कांग्रेस के अध्यक्ष अमित पारकर ने कहा कि उन्हें घटनाक्रम की जानकारी नहीं है. "हम कल एक बैठक करेंगे. मैं इन घटनाक्रमों के बारे में नहीं जानता और हम देखेंगे कि सोमवार को क्या होता है. गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत (Digambar kamat) ने कहा, "इस मामले पर मेरी कोई टिप्पणी नहीं है. पार्टी में अब मेरी कोई आधिकारिक जिम्मेदारी नहीं है, इसलिए मैं इस पर टिप्पणी नहीं कर सकता. विधायकों को किसी से मिलने के लिए चेन्नई (Chennai) बुलाया जा सकता है. दिगंबर कामत पर पिछले हफ्ते पार्टी ने बीजेपी में दलबदल का आरोप लगाया था.

यह भी पढ़ें : आजम के ट्वीट पर कोहली ने दिया रिएक्शन, कहा-आप का धन्यवाद

कामत ने कहा, मेरी कोई पार्टी की जिम्मेदारी नहीं है, इसलिए मैं इस मामले पर टिप्पणी नहीं कर सकता. मैं घर पर हूं. कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि विधायक राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेने के लिए सीधे गोवा लौटेंगे. गौरतलब है कि गोवा विधानसभा का मानसून सत्र 11 जुलाई से शुरू हुआ था और अगले शुक्रवार तक चलेगा. सूत्रों ने बताया कि अन्य छह विधायक दिगंबर कामत (Digambar kamat), माइकल लोबो, डेलियाला लोबो, केदार नाइक, एलेक्सो सिकेरा और राजेश फलदेसाई उस समूह का हिस्सा नहीं हैं जो चेन्नई गया था. गोवा विधानसभा में कांग्रेस के 11 विधायक हैं. माइकल लोबो ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि पांच अन्य विधायकों को चेन्नई क्यों ले जाया गया. उन्होंने कहा, मुझे आमंत्रित नहीं किया गया है. मुझे नहीं पता कि उन्हें चेन्नई क्यों ले जाया गया. अगले राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान 18 जुलाई को होगा.

राष्ट्रपति भवन की दौड़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की द्रौपदी मुर्मू और संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) के बीच है. इससे पहले कांग्रेस (Congress) के गोवा प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने कहा कि बीजेपी ने पार्टी विधायकों को भगवा खेमे में शामिल होने के लिए 25 करोड़ रुपये दिए. माइकल लोबो (michael lobo) ने बताया कि उनकी भाजपा (BJP) में शामिल होने की कोई योजना नहीं है और उन्होंने आरोपों से इनकार किया.

First Published : 16 Jul 2022, 08:49:10 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.