News Nation Logo

अलर्ट : जनता कर्फ्यू शुरू, बहुत जरूरी हो तभी निकलें घर से बाहर

कोरोना वायरस तेजी से फैल जा रहा है. इससे बचाव के अभी तक कोई पुख्‍ता इंतजाम नहीं हो सके हैं. भारत में अब तक चार लोगों की मौत की पुष्‍टि हो चुकी थी, साथ ही 200 से भी ज्यादा लोग प्रभावित हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 22 Mar 2020, 07:29:19 AM
curfew

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: file)

New Delhi:

कोरोना वायरस तेजी से फैल जा रहा है. इससे बचाव के अभी तक कोई पुख्‍ता इंतजाम नहीं हो सके हैं. भारत में अब तक चार लोगों की मौत की पुष्‍टि हो चुकी थी, साथ ही 200 से भी ज्यादा लोग प्रभावित हैं. हालांकि इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार शाम को आठ बजे राष्‍ट्र के नाम एक संबोधन दिया और लोगों से बचाव करने की अपील भी की. साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने जनता कर्फ्यू की बात की. यह जनता कर्फ्यू अब शुरू हो चुका है, इसलिए अब आप अपने घर से तभी निकलें जबकि बहुत जरूरी हो, नहीं हो अपने घर ही रहें.

यह भी पढ़ें : VIDEO : एमएस धोनी IPL 2020 टलने के बाद पहले प्‍यार के साथ आए नजर

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि रविवार यानी 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू लगाया जाए. यह जनता की ओर से जनता के लिए लगाया गया कर्फ्यू है. लेकिन यह जनता कर्फ्यू आखिर होता क्‍या है और जब जनता कर्फ्यू लगेगा, उस दिन आपको क्‍या करना है और क्‍या नहीं करना है, इसका भी ध्‍यान रखना होगा.

यह भी पढ़ें : कोरोना के खतरे के बावजूद IPL में खेलने के लिए तरस रहा है ये ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज

प्रधानमंत्री ने जिस जनता कर्फ्यू की बात कही है, वह भारत के लिए बिल्‍कुल नई है. अब तक आपने कर्फ्यू सुना होगा, लेकिन जनता कर्फ्यू काफी नया है. दरअसल जनता कर्फ्यू जनता की ओर से जनता के लिए खुद ही लगाया जाता है. पुलिस कर्मियों की ओर से कोई पाबंदी नहीं लगाई गई है. यह आपके ऊपर है कि सुरक्षा कारणों को लेकर आप खुद ही घर से बाहर न निकले. आपके जरूरत के लिए दुकानें खुली रहेंगी, हालांकि सारी दुकानें नहीं खुलेंगी, लेकिन रोजमर्रा की चीजें आपको जरूर मिलेंगी. कर्फ्यू के दौरान आपको बलपूर्वक रोका जाता है. अगर आप नियमों का उल्‍लंघन करते हैं तो आपके ऊपर कार्रवाई की जाती है, लेकिन 22 मार्च को ऐसा कुछ भी नहीं होगा.

यह भी पढ़ें : डेल स्टेन का बड़ा खुलासा, इस खिलाड़ी के साथ एकांतवास रहना करेंगे पसंद

इस दौरान खुद ही आपको स्‍वविवेक से बीमारी से बचने के लिए घर में ही रहना है, लेकिन डाक्‍टर, सफाईकर्मी और मीडिया वाले आ जा सकेंगे, क्‍योंकि इनका काम घर से निकले बिना नहीं हो पाएगा. वहीं जो लोग आपकी सेवा में लगे हैं, यानी घर से काम नहीं कर सकते, उनको धन्‍यवाद देने के लिए प्रधानमंत्री ने शाम पांच बजे घर के दरवाजे पर, बालकनी पर, खिड़की से ताली बजाकर, थाली बजाकर या फिर घंटी बजाकर उनकी हौसलाअफजाई भी करनी है.

यह भी पढ़ें : IPL 2020 कब होगा, इस दिन होगा फैसला, खेल मंत्री का बड़ा ऐलान

अब अगर कोई आपको बलपूर्वक नहीं रोकेगा और कोई पाबंदी नहीं होगी तो आपको खुद ही इस नियम का पालन करना है, ताकि आप खुद सुरक्षित रहें, आपका परिवार सुरक्षित रहे और पूरा देश और दुनिया सुरक्षित रहे. कोरोना वायरस से बचने के लिए अभी तक कोई वैक्‍सीन नहीं बन पाई है, यह अभी प्रयोग के दौर में है. ऐसे में आपको दूसरों को सुरक्षित रखना है और खुद भी सुरक्षि रहें.

First Published : 22 Mar 2020, 07:29:19 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो