News Nation Logo

अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेताओं ने पार्टी कैडरों का पलायन रोकने को ऑनलाइन बैठक की

अन्नाद्रमुक के शीर्ष नेताओं ने पार्टी कैडरों का पलायन रोकने को ऑनलाइन बैठक की

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 08 Jul 2021, 06:25:01 PM
AIADMK top

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

चेन्नई: के. पलानीस्वामी और ओ. पनीरसेल्वम सहित अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेताओं ने गुरुवार को तमिलनाडु के विभिन्न हिस्सों से पार्टी कार्यकर्ताओं के पलायन को रोकने के उपाय करने के लिए ऑनलाइन मुलाकात की।

बैठक की जानकारी रखने वाले पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने आईएएनएस को बताया कि हाल ही में सलेम जिले में पार्टी के कई पदाधिकारियों के द्रमुक में शामिल होने के बाद बैठक की जरूरत पड़ी। पार्टी छोड़कर द्रमुक में शामिल होने वालों में पार्टी की किसान शाखा के जिला सचिव सी. चेल्लादुरई भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि पलानीस्वामी अन्नाद्रमुक के सलेम जिले के जिला सचिव हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम के गृह जिले थेनी में पार्टी नेताओं के एक वर्ग ने एएमएमके और कुछ ने सत्तारूढ़ द्रमुक को चुना है। इससे अन्नाद्रमुक नेताओं को झटका लगा है क्योंकि थेनी और थेवर समुदाय अन्नाद्रमुक का गढ़ रहा है।

अन्नाद्रमुक के विल्लुपुरम जिला सचिव सी.वी. षणमुगम ने मंगलवार रात आयोजित एक सार्वजनिक समारोह में कहा कि पार्टी भाजपा के साथ गठबंधन के कारण विधानसभा चुनाव हार गई है, जिससे हड़कंप मच गया है। पूर्व मंत्री ने कहा कि भाजपा के साथ गठबंधन के कारण, एआईडीएएमके के पारंपरिक अल्पसंख्यक मुस्लिम मतदाताओं ने अपनी स्थिति बदल दी और पार्टी अपने गढ़ों में भी हार गई।

जबकि पार्टी समन्वयक पन्नीरसेल्वम सहित वरिष्ठ नेताओं ने तुरंत कदम बढ़ाया और घोषणा की कि सी.वी. शनमुगम अपनी व्यक्तिगत क्षमता में थे, न कि पार्टी के पदाधिकारी के रूप में।

अन्नाद्रमुक को राज्य के उत्तरी हिस्सों में भी कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है, जिसमें मध्य और वरिष्ठ स्तर के कई कार्यकर्ता गठबंधन सहयोगी पट्टाली मक्कल काची (पीएमके) से खुश नहीं हैं। पूर्ववर्ती अन्नाद्रमुक सरकार ने सबसे पिछड़ी जाति (एमबीसी) कोटे में वन्नियार समुदाय के लिए 10.5 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की थी, जिससे समुदाय के बड़ी संख्या में छात्रों को चिकित्सा और इंजीनियरिंग सहित पेशेवर कॉलेजों में प्रवेश मिल रहा था। राज्य के उत्तरी भाग में वन्नियार बहुसंख्यक हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Jul 2021, 06:25:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो