News Nation Logo
Banner

Farmers Protest: संयुक्त किसान मोर्चा पूरी तरह से एकजुट है: राकेश टिकैत Live

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसानों का आंदोलन 81वें दिन में प्रवेश कर गया है. दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर भारी संख्या किसान धरने पर बैठे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 13 Feb 2021, 03:28:46 PM
rahul gandhi in tejaji temple

किसान आंदोलन (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसानों का आंदोलन 81वें दिन में प्रवेश कर गया है. दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर भारी संख्या किसान धरने पर बैठे हैं. हल्की ठंड में शुरू हुआ ये आंदोलन अब मौसम के साथ अपना तापमान बदल रहा है. तापमान बढ़ता देख किसान भी उसी हिसाब से तैयारियां करने लगे हैं. गाजीपुर बॉर्डर पर लगे टेंट में अब सुबह के बाद से ही उमस बढ़ने लगती है. गर्म दिनों की ओर बढ़ते वक्त के साथ किसानों का आंदोलन भी तेज हो गया है. किसान 18 फरवरी तक देशभर में अलग अलग कार्यक्रम कर रहे हैं. इसके अलावा जगह जगह किसान पंचायतों का भी आयोजन किया जा रहा है.

किसान आंदोलन पर भी चर्चा हुई है... किसी को भी सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान करने का अधिकार नहीं है, हम इससे संबंधित क़ानून लेकर आ रहे हैं: हरियाणा CM मनोहर लाल खट्टर, गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात पर

टीकरी बॉर्डर पर नए कृषि क़ानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन जारी.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को अपनी यात्रा के दूसरे दिन, रूपनगढ़ में एक ट्रैक्टर रैली के दौरान ट्रैक्टर चलाया. इस दौरान सैकड़ों किसान इस रैली में शामिल हुए. 

मुझे बड़ा दुख हुआ कि घमंड और अहंकार इतना है कि कोई किसानों की शहादत पर भी सहानुभूति देने को तैयार नहीं है. राहुल जी ने संदेश दिया है कि हम आने वाले समय में इस आंदोलन को और सक्रिय करेंगे और गांधीवादी तरीके से केंद्र सरकार को कानून वापस लेने के लिए मजबूर करेंगे: सचिन पायलट,कांग्रेस

संयुक्त किसान मोर्चा पूरी तरह से एकजुट है. 23 फरवरी तक के कार्यक्रम निर्धारित हैं, जिन पर हम काम कर रहे हैं. आंदोलन पूरी मजबूती से चलता रहेगा, हम अपनी रणनीति बना रहे हैं. किसानों को हताश होने की जरूरत नहीं है: किसान नेता राकेश टिकैत


 

भारत सरकार झूठ बोलकर सारे देश को गुमराह कर रही है. सरकार कह रही है कि हमें बताया नहीं जा रहा कि इन क़ानूनों में काला क्या है. सरकार के साथ 11 बैठक करके 3 बार एक-एक क्लॉज पर बता चुके हैं कि इनमें काला क्या है: बलबीर सिंह राजेवाल, किसान नेता 

अभय सिंह चौटाला के इस्तीफे से कुछ हल निकला है क्या, दुष्यंत चौटाला का इस्तीफा मेरी जेब में है, अगर उससे हल निकलता है तो मैं अभी दे देता हूं. केंद्र का क़ानून बनाया हुआ है, केंद्र निर्णय करे या हरियाणा के 10सांसद इस्तीफा दें, जिन्होंने इसमें सहमति दी थी: अजय चौटाला 

200 किसान शहीद हुए लेकिन लोकसभा, राज्यसभा में सांसद दो मिनट के लिए मौन खड़े नहीं हुए, इसलिए मैंने कहा कि मैं अपने भाषण के बाद अकेले दो मिनट के लिए शांत खड़ा हो जाऊंगा और जो साथ खड़ा होना चाहता है हो जाए. विपक्ष के सब लोग खड़े हुए लेकिन बीजेपी का एक आदमी खड़ा नहीं हुआ: राहुल गांधी

कोरोना के समय मज़दूरों ने हाथ जोड़कर नरेंद्र मोदी से रेल, बस की टिकट मांगी, मतलब 100-200 रुपये मांगे. नरेंद्र मोदी कहते हैं कि मैं एक रुपया नहीं दूंगा, मगर उसी समय नरेंद्र मोदी ने 1,50,000 करोड़ का हिन्दुस्तान के सबसे अमीर लोगों का कर्जा माफ किया: राजस्थान के नागौर में राहुल गांधी

राहुल गांधी के दौरे के दौरान लगे नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे. सुरसुरा में तेजाजी मंदिर के दर्शन करने के दौरान जब राहुल गांधी का काफिला रूपनगढ़ के लिए लौट रहा था तो मंदिर गेट के पास से लोगों ने लगाए नरेंद्र मोदी जिंदाबाद, सचिन पायलट जिंदाबाद के नारे.

नरेंद्र मोदी कहते हैं कि मैं किसानों से बात करना चाहता हूं, किस चीज के बारे में बात करना चाहते हैं. जब तक आप ये कानून वापस नहीं लेंगे तब तक ​हिन्दुस्तान का एक किसान आप से बात नहीं करेगा: अजमेर में किसान ट्रैक्टर रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी

जब ये कानून लागू होंगे तब हिन्दुस्तान के किसी भी युवा को रोजगार नहीं मिलेगा. नरेंद्र मोदी कहते हैं कि मैं विकल्प दे रहा हूं, हां विकल्प दे रहे हैं और वो तीन विकल्प हैं भूख, बेरोजगारी और आत्महत्या: राहुल गांधी 

कृषि सबसे बड़ा व्यवसाय है. यह 40 करोड़ लोगों का व्यवसाय है. नरेंद्र मोदी जी चाहते हैं यह उनके दो मित्रों के हवाले हो जाए. अगर नरेंद्र मोदी के ये कानून लागू हो गए तो सिर्फ किसान को ही नुकसान नहीं होगा बल्कि सभी को होगा: अजमेर की किसान ट्रैक्टर रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी

राजस्थान के तेजाजी मंदिर में पहुंचकर राहुल गांधी ने किए दर्शन

राहुल गांधी का किशनगढ़ एयरपोर्ट नेताओं ने किया स्वागत.

भारत हम सभी का है किसी को अपनी एकता ना खत्म करने देंः राहुल गांधी


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज रुपनगढ़ में ट्रेक्टर मार्च और किसान रैली से पहले किशनगढ़ के पास सुरसुरा गांव में लोक देवता तेजाजी के मंदिर जाएंगे.

तीनों कृषि कानून आने के बाद APMC देश भर में कहीं भी बंद हुआ है क्या? कहीं भी बंद नहीं हुआ- निर्मला सीतारमण

हमने सोचा कि राहुल तीनों कानूनों में कोई पॉइंट निकालेंगे और कहेंगे कि इससे वजह से किसान को नुकसान होना वाला है. इसलिए हम समर्थन नहीं करेंगे. कांग्रेस ने पहले समर्थन किया और अब मन बदल दिया- वित्तमंत्री

राहुल गांधी पर निर्मला सीतारमण ने कहा कि मुझे उम्मीद थी कि वह बजट पर चर्चा से पहले कृषि कानून पर कुछ बोलेंगे. कांग्रेस ने इस कानन पर यूटर्न लिया. पहले समर्थन करते थे और रुख क्यों बदला. 

किसानों ने गर्मी के मौसम को देखते हुए टेंट में पंखे लगवाना शुरू कर दिए हैं, तो टेंट की ऊंचाई को भी बढ़ा रहे हैं और उसके अंदर अपने टेंट लगा रहे हैं, ताकि गर्मी की तपिश से सीधे पाला न पड़े.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का आज राजस्थान दौरे का दूसरा दिन है. आज रूपनगढ़ में राहुल गांधी ट्रैक्टर रैली करेंगे.

किसान नेता राकेश टिकैत 14 फरवरी यानी कल से 3 राज्यों में अलग अलग जगह 7 महापंचायत करेंगे.

हरियाणा के बहादुरगढ़ में आज किसान महापंचायत का आयोजन होगा. 

First Published : 13 Feb 2021, 07:20:51 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.