News Nation Logo
गृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा के 'सेवा ही संगठन' कार्यक्रम के तहत 'मोदी वैन' पहल को हरी झंडी दिखाई मैं PM नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जे.पी. नड्डा और राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त करता हूं: बाबुल सुप्रियो जिस पार्टी के लिए मैंने 7 साल मेहनत की, उसे छोड़ते वक्त दिल व्यथित था: बाबुल सुप्रियो बिहार: CBSE ने 10वीं और 12वीं कक्षा के टर्म-1 की डेटशीट जारी की युवाओं को रोजगार देने दिल्ली सरकार लांच करेगी रोजगार 2.0 एप सेना प्रमुख एमएम नरवणे जम्मू के दो दिवसीय दौरे पर, लेंगे सुरक्षा का जायजा बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हमलों को लेकर देश में उबाल नैनीताल में बादल फटने से तबाही का आलम. रामनगर के रिसॉर्ट में 100 लोग फंसे उत्तराकंड के सीएम ने जलप्रलय वाले स्थानों का दौरा किया

महाराष्ट्र : भाजपा की महिला विधायकों ने सुरक्षा मुद्दों पर अब मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

महाराष्ट्र : भाजपा की महिला विधायकों ने सुरक्षा मुद्दों पर अब मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 23 Sep 2021, 01:05:01 AM
After Governor,

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

मुंबई: महाराष्ट्र के राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बीच लैटर वॉर के सार्वजनिक होने के एक दिन बाद विपक्षी भारतीय जनता पार्टी की महिला विधायकों ने मोर्चा संभाला और राज्य में महिलाओं की सुरक्षा पर चिंता व्यक्त की।

12 महिला विधायकों के एक समूह ने इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखा, जबकि विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने सीएम की इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने पर आलोचना की।

महिलाओं ने मुख्यमंत्री से पूछा कि चूंकि कानून और व्यवस्था राज्य का विषय है, इसलिए वह यहां की स्थिति से मजबूती से निपटने के बजाय हमेशा केंद्र पर उंगली उठाकर जिम्मेदारी से बचने का प्रयास क्यों कर रहे हैं।

महिलाओं पर अत्याचार के मामले में महाराष्ट्र को देश में अव्वल बताते हुए महिला विधायकों ने कहा कि उनका यह दावा कि ऐसी चीजें दूसरे राज्यों में भी होती हैं, किसी के लिए गर्व की बात नहीं है।

इस मुद्दे पर चर्चा के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने की ठाकरे की मांग पर आपत्ति जताते हुए महिला विधायकों ने कहा कि अगर रिकॉर्ड पढ़कर पूरे देश के सामने राज्य की छवि खराब की जाती है तो यह गर्व की बात नहीं होगी।

एक उदाहरण का हवाला देते हुए पत्र में कहा गया है कि परभणी में एक नाबालिग लड़की के साथ बेरहमी से दुष्कर्म किया गया और बाद में उसने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। पत्र में आगे कहा गया है कि जब राज्य की महिलाएं अत्यधिक असुरक्षा में जी रही हैं, तो सीएम अन्य राज्यों के साथ तुलना करने में व्यस्त हैं।

पत्र में कहा गया है, हमें लगता है कि राज्यपाल को आपके जवाब से आपने राज्य में उत्पीड़ित महिलाओं का मजाक उड़ाया है।

पत्र पर हस्ताक्षर करने वाली भाजपा विधायकों में माधुरी मिसाल, विद्या ठाकुर, देवयानी फरांडे, मनीषा चौधरी, सीमा हिरे, श्वेता महाले-पाटिल, मेघना साकोर-बोर्डिकर, डॉ. नमिता मुंडाडा, मांडा म्हात्रे, भारती लवकर, मोनिका राजले और मुक्ता तिलक शामिल हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 23 Sep 2021, 01:05:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.