News Nation Logo
Banner

पंजाब के लोग चाहते हैं दिल्ली जैसा विकास : आप

पंजाब के लोग चाहते हैं दिल्ली जैसा विकास : आप

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 04 Sep 2021, 10:50:01 PM
AAP ay

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

चंडीगढ़: पंजाब के 2022 के चुनावों पर केंद्रित एबीपी-सी-वोटर द्वारा किए गए सर्वेक्षण पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी (आप) ने शनिवार को कहा कि पंजाब के लोग 2017 के चुनावों के दौरान मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह द्वारा किए गए वादों को पूरा नहीं किए जाने से परेशान हैं। साल 2022 में आप राज्य में सरकार बनाकर करारा जवाब देगी।

पार्टी का कहना है, अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार द्वारा लोगों के कल्याण के लिए किए गए कार्यो से प्रभावित होकर, पंजाब के लोग राज्य को विकसित करने के लिए आप सरकार बनाना चाहते हैं, जैसा कि दिल्ली में आप ने किया है।

आप के राज्य सह प्रभारी राघव चड्ढा ने यहां एक बयान में कहा कि पंजाब के समकालीन राजनीतिक नेताओं ने देश और राज्य की भलाई के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों के मिशन और दूरदर्शिता को तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

सुनियोजित षड्यंत्र के तहत जब नेता अपना खजाना भरने में लग गए तो पंजाब के युवा नशे के आदी हो गए।

चड्ढा ने कांग्रेस सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि अमरिंदर सरकार ने पिछले चार साल में अपना कोई भी वादा पूरा नहीं किया है।

उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले अमरिंदर सिंह ने शपथ ली थी और कहा था कि चार सप्ताह में नशा खत्म हो जाएगा, लेकिन वह अपने बयान से स्पष्ट रूप से पीछे हट गए हैं।

इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने कहा था कि पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद सभी तरह के माफियाओं का सफाया हो जाएगा, हर घर को रोजगार दिया जाएगा, बिजली के दाम कम किए जाएंगे और ड्रग्स का खात्मा किया जाएगा। इन वादों में से कोई भी वादा पूरा नहीं किया गया। इसके उलट, अमरिंदर सिंह पिछले साढ़े चार साल से सिसवान स्थित अपने फार्महाउस से बाहर नहीं निकले और वहीं से अपनी सरकार चलाते रहे।

चड्ढा ने कहा कि पंजाब के युवा बेरोजगार और हताश हैं और माता-पिता अपने बच्चों को उनके घर और जमीन गिरवी रखकर विदेश भेज रहे हैं, क्योंकि राज्य में रोजगार का कोई अवसर नहीं है।

उन्होंने कहा कि राजनेता राज्य के कल्याण पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय अपने स्वयं के व्यवसाय के फलने-फूलने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने इसे पारिवारिक मामला बनाकर राजनीति की परिभाषा बदल दी है।

चड्ढा ने कहा, इस बार पंजाब के लोगों ने मन बना लिया है कि अपने राज्य को समृद्ध बनाने के लिए हमेशा के लिए मिलकर काम करना होगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 04 Sep 2021, 10:50:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो