News Nation Logo
Banner

ललितपुर दुष्कर्म मामले में यूपी मेंग विपक्षी दलों ने सरकार को घेरा

ललितपुर दुष्कर्म मामले में यूपी मेंग विपक्षी दलों ने सरकार को घेरा

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 05 May 2022, 01:55:01 AM
Aaduddin Owaii

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

लखनऊ:   यूपी के ललितपुर में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार किशोरी से थाने में दुष्कर्म की घटना पर सियासत तेज हो गई है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव में पीड़िता के परिवार से मुलाकात की है। वहीं, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने भी सरकार पर गंभीर सवाल खड़े किए हैं। जबकि, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, बुलडोजर के शोर में कानून-व्यवस्था के असल सुधारों को कैसे दबाया जा रहा है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रमुख अखिलेश यादव ने बुधवार को ललितपुर में हुए दुष्कर्म की पीड़िता की मां से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने ऐसे पुलिसकर्मियों के खिलाफ बुलडोजर चलाने की मांग की। साथ ही, मीडिया से हुई बातचीत में कहा, मां ने बताया कि उनकी बेटी को कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। वहीं, आजम खान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि जब वे जेल से बाहर आएंगे तो उनसे मिलने जाएंगे।

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, मैं रेप पीड़िता की मां से मिलकर आया हूं। मां ने बताया कि उनकी बेटी को कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा है. शुरू में पुलिस ने मामले में सुनवाई नहीं की.ल। मामले में पुलिस दोषी है। उन्होंने कहा कि जिससे उम्मीद की जाती है, उनसे न्याय मिलेगा अगर वही पुलिस उस बेटी के साथ ऐसी घटना करे तो सोचिए हम किस दौर में हैं? अब भाजपा की सरकार बताए पुलिस स्टेशन पर बुलडोजर चलेगा की नहीं चलेगा।

प्रसपा के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने भी इस मुद्दे पर सरकार की घेराबंदी की है। उन्होंने ट्वीट में लिखा-ललितपुर में एक 13 साल की बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म और फिर शिकायत लेकर जाने पर थानेदार द्वारा दुष्कर्म की घटना पुलिस व्यवस्था की निष्ठुरता व नृशंसता की बानगी भर है। न जाने कितनी निरीह बेटियां ऐसी होंगी जिनके अपमान की करुण कथा नौकरशाही व पुलिस व्यवस्था की परिधि से बाहर ही न आ पाती होंगी।

शिवपाल सिंह यादव ने एक अन्य ट्वीट में लिखा- निसंदेह उत्तर प्रदेश बेटियों के लिए इतना असुरक्षित और असंवेदनशील कभी नहीं था! प्रदेश सरकार को थानों में महिलाओं की तैनाती बढ़ाने और थानों को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने के लिए गंभीरता से प्रयास करना होगा। साथ ही हमारी यह भी मांग है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

इस घटना पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि ललितपुर में एक 13 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और फिर शिकायत लेकर जाने पर थानेदार द्वारा बलात्कार की घटना दिखाती है कि बुलडोजर के शोर में कानून व्यवस्था के असल सुधारों को कैसे दबाया जा रहा है। अगर महिलाओं के लिए थाने ही सुरक्षित नहीं होंगे तो वो शिकायत लेकर जाएंगी कहां?

बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि यू.पी. के जिला ललितपुर के पाली थाना में पुलिस द्वारा की गई एक नाबालिक लड़की के साथ गैंगरेप की घटना अति शर्मनाक। सरकार इस मामले को गम्भीरता से ले। तथा दोषियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्यवाही करे। बसपा की यह मांग।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 05 May 2022, 01:55:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.