News Nation Logo

हवाला कारोबार के लिए चीनी नागरिक ने की मणिपुर की लड़की से शादी, रोज निकाले तीन करोड़ रुपये

भारत में रहकर हवाला कारोबार (Hawala Racket) चलाने की चीनी नागरिकों की साजिश में नए खुलासे सामने सामने आ रहे हैं. इस मामले में पूछताछ के लिए आयकर विभाग (Income Tax) की टीम ने लोउ सांग नाम के चीनी नागरिक को हिरासत में लिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 12 Aug 2020, 02:11:54 PM
Hawala Racket

हवाला कारोबार के लिए चीनी नागरिक ने की मणिपुर की लड़की से शादी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारत में रहकर हवाला कारोबार (Hawala Racket) चलाने की चीनी नागरिकों की साजिश में नए खुलासे सामने सामने आ रहे हैं. इस मामले में पूछताछ के लिए आयकर विभाग (Income Tax) की टीम ने लोउ सांग नाम के चीनी नागरिक को हिरासत में लिया है. पूछताछ में इसने कई खुलासे किए हैं. यह भारत में अपनी पहचान बदलकर रह रहा था. पूछताछ में यह भी खुलासा हुई है कि यह मणिपुर की एक लड़की से शादी भी कर चुका है.

यह भी पढ़ेंः विरोध से हिंसा तक: एक फेसबुक पोस्ट से उबल पड़ा बेंगलुरु शहर

पूछताछ में किए कई खुलासे
आयकर विभाग की शुरूआती जांच के मुताबिक यह हवाला कारोबार एक हजार करोड़ रुपये से अधिक का हो सकता है. पूछताछ में सामने आया कि संदिग्ध लोउ सांग, अपनी पहचान बदल कर भारत में रह रहा था. वह चार्ली पैंग बन गया था और खुद को भारतीय नागरिक कहता था. उसके बाद भारत का फर्जी पासपोर्ट और आधार कार्ड है. हवाला के जरिए लोउ हर रोज तीन करोड़ रुपये निकालता था, इसमें उसकी मदद बंधन बैंक और आईसीआईसीआई बैंक के अधिकारी करते थे. चीनी संदिग्ध के पास करीब 40 बैंक अकाउंट हैं. आरोपी की ओर से बार-बार पता बदल दिया जाता था, पहले वो दिल्ली के द्वारका में रुका था और फिर डीएलएफ इलाके में.

यह भी पढ़ेंः पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत अभी भी नाजुक, जारी हुआ नया हेल्थ बुलेटिन

1000 करोड़ से अधिक को हो सकता है खुलासा
चीनी नागरिकों पर छापे की जानकारी सीबीडीटी ने एक प्रेस रिलीज के जरिये दी है. इसके मुताबिक, सर्च ऑपरेशन से खुलासा हुआ है कि इन चीनी नागरिकों ने फर्जी कंपनियों के नाम से चालीस से ज्यादा बैंक खाते खोले थे. एक समयावधि में 1000 करोड़ रुपये से अधिक क्रेडिट एंट्री की गई. इतना ही नहीं चीनी कंपनी के सब्सिडियरी और इससे जुड़े लोगों ने फर्जी कंपनियों से भारत में रिटेल शोरूम व्यवसाय करने के लिए 100 करोड़ से अधिक फर्जी अग्रिम भुगतान लिया, लेनदेन में हांगकांग और यूएस डॉलर का इस्तेमाल हुआ था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 12 Aug 2020, 02:08:23 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.