News Nation Logo

88 प्रतिशत निदेशक मंडल मानते हैं कि साइबर सुरक्षा व्यावसायिक जोखिम के तौर पर बड़ी चुनौती

88 प्रतिशत निदेशक मंडल मानते हैं कि साइबर सुरक्षा व्यावसायिक जोखिम के तौर पर बड़ी चुनौती

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 21 Nov 2021, 01:35:01 PM
88 of

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: एक नई रिपोर्ट के अनुसार लगभग 88 प्रतिशत निदेशक मंडल साइबर सुरक्षा को प्रौद्योगिकी जोखिम के बजाय एक व्यावसायिक जोखिम के रूप में देखते हैं। हालांकि, उनमें से केवल 12 प्रतिशत के पास एक समर्पित बोर्ड-स्तरीय साइबर सुरक्षा समिति है ।

ग्लोबल मार्केट रिसर्च फर्म गार्टनर का कहना है कि भले ही बिजनेस लीडर्स को नए और उभरते खतरों के खिलाफ उद्यम को सुरक्षित करने की आवश्यकता के बारे में पता है, सुरक्षा की जिम्मेदारी ज्यादातर आईटी नेतृत्व के पास है।

गार्टनर ने पाया कि 85 प्रतिशत संगठनों में, सीआईओ, सीआईएसओ या उनके समकक्ष साइबर सुरक्षा के लिए जिम्मेदार शीर्ष व्यक्ति थे और केवल 10 प्रतिशत संगठनों ने गैर-आईटी वरिष्ठ प्रबंधकों को पाया है।

गार्टनर के प्रतिष्ठित शोध उपाध्यक्ष पॉल प्रॉक्टर ने कहा, यह आईटी के बाहर के अधिकारियों के लिए उद्यम को सुरक्षित करने की जिम्मेदारी लेने का समय है।

2021 के दौरान रैंसमवेयर और आपूर्ति श्रृंखला हमलों को देखा गया, जिनमें से कई लक्षित संचालन- और मिशन-महत्वपूर्ण वातावरण, एक वेक-अप कॉल होना चाहिए कि सुरक्षा एक व्यावसायिक समस्या है, न कि केवल आईटी को हल करने के लिए एक और समस्या है।

उद्यम को खतरों से बचाने के लिए आईटी और सुरक्षा नेताओं को अक्सर अंतिम प्राधिकरण माना जाता है।

प्रॉक्टर ने कहा, फिर भी, व्यापारिक नेता सीआईओ या सीआईएसओ से परामर्श किए बिना हर दिन निर्ण य लेते हैं, जो संगठन की सुरक्षा को प्रभावित करते हैं।

रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि सीआईओ और सीआईएसओ को साइबर सुरक्षा के लिए जवाबदेही को संतुलित करना चाहिए ताकि इसे व्यापार और उद्यम के नेताओं के साथ साझा किया जा सके।

प्रॉक्टर ने कहा, सुरक्षा में इतने भारी निवेश के वर्षों के बाद, बोर्ड अब पीछे हट रहे हैं और पूछ रहे हैं कि उनके डॉलर ने क्या हासिल किया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 21 Nov 2021, 01:35:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.