News Nation Logo

आतंकी हमले में कर्नल समेत 7 शहीद, जानिए PM मोदी ने क्या कहा?

मणिपुर के चुराचांदपुर जिले के सिंघाट में यह हमला हुआ. बताते हैं कि असम राइफल्स के कमांडिंग आफिसर के काफिले में कमांडिंग ऑफिसर के परिवार के सदस्य और क्विक एक्शन टीम के सदस्य मौजूद थे.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 13 Nov 2021, 07:16:06 PM
PM MODI

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: TWITTER HANDLE)

highlights

  • PM मोदी ने की मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर हुए हमले की कड़ी निंदा
  • हमले में सीओ विप्लव त्रिपाठी, उनके बेटे, पत्नी और 4 जवान शहीद हो गए
  • घटना के बाद सुरक्षाबल इलाके में लगातार सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं

 

नई दिल्ली:

मणिपुर (Manipur) में आतंकियों ने असम राइफल्स (Assam Rifles) के काफिले पर हमला किया है. हमले में असम राइफल्स के सीओ, उनके बेटे और पत्नी समेत 7 लोग शहीद हो गये. सूचना के मुताबिक मणिपुर (Manipur) के चूड़ाचांदपुर जिले में असम राइफल्स (Assam Rifles) की 46 वीं बटालियन का काफिला गुजर रहा था. इस काफिले को 46 AR के कमांडिंग अफसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी लीड कर रहे थे. उनके साथ उनकी पत्नी और बेटा भी गाड़ी में सवार थे. तभी आतंकियों ने सुबह साढ़े 10 बजे घात लगाकर उनके काफिले पर हमला कर दिया. हमले में सीओ विप्लव त्रिपाठी, उनके बेटे, पत्नी और 4 जवान शहीद हो गए. घटना के बाद सुरक्षाबल इलाके में लगातार सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, "मैं उन सैनिकों और परिवार के सदस्यों को श्रद्धांजलि देता हूं जो आज शहीद हुए हैं. उनके बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं."  

मणिपुर के चुराचांदपुर जिले में असम राइफल्‍स की एक यूनिट पर आतंकी हमला हुआ है. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार इस काफिले में सीओ के साथ उनका परिवार भी था, जब उग्रवादियों ने उन्‍हें निशाना बनाया. बताया जा रहा है कि सेना की टुकड़ी पर घात लगाकर बैठे आतंकियों ने हमला किया गया. इस हमले में असम राइफल्स के सीओ समेत उनकी पत्नी और बच्चे की मौत हो गई है. इसके साथ ही क्विक एक्शन टीम के तीन जवान भी शहीद हो गए हैं. कुछ जवान घायल भी बताए जा रहे हैं. आतंकी हमले के बाद सेना के जवानों ने इलाके को घेर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है. ऑपरेशन अभी जारी है. हमले के पीछे मणिपुर की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का हाथ बताया जा रहा है. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली में प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, दो दिन के लिए लॉकडाउन का दिया सुझाव

बताया जा रहा है कि मणिपुर के चुराचांदपुर जिले के सिंघाट में यह हमला हुआ. बताते हैं कि असम राइफल्स के कमांडिंग आफिसर के काफिले में कमांडिंग ऑफिसर के परिवार के सदस्य और क्विक एक्शन टीम के सदस्य मौजूद थे. मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने इस हमले को कायरतापूर्ण बताते हुए निंदा की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'जो भी दोषी होगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा. पैरा मिलिट्री और राज्य के सुरक्षाबल उग्रवादियों को ढूंढकर ठिकाने लगाने के काम में जुट गए हैं.'

First Published : 13 Nov 2021, 06:08:47 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.