News Nation Logo

झारखंड के 6 आदिवासी छात्रों को ब्रिटेन में पढ़ने के लिए राज्य छात्रवृत्ति मिली

झारखंड के 6 आदिवासी छात्रों को ब्रिटेन में पढ़ने के लिए राज्य छात्रवृत्ति मिली

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 21 Sep 2021, 06:00:01 PM
6 tribal

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

रांची: झारखंड के छह छात्रों को राज्य के छात्रवृत्ति कार्यक्रम के तहत विदेश में मुफ्त उच्च शिक्षा मिलेगी।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और कल्याण मंत्री चंपई सोरेन गुरुवार को रांची में आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में मारंग गोमके जयपाल सिंह मुंडा छात्रवृत्ति योजना के लाभार्थियों और उनके अभिभावकों को सम्मानित करेंगे।

यह योजना राज्य सरकार द्वारा अनुसूचित जनजातियों के छात्रों के लिए यूके और आयरलैंड में उच्च अध्ययन करने के लिए शुरू की गई है। छात्रवृत्ति के पुरस्कार विजेता रहने और अन्य विविध खर्चो के साथ-साथ ट्यूशन फीस के पूर्ण कवरेज के हकदार हैं। हर साल अनुसूचित जनजाति से 10 छात्रों का चयन किया जाएगा।

छात्रवृत्ति के पहले समूह के लिए 6 छात्रों को चुना गया है, जो सितंबर में ब्रिटेन के 5 विभिन्न विश्वविद्यालयों में अपना अध्ययन कार्यक्रम शुरू करने जा रहे हैं।

चयनित छात्रों में हरक्यूलिस सिंह मुंडा यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन के स्कूल ऑफ ओरिएंटल एंड अफ्रीकन स्टडीज से एमए करने जा रहे हैं। अजितेश मुर्मू यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन से आर्किटेक्चर में एमए करने जा रहे हैं। आकांक्षा मेरी को लॉफबोरो विश्वविद्यालय में जलवायु परिवर्तन, विज्ञान और प्रबंधन में एमएससी कार्यक्रम के लिए चुना गया है, जबकि दिनेश भगत ससेक्स विश्वविद्यालय में जलवायु परिवर्तन, विकास और नीति में एमएससी करेंगे।

अंजना प्रतिमा डुंगडुंग को वारविक विश्वविद्यालय में एमएससी के लिए चुना गया है और प्रिया मुर्मू लॉफबोरो विश्वविद्यालय में क्रिएटिव राइटिंग और राइटिंग इंडस्ट्रीज में एमए करेंगी।

हरक्यूलिस ने कहा, मैं जयपाल सिंह मुंडा ओवरसीज स्कॉलरशिप को आदिवासी बुद्धिजीवियों और विद्वानों के लिए छात्रों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आगे लाने में सक्षम बनाने के एक साधन के रूप में देखता हूं।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा, हमारी सरकार आदिवासी छात्रों के लिए उच्च शिक्षा की सुविधा सुनिश्चित करने के प्रति प्रतिबद्ध है। यही कारण है कि इस छात्रवृत्ति योजना के साथ ऐसा अद्वितीय अवसर लाने के लिए काम किया जा रहा है। उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने वाले सभी छात्रों को मेरी शुभकामनाएं। मैं सभी को उनके उज्‍जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 21 Sep 2021, 06:00:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.