News Nation Logo
Banner

अमृतसर में 4 आतंकी दबोचे गए, जैश-ए-मोहम्मद के साथ पंजाब दहलाने की थी साजिश

पंजाब पुलिस द्वारा जहां एयरपोर्ट को जाने वाले रास्तों पर कड़ी चेकिंग की जा रही है. वहीं स्पेशल फोर्स द्वारा एयरपोर्ट के अंदर पेट्रोलिंग की जा रही है.

By : Drigraj Madheshia | Updated on: 26 Sep 2019, 08:03:44 AM
प्रतीकात्‍मक चित्र

प्रतीकात्‍मक चित्र

नई दिल्‍ली:

अमृतसर पुलिस ने भारी हथियारों के साथ चार आतंकियों को गिरफ्तार किया है उसके बाद हालांकि पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन सूत्रों से जानकारी मिली है कि ये आतंकी जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) के साथ मिलकर पंजाब में कोई बड़ी वारदात को अंजाम देना चाहते थे. प्रशासन की तरफ से कुछ भी स्पष्ट नहीं किया गया, लेकिन अमृतसर के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. पंजाब पुलिस द्वारा जहां एयरपोर्ट को जाने वाले रास्तों पर कड़ी चेकिंग की जा रही है. वहीं स्पेशल फोर्स द्वारा एयरपोर्ट के अंदर पेट्रोलिंग की जा रही है.

बता दें पाकिस्तानी (Pakistani) आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल (Ajit Doval) पर हमले की तैयारी में है. जैश ने इसके लिए विशेष दस्ता भी तैयार कर लिया है. एक विदेशी खुफिया एजेंसी से मिले इनपुट के मुताबिक, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) का एक मेजर इसमें जैश की मदद कर रहा है. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) से भारत सरकार द्वारा अनुच्‍छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से पाकिस्‍तान बौखलाया हुआ है और वह कुछ भी कर गुजरने की तैयारी में है. हालांकि अनुच्‍छेद 370 हटने से घाटी में आतंकी (Terrorism) गतिविधियों पर रोक लग गई है. इससे पाकिस्‍तान और वहां के आतंकी और भी बौखला गए हैं.

यह भी पढ़ें : वो 8 सूत्र जिनके दम पर आज कामयाबी की बुलंदियों पर हैं अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan)

विदेशी खुफिया एजेंसी का इनपुट है कि जैश के पाकिस्तानी आतंकवादी शमशेर वानी और जैश सरगना के बीच इस बारे में बातचीत हुई है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक जैश सितंबर में भारत में बड़े हमले करने की तैयारी में जुटा हुआ है.

यह भी पढ़ेंः 1000 करोड़ से अधिक संपत्ति वाले भारतीयों की संख्या बढ़ी, मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीय

विदेशी खुफिया एजेंसी से जो इनपुट मिले हैं उसके मुताबिक, जम्मू, अमृतसर, पठानकोट, जयपुर, कानपुर, लखनऊ और दिल्ली समेत कुल 30 अतिसंवेदनशील शहर जैश-ए-मोहम्‍मद के निशाने पर है. इनपुट के आधार पर सभी अतिसंवेदनशील शहरों में पुलिस चौकसी बढ़ा दी गई है.

यह भी पढ़ें : रोचक तथ्‍य: ये हैं हरियाणा विधान सभा चुनाव में सबसे कम वोटों से जीतने वाले उम्‍मीदवार

गृह मंत्रालय ने एनएसए अजित डोभाल की भी सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की है. डोभाल ने जिस तरह से उरी आतंकी हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक और पुलवामा हमले के बाद एयरस्ट्राइक की रणनीति तैयार की थी, उसके बाद से वे पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के आकाओं के टारगेट पर आ गए हैं.

First Published : 25 Sep 2019, 07:30:12 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Terrorist Jais E Mohammed
×