News Nation Logo
Banner

चिदंबरम को लेकर SC में 2 बार सुनवाई, फिर भी राहत नहीं, जानें 5 बड़ी बातें

साल 2017 में सीबीआई ने इस गड़बड़ी में प्राथिमिकी (FIR) दर्ज की जबकि ED ने साल 2018 में मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया.

By : Ravindra Singh | Updated on: 21 Aug 2019, 07:01:56 PM
पी चिदंबरम (फाइल)

पी चिदंबरम (फाइल)

highlights

  • पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं 
  • अब 23 अगस्त (शुक्रवार) को होगी सुनवाई
  • INX मीडिया केस में रिश्वत लेने का है आरोप

नई दिल्‍ली:

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम पर INX मीडिया को विदेशी निवेश के तहत गैरकानूनी रूप से स्वीकृति दिलाने के लिए रिश्वत लेने का आरोप है इस केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री को 22 बार कोर्ट ने अग्रिम जमानत दी है ये मामला साल 2007 का है तब चिदंबरम देश के वित्तमंत्री के पद पर थे साल 2017 में सीबीआई ने इस गड़बड़ी में प्राथिमिकी (FIR) दर्ज की जबकि ED ने साल 2018 में मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया. इस मामले में INX मीडिया की मालकिन और आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को केस का अप्रूवर बनाया गया है इसी साल इंद्राणी का बयान भी दर्ज किया गया है जिसके मुताबिक उन्होंने कार्ति चिदंबरम को 10 लाख रुपये दिए थे. हम आपको चिदंबरम मामले में हुई सुनवाई की 5 बड़ी बातें बताएंगे.


चिदंबरम मामले में सुप्रीम कोर्ट में हुई तीखी बहस
चिदंबरम मामले में पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल की ओर से कहा गया कि अगर सभी खामियां दूर हो गई हैं तो मामले की सुनवाई की जाए. लेकिन जस्टिस रमन्ना ने कहा कि हम सिर्फ लिस्टिंग करेंगे, मामला नहीं सुनेंगे. इसके आगे रजिस्ट्रार ने अदालत को जानकारी दी कि लिस्टिंग पर फैसला CJI को करना है, लेकिन हमें अभी उनके आदेश का इंतजार है. चीफ जस्टिस अभी अयोध्या मामले को सुन रहे हैं, ऐसे में उन्हें बीच में टोका नहीं जा सकता है. कपिल सिब्बल के मामले पर जोर देने के बाद जस्टिस रमन्ना का कहना है कि अगर चीफ जस्टिस उन्हें आदेश देते हैं तो वह इस मामले की सुनवाई कर सकते हैं.


शाम 4 बजे तक कोर्ट में जमे रहे चिदंबरम के वकील
पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के वकील सलमान खुर्शीद, कपिल सिब्बल और विवेक तन्खा शाम चार बजे तक सुप्रीम कोर्ट में ही रहे. उनकी कोशिश थी कि सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही खत्म होने से पहले चीफ जस्टिस के सामने चिदंबरम की अग्रिम जमानत की याचिका के मामले को उठाया जा सके.

कोर्ट रूम में डटे रहे कपिल सिब्बल
पी चिदंबरम के वकील CJI के कोर्ट रुम में जमा हुए थे. यहां पर सीजेआई अयोध्या मामले की सुनवाई कर रहे थे. माना जा रहा था कि चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल यहां पर चिदंबरम के केस की लिस्टिंग करेंगे. जिसके बाद कपिल सिब्बल ने मीडिया को बताया कि वे किसी संवैधानिक बेंच के सामने केस नहीं मेंशन कर सकते. सिब्बल ने कहा कि वे अपना चेहरा दिखाने के लिए कोर्ट रुम पहुंचे थे. सिब्बल ने कहा कि वे सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार का इंतजार कर रहे हैं.

रजिस्ट्रार ने की CJI से बात
चिदंबरम के वकील विवेक तन्खा ने कहा कि इस वक्त रजिस्ट्रार चीफ जस्टिस रंजन गोगोई से बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के वेबसाइट से पता चलता है कि इस केस की सुनवाई आज ही होगी.

23 अगस्त को होगी चिदंबरम की अग्रिम जमानत पर सुनवाई
पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की मुश्किलें बढ़ गई है. उन्हें सुप्रीम कोर्ट से कोई राहत नहीं मिली है. पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत की याचिका पर अब सुप्रीम कोर्ट में 23 अगस्त को सुनवाई होगी.

First Published : 21 Aug 2019, 06:59:23 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो