logo-image

तेलंगाना विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी टीडीपी

तेलंगाना विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी टीडीपी

Updated on: 29 Oct 2023, 01:55 PM

अमरावती:

तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) ने रविवार को अगले महीने होने वाले तेलंगाना विधानसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया।

कथित कौशल विकास घोटाले में टीडीपी सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू अभी भी जेल में हैं, इसलिए पार्टी ने चुनाव से दूर रहने का फैसला किया।

चंद्रबाबू नायडू ने टीडीपी तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष कासानी ज्ञानेश्वर को फैसले से अवगत कराया, जब उन्होंने शनिवार को राजमुंदरी सेंट्रल जेल में उनसे मुलाकात की। टीडीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उनसे कहा कि आंध्र प्रदेश की मौजूदा स्थिति को देखते हुए पार्टी तेलंगाना चुनाव पर ध्यान केंद्रित नहीं कर सकती।

नायडू ने उनसे तेलंगाना में पार्टी नेताओं को उन परिस्थितियों के बारे में बताने को कहा, जिनके कारण पार्टी को चुनाव से दूर रहना पड़ा।

पूर्व मुख्यमंत्री को अपराध जांच विभाग (सीआईडी) ने 9 सितंबर को करोड़ों रुपये के कौशल विकास घोटाले में गिरफ्तार किया था। तब से वह न्यायिक हिरासत में हैं और सीआईडी दो अन्य मामलों में उनकी कथित संलिप्तता की भी जांच कर रही है।

नायडू का परिवार और टीडीपी इस समय विभिन्न अदालतों में कानूनी लड़ाई में व्यस्त हैं।

टीडीपी विधायक और अभिनेता एन. बालकृष्ण ने हाल ही में हैदराबाद में टीडीपी नेताओं के साथ बैठक की थी और उन्हें चुनाव के लिए तैयार रहने को कहा था। बालकृष्ण, जो नायडू के बहनोई हैं, ने कहा था कि टीडीपी तेलंगाना में पूरी ताकत से चुनाव लड़ेगी।

कसानी ज्ञानेश्वर ने पहले भी कहा था कि टीडीपी तेलंगाना में सीमित संख्या में सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

चंद्रबाबू नायडू ने पिछले साल दिसंबर में खम्मम में एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित किया था। उन्होंने भरोसा जताया था कि पार्टी तेलंगाना में फिर से अपना गौरव हासिल करेगी।

2018 विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद तेलंगाना में टीडीपी की यह पहली बैठक थी।

टीडीपी ने 2018 में तेलंगाना में कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ा था। पार्टी केवल दो सीटें जीत सकी और दोनों विधायक बाद में सत्तारूढ़ टीआरएस (अब बीआरएस) में शामिल हो गए।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.