logo-image

कोलकाता के अस्पताल ने ईडी को सुजय भद्र की आवाज के नमूना परीक्षण की अनुमति नहीं दी

कोलकाता के अस्पताल ने ईडी को सुजय भद्र की आवाज के नमूना परीक्षण की अनुमति नहीं दी

Updated on: 26 Oct 2023, 09:15 PM

कोलकाता:

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को गुरुवार को राज्य सरकार द्वारा संचालित एस.एस.के.एम. मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल से खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। अस्‍पताल ने केंद्रीय एजेंसी को पश्चिम बंगाल में कथित तौर पर करोड़ों रुपये के स्कूल भर्ती घोटाला मामले के मुख्य आरोपी सुजय कृष्ण भद्र की आवाज का नमूना परीक्षण करने की अनुमति नहीं दी।

ईडी अधिकारियों की एक टीम भद्र की आवाज का नमूना परीक्षण करने के इरादे से अस्पताल पहुंची, लेकिन अस्पताल की मेडिकल टीम ने इसके लिए अनुमति देने से इनकार कर दिया।

हाल ही में, ईडी ने भद्र की आवाज का नमूना परीक्षण करने के लिए कोलकाता की एक विशेष पीएमएलए अदालत से अनुमति प्राप्त की थी।

सूत्रों के अनुसार, एस.एस.के.एम. अस्‍पताल की मेडिकल टीम ने इस आधार पर अनुमति देने से इनकार कर दिया गया कि भद्र वॉयस सैंपल परीक्षण का तनाव सहन करने की स्थिति में नहीं हैं। भद्र को हाल ही में गहन चिकित्सा इकाई से अस्पताल के कार्डियोलॉजी विभाग के तहत एक केबिन में स्थानांतरित किया गया है।

याद दिला दें कि विशेष अदालत ने ईडी को पहली बार जुलाई में भद्र की आवाज का नमूना परीक्षण करने की अनुमति दी थी, जब केंद्रीय एजेंसी ने अदालत में एक ऑडियो क्लिप पेश किया था जिसमें भद्र को कथित तौर पर किसी को अपने मोबाइल से डेटा मिटाने का निर्देश देते हुए सुना जा सकता था।

हालाँकि, आवाज का नमूना तब नहीं लिया जा सका क्योंकि भद्रा को दिल की बीमारी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिसके बाद उनकी बाईपास सर्जरी हुई थी।

स्कूल भर्ती घोटाले की जांच 31 दिसंबर तक खत्म करने के हाई कोर्ट के निर्देश के बाद आवाज का नमूना परीक्षण अब जरूरी हो गया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.