logo-image

पाकिस्तान जिंदाबाद नारा विवाद : कर्नाटक भाजपा ने राज्यसभा सांसद नसीर हुसैन के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई

पाकिस्तान जिंदाबाद नारा विवाद : कर्नाटक भाजपा ने राज्यसभा सांसद नसीर हुसैन के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई

Updated on: 28 Feb 2024, 12:50 AM

बेंगलुरु:

कर्नाटक भाजपा ने मंगलवार देर रात राज्यसभा सांसद नसीर हुसैन के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसमें कांग्रेस नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की गई, क्योंकि आरोप लगा कि उनके समर्थकों ने राज्यसभा चुनाव में उनकी जीत का जश्‍न मनाते हुए विधानसभा परिसर में कथित तौर पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे।

भाजपा एमएलसी एन. रविकुमार और पार्टी विधायक व मुख्य सचेतक डोड्डानगौड़ा पाटिल ने हुसैन और उनके समर्थकों के खिलाफ विधान सौध पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई।

कहा गया है, “विधान सौध में 27 फरवरी को हुए राज्यसभा चुनाव के बाद नसीर हुसैन और उनके कई समर्थक शाम को मतगणना क्षेत्र के पास एकत्र हुए थे। पता चला कि शाम करीब 7 बजे रिटर्निंग ऑफिसर ने घोषणा की कि नसीर हुसैन विधिवत निर्वाचित हो गए हैं।“

इसके बाद कांग्रेस नेता के कहने पर नसीर हुसैन के समर्थकों ने अचानक अपने नेता की जय-जयकार करते हुए जोर-जोर से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। ऐसा लग रहा था, जैसे नसीर हुसैन के ये समर्थक नसीर हुसैन के राज्यसभा के लिए चुने जाने पर पाकिस्तान की तारीफ कर रहे हों।“

ऐसा नारा राष्ट्रीय सम्मान का खुला अपमान है और भारत की अखंडता और संप्रभुता के खिलाफ अपराध है। यह बयान आईपीसी की धारा 505 के तहत सार्वजनिक शरारत के लिए अनुकूल है, क्योंकि इसका उद्देश्य डर पैदा करना और सरकार के खिलाफ नफरत भड़काना है।

शिकायत में आगे कहा गया है, यह कृत्य राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम, 1971 के तहत भी दंडित किया जा सकता है। अधिनियम की धारा 2 के तहत, जो कोई भी भारतीय राष्ट्रीय ध्वज या भारत के संविधान का अनादर करेगा, उसे अधिकतम तीन साल कारावास की सजा दी जाएगी।

इस बीच, नसीर हुसैन ने कहा है कि उनके समर्थकों ने नसीर हुसैन जिंदाबाद का नारा लगाया था, न कि वह जो मीडिया का एक वर्ग दावा कर रहा है।

उन्होंने कहा, जांच होने दीजिए। आज के समय में तकनीक काफी उन्नत है...यह एक साजिश हो सकती है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.