logo-image
लोकसभा चुनाव

चुनाव प्रचार के लिए स्कूली बच्चों का इस्तेमाल करने पर महबूबा मुफ्ती के खिलाफ कार्रवाई शुरू

चुनाव प्रचार के लिए स्कूली बच्चों का इस्तेमाल करने पर महबूबा मुफ्ती के खिलाफ कार्रवाई शुरू

Updated on: 26 Apr 2024, 11:05 PM

श्रीनगर:

एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने शुक्रवार को एक्स पर एक रिपोर्ट का संज्ञान लिया, जिसमें पीडीपी अध्यक्ष और अनंतनाग-राजौरी लोकसभा सीट से उम्मीदवार महबूबा मुफ्ती पर चुनाव प्रचार के लिए स्कूली बच्चों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया गया था।

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार को लिखे एक पत्र में एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो ने कहा कि बाल अधिकार पैनल ने मामले का स्वत: संज्ञान लिया है और उसके खिलाफ उचित कार्रवाई के लिए चुनाव आयोग को सूचित कर रहा है।

महबूबा मुफ्ती अनंतनाग-राजौरी लोकसभा सीट से पीडीपी की उम्मीदवार हैं। उनके मुख्य प्रतिद्वंद्वी एनसी के मियां अल्ताफ अहमद और जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के जफर इकबाल मन्हास हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र में लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 7 मई को मतदान होना है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.