logo-image

भारतीय मूल के पूर्व पुलिसकर्मी को अनुचित व्यवहार के कारण पुलिस में काम करने से रोका गया

भारतीय मूल के पूर्व पुलिसकर्मी को अनुचित व्यवहार के कारण पुलिस में काम करने से रोका गया

Updated on: 28 Oct 2023, 12:00 PM

लंदन:

ब्रिटेन में कदाचार की सुनवाई के बाद भारतीय मूल के एक पूर्व पुलिसकर्मी को पुलिसिंग से रोक दिया गया। इसमें पाया गया कि उसने 2021 में ड्यूटी के दौरान एक महिला को गलत तरीके से छूकर व्यवहार के पेशेवर मानकों का उल्लंघन किया है।

मेट्रोपॉलिटन पुलिस के वेस्ट एरिया कमांड के सार्जेंट अनीश शर्मा के मामले में शुक्रवार को सुनवाई हुुई।

30 जुलाई, 2021 को शर्मा ने टेम्स वैली क्षेत्र में एक पार्टी में भाग लिया।

मेट पुलिस के बयान में कहा गया है कि बगीचे में रहते हुए, उसने एक महिला की जांघ पर हाथ रखकर उसकी सहमति के बिना उसे अनुचित तरीके से छुआ।

घटना के एक दिन बाद, शर्मा को टेम्स वैली पुलिस के अधिकारियों ने छूने से यौन उत्पीड़न के संदेह में गिरफ्तार कर लिया और उन्हें ड्यूटी से निलंबित कर दिया गया।

3 अप्रैल, 2023 को शर्मा ने मेट से इस्तीफा दे दिया।

इस साल 12 जुलाई को शुरू हुई सुनवाई में पाया गया कि शर्मा ने ईमानदारी, निष्ठा, अपमानजनक आचरण, समानता और विविधता, अधिकार, सम्मान व शिष्टाचार के संबंध में व्यवहार के पेशेवर मानकों का उल्लंघन किया।

यह भी पाया गया कि अगर शर्मा अभी भी पद पर होते तो उन्हें बिना किसी नोटिस के बर्खास्त कर दिया गया होता।

पुलिसिंग के प्रभारी मुख्य अधीक्षक सीन विल्सन ने कहा, शर्मा की हरकतें भयावह और कायरतापूर्ण थीं।

विल्सन ने एक बयान में कहा, उसने खुद को ऐसे व्यक्ति के रूप में दिखाया है, जो हमारे अधिकारियों और कर्मचारियों से अपेक्षित मानकों से काफी नीचे है, और पैनल ने यह सही निर्णय लिया है कि वह कभी भी पुलिसिंग में काम नहीं करेगा।

अब शर्मा को पुलिस, स्थानीय पुलिस निकायों, अग्निशमन और बचाव सेवाओं में काम पर नहीं रखा जा सकता।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.