logo-image

बंगाल में कांग्रेस से अलग हुए कौस्तव बागची भाजपा में शामिल

बंगाल में कांग्रेस से अलग हुए कौस्तव बागची भाजपा में शामिल

Updated on: 29 Feb 2024, 09:05 PM

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कौस्तव बागची ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। गुरुवार शाम बागची आधिकारिक तौर पर भाजपा में शामिल हो गए।

कौस्तव बागची का पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख सुकांत मजूमदार की मौजूदगी में भाजपा में स्वागत किया।

कौस्तव बागची ने कहा कि जब तक आपको लोगों के लिए काम करने का मौका नहीं मिलता तब तक राजनीतिक करियर बनाने का कोई मतलब नहीं है। पश्चिम बंगाल में कांग्रेस की प्रासंगिकता खत्म हो गई है। संदेशखाली में घटी घटना पर पार्टी आलाकमान ने पूरी तरह चुप्पी साध ली।

कौस्तव बागची ने भाजपा में शामिल होने के बाद पत्रकारों से कहा, ऐसा लगता है कि कांग्रेस नेतृत्व तृणमूल कांग्रेस के प्रति नरम रुख अपना रहा है। ऐसे में अब पार्टी में बने रहने का कोई मतलब नहीं है।

कौस्तव बागची ने दावा किया, संदेशखाली मुद्दे पर पार्टी आलाकमान की चुप्पी को लेकर राज्य कांग्रेस के भीतर शिकायतें बढ़ रही हैं। मेरे लिए कांग्रेस में रहना आत्मसम्मान से समझौता करने के अलावा कुछ नहीं था।

कौस्तव बागची और कांग्रेस आलाकमान के बीच मतभेद तब से सामने आए, जब पार्टी नेतृत्व ने सीएम ममता बनर्जी के साथ गठबंधन की बातचीत शुरू की थी। कैस्तव बागची कई बार तृणमूल के साथ गठबंधन की बातचीत के खिलाफ मुखर रहे हैं।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.