logo-image

बंगाल राशन वितरण घोटाला : ईडी ने गिरफ्तार कारोबारी की 100 करोड़ से अधिक की संपत्ति का पता लगाया

बंगाल राशन वितरण घोटाला : ईडी ने गिरफ्तार कारोबारी की 100 करोड़ से अधिक की संपत्ति का पता लगाया

Updated on: 25 Oct 2023, 03:50 PM

कोलकाता:

ईडी के अधिकारियों ने पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के राशन वितरण घोटाले के सिलसिले में हाल ही में गिरफ्तार किए गए कोलकाता के व्यवसायी बकीबुर रहमान की 100 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति का पता लगाया है।

एजेंसी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि रहमान, उनके परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों और करीबी सहयोगियों के नाम पर पंजीकृत कुल 95 संपत्तियों का ईडी के अधिकारियों ने पता लगाया है। इन संपत्तियों का संयुक्त मूल्य 100 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।

जांच से यह भी पता चला है कि जो संपत्तियां परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों और करीबी सहयोगियों के नाम पर पंजीकृत थी, उसके पीछे वास्तविक निवेश रहमान ने ही किया था।

हालांकि, सूत्रों ने कहा है कि रहमान ने अभी तक ऐसी संपत्तियों और परिसंपत्तियों के पीछे निवेश किए गए धन के स्रोतों के बारे में कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया है।

संपत्तियों और परिसंपत्तियों में राज्य के विभिन्न हिस्सों में फैले कई भूखंडों में लगभग 51 एकड़ जमीन शामिल है और जिनमें से अधिकांश मुर्शिदाबाद और उत्तर 24 परगना जिले में हैं। संपत्ति में रहमान के नाम पर पंजीकृत कुल 7,000 वर्ग फुट के नौ आवासीय फ्लैट भी शामिल हैं।

इसके अलावा, केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों ने रहमान के स्वामित्व वाले एक होटल, एक हाई-एंड बार-कम-रेस्तरां और तीन चावल-मिलों का भी पता लगाया है। इसके अलावा ईडी ने दुबई में दो हाई-एंड आवासीय फ्लैटों का भी पता लगाया है जो रहमान के नाम पर पंजीकृत हैं।

ईडी के अधिकारियों को इस बात के पक्के सबूत मिले हैं कि कारोबारी ने इन विदेशी संपत्तियों को खरीदने के लिए हवाला का रास्ता अपनाया था। हालांकि ये वे संपत्तियां हैं जो सामने आई हैं, ईडी के अधिकारियों का मानना है कि और भी ऐसी संपत्तियां हैं जो अभी सामने आनी बाकी हैं।

केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों को इस बात के भी सुराग मिले हैं कि रहमान आय को इधर-उधर करने के लिए अपनी पत्नी और साले के बैंक खातों का इस्तेमाल कर रहा है। जांच अधिकारियों ने इन खातों से बेहद कम अंतराल में कई इनवर्ड और आउटवर्ड धन का पता लगाया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.