logo-image

गूगल ने दिया 4 भारतीय कंपनियों को नोटिस, आईएएमएआई ने डीलिस्ट न करने की अपील की

गूगल ने दिया 4 भारतीय कंपनियों को नोटिस, आईएएमएआई ने डीलिस्ट न करने की अपील की

Updated on: 01 Mar 2024, 06:10 PM

नई दिल्ली:

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) ने शुक्रवार को गूगल को सलाह दी कि वह भारतीय कंपनियों से संबंधित किसी भी ऐप को प्ले स्टोर से डीलिस्ट न करे। चार घरेलू कंपनियों को टेक दिग्गज से नोटिस मिला है।

उद्योग संस्था की यह प्रतिक्रिया गूगल के इस बयान के बाद आई है कि कम से कम 10 कंपनियों ने, जिनमें कई बड़ी कंपनी शामिल हैं, अदालत से अंतरिम सुरक्षा प्राप्त कर गूगल प्ले स्टोर पर प्राप्त होने वाले महत्वपूर्ण वैल्यू के लिए भुगतान नहीं किया है। गूगल ने कहा कि वह नई नीति के तहत इन कंपनियों को गूगल प्ले स्टोर से हटाने की तैयारी में है।

एक बयान में कहा गया, आईएएमएआई यह पुष्टि करता है कि उसके कम से कम चार सदस्यों को गूगल से नोटिस मिला है।

इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने कहा, आईएएमएआई के प्रभावित सदस्यों का विचार है कि मामले की एक ठोस सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। गूगल को मामले की लंबित अवधि के दौरान कोई कठोर कार्रवाई नहीं करनी चाहिए, इसमें भारतीय और बहुराष्ट्रीय निगमों (कॉर्पोरेशन) के साथ-साथ स्टार्ट-अप भी शामिल हैं।

इससे पहले दिन में गूगल ने कहा था कि भारत में डेवलपर्स को तैयारी के लिए तीन साल से अधिक का समय देने के बाद, (जिसमें सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद के तीन सप्ताह भी शामिल हैं) यह सुनिश्चित करने के लिए जरूरी उपाय कर रहा है कि हमारी नीतियां पूरे पारिस्थितिकी तंत्र में लगातार लागू हों, जैसा कि हम विश्व स्तर पर किसी भी प्रकार के नीति उल्लंघन के लिए करते हैं।

कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि जरूरत पड़ने पर उसकी नीति को लागू करने में गूगल प्ले से गैर-अनुपालन वाले ऐप्स को हटाना शामिल हो सकता है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.