News Nation Logo
Banner

Corona डेल्टा वेरिएंट हो रहा और खतरनाक, WHO की चेतावनी

पहले भारत (India) में पाया गया तेजी से फैलने वाला ये वेरिएंट अब 132 देशों और क्षेत्रों में सामने आया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 31 Jul 2021, 09:49:24 AM
WHO

कई देशों में डेल्टा वेरिएंट बना कोरोना की चौथी लहर का कारण. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • डेल्टा वेरिएंट अब 132 देशों और क्षेत्रों में सामने आया
  • पिछले चार हफ्तों में औसत संक्रमण 80 प्रतिशत बढ़ा
  • मध्य-पूर्व देशों में कोरोना ने चौथी लहर का रूप लिया

वॉशिंगटन:

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोविड-19 (COVID-19) के डेल्टा वेरिएंट को लेकर दुनिया को फिर से चेताया है. डब्ल्यूएचओ का कहना है कि इससे पहले कि यह और भी खतरनाक हो जाए, इसे कम करना होगा. संस्था ने आगाह किया है कि पहले भारत (India) में पाया गया तेजी से फैलने वाला ये वेरिएंट अब 132 देशों और क्षेत्रों में सामने आया है. डब्ल्यूएचओ प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रियस ने दो टूक लहजे में कहा है कि अब तक गंभीर चिंता देने वाले कोरोना के चार वेरिएंट सामने आए हैं. जब तक वायरस फैलता रहेगा तब तक और भी वेरिएंट सामने आते रहेंगे. स्थिति की गंभीरता का अंदाजा ऐसे लगा सकते हैं कि डब्ल्यूएचओ के छह क्षेत्रों में से पांच में पिछले चार हफ्तों में औसत संक्रमण 80 प्रतिशत बढ़ा है.

कहीं प्रभावी ढंग से करने होंगे बचने के उपाय
डब्ल्यूएचओ के आपात निदेशक माइकल रयान ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'डेल्टा एक चेतावनी है: यह एक चेतावनी है कि वायरस विकसित हो रहा है, लेकिन यह एक कॉल टू एक्शन है जिसे हमें और अधिक खतरनाक वेरिएंट के सामने आने से पहले समझना होगा.' रयान ने कहा कि हालांकि डेल्टा ने कई देशों को हिला दिया है लेकिन ट्रांसमिशन को नियंत्रण में लाने के लिए सिद्ध उपाय अभी भी काम कर रहे हैं. विशेष रूप से सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनना, हाथों की सफाई आदि. उन्होंने कहा वायरस फिटर हो गया है, वायरस तेज हो गया है. गेम प्लान अभी भी काम करता है, लेकिन हमें अपने गेम प्लान को पहले से कहीं अधिक कुशलता से और अधिक प्रभावी ढंग से लागू करने की आवश्यकता है.

यह भी पढ़ेंः विपक्ष के हंगामे से पहले ही खत्म हो सकता है संसद का मॉनसून सत्र

कोरोना की चौथी लहर का कारण बन रहा डेल्टा
बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामले एक ओर जहां भारत में तीसरी लहर की दस्तक के संकेत दे रहे हैं, वहीं दुनिया के कई देशों में डेल्टा कोरोना की चौथी लहर का कारण बनता जा रहा है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि कोरोना के डेल्टा वेरिएंट ने मिडिल ईस्ट यानी मध्य-पूर्व के देशों में चौथी लहर का रूप ले लिया है और वहां कोरोना वायरस के मामलें में तेज वृद्धि की है. बता दें कि मिडिल ईस्ट के देशों में टीकाकरण दर काफी कम है. वैश्विक स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक पूर्वी भूमध्य क्षेत्र के देशों में डेल्टा वेरिएंट की वजह से कोरोना के मामलों में वृद्धि हो रही है और यह वेरिएंट कोरोना से मौतों को बढ़ावा दे रहा है. कोरोना की चौथी लहर को लेकर इलाके के 22 देशों में से अब तक 15 में से रिपोर्ट किया जा रहा है. 

First Published : 31 Jul 2021, 09:47:22 AM

For all the Latest Health News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.